script एक दिन में कोविड वैक्सीन की रिकॉर्ड 85 लाख डोज लगाए गए, जुलाई में 20-22 करोड़ खुराक उपलब्ध कराने का लक्ष्य | Record 85 lakh Covid Vaccine Doses Administered In A Day, Target To Providing 20-22 crore Doses In July | Patrika News

एक दिन में कोविड वैक्सीन की रिकॉर्ड 85 लाख डोज लगाए गए, जुलाई में 20-22 करोड़ खुराक उपलब्ध कराने का लक्ष्य

locationनई दिल्लीPublished: Jun 22, 2021 03:36:27 pm

Submitted by:

Anil Kumar

केंद्र सरकार ने साफ तौर पर कहा कि आने वाले दिनों में वैक्सीन की आपूर्ति को लेकर कोई समस्या उत्पन्न नहीं होगी क्योंकि अगले महीने करीब 20-22 करोड़ खुराक उपलब्ध होगी।

covid_vaccine.jpg
Record 85 lakh Covid Vaccine Doses Administered In A Day, Target To Providing 20-22 crore Doses In July

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के दूसरी लहर की रफ्तार धीमी पड़ चुकी है। लेकिन तमाम स्वास्थ्य विशेषज्ञ और डॉक्टर्स लगातार तीसरी लहर की संभावनाओं को लेकर चेतावनी जारी कर रहे हैं। ऐसे में केंद्र सरकार कोरोना की संभावित तीसरी लहर से पहले अधिक से अधिक लोगों को टीका लगाने की कोशिश कर रही है।

इसी को ध्यान में रखते हुए 21 जून से देशभर में महाटीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है। इस अभियान के तहत 18+ आयुवर्ग के लोगों को मुफ्त में टीका लगाया जा रहा है। केंद्र सरकार राज्यों को फ्री में वैक्सीन उपलब्ध करा रही है। लेकिन इन सबके बीच वैक्सीन की कमी को लेकर विपक्ष सरकार पर सवाल उठा रही है।

यह भी पढ़ें
-

16 राज्यों को भेजी गई कोवैक्सिन, कोविड टीकाकरण अभियान में आएगी तेजी

विपक्ष का आरोप है कि सरकार आवश्यकता के अनुरुप वैक्सीन उपलब्ध नहीं करा रही है, जिसके कारण टीकाकरणअभियान प्रभावित हो रही है। हालांकि, अब सरकार ने कहा है कि हमारे पास वैक्सीन की कमी नहीं है।

मंगलवार को केंद्र सरकार ने साफ तौर पर कहा कि आने वाले दिनों में वैक्सीन की आपूर्ति को लेकर कोई समस्या उत्पन्न नहीं होगी क्योंकि अगले महीने करीब 20-22 करोड़ खुराक उपलब्ध होगी।

एक दिन में रिकॉर्ड 85 लाख डोज लगाई गई

21 जून (सोमवार) से शुरू हुए महाटीकाकरण अभियान के पहले दिन रिकॉर्ड स्तर पर लोगों को टीका लगाया गया। भारत में टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) के अध्यक्ष डॉ एन.के.अरोड़ा ने बताया कि नई टीकाकरण नीति के तहत सोमवार मध्यरात्रि तक देश भर में रिकॉर्ड 85 लाख डोज दिए गए हैं।

बता दें कि नई टीकाकरण नीति के तहत 18 वर्ष से अधिक की आबादी को मुफ्त में टीका उपलब्ध कराने के लिए केंद्र सरकार 75 प्रतिशत वैक्सीन घरेलू कंपनियों से खरीदेगी और राज्यों को फ्री में उपलब्ध कराएगी।

प्रतिदिन एक करोड़ डोज लगाने का लक्ष्य

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के बयान के हवाले से सोमवार को प्राप्त की गई खुराक को बड़ी उपलब्धि के रूप में देखते हुए अरोड़ा ने कहा, "हमारा लक्ष्य हर दिन कम से कम एक करोड़ लोगों का टीकाकरण करना है। हमारी क्षमता कुछ ऐसी है कि हम हर दिन कोविड-19 वैक्सीन की 1.25 करोड़ खुराक आसानी से दे पाएंगे। निजी क्षेत्र से प्राप्त समर्थन के मद्देनजर विशेष रूप से इस लक्ष्य को हासिल किया जा सका और संशोधित दिशानिर्देशों के लागू होने के पहले ही दिन यह साबित हो गया।"

यह भी पढ़ें
-

पीएम मोदी ने की COVID-19 टीकाकरण अभियान की समीक्षा, कहा- वैक्सीन की बर्बादी न करें

एनटीएजीआई अध्यक्ष ने आश्वासन दिया कि टीके की उपलब्धता को लेकर अब कोई समस्या नहीं होगी। उन्होंने कहा, हमारे पास अगले महीने लगभग 20-22 करोड़ खुराक होंगे।

अरोड़ा ने यह भी आश्वासन दिया कि स्वास्थ्य संबंधी व्यवस्थाएं अच्छे से कर ली गई हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि टीकाकरण अभियान पहाड़ी, आदिवासी और बहुत कम आबादी वाले क्षेत्रों सहित देश के हर कोने तक पहुंचे। मालूम हो के केंद्र सरकार ने इस साल के अंत तक सभी लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा है।

ट्रेंडिंग वीडियो