Lockdown में हवाई यात्रा कल से शुरू, IGI Airport पर COVID-19 संक्रमण रोकने के सख्त उपाय

  • दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के सीईओ ने दी उपायों की जानकारी।
  • हवाई अड्डे के प्रवेश द्वार, चेक इन काउंटर आदि पर नई तकनीकों का इस्तेमाल।
  • यात्रियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग, सैनेटाइजेशन, प्रोटेक्शन पर रहेगा पूरा जोर।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन 4.0 के बीच सोमवार 25 मई से घरेलू उड़ानें शुरू की जा रही हैं। इसे देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे ( IGI Airport ) ने स्वस्थ एवं सुरक्षित हवाई यात्रा को बढ़ावा देने के लिए बोर्डिंग और बस गेट्स पर बैग इत्यादि को साफ करने के लिए UV टेक्नोलॉजी जैसे तमाम उपाय अपनाए है।

कल से शुरू होने वाली विमान यात्रा के लिए Aarogya Setu जरूरी, इन राज्यों में उतरते ही क्वारंटाइन होंगे मुसाफिर

दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ( DIAL ) ने कहा है कि घरेलू उड़ान संचालन 25 मई से शुरू हगा। COVID-19 महामारी के कारण विमान सेवाएं तकरीबन दो महीने के लिए निलंबित थीं। DIAL के मुताबिक हवाई अड्डे पर प्रवेश द्वार और चेक-इन जैसे स्थानों पर यात्रियों के लिए स्वचालित हैंड सैनेटाइजर मशीन, फ्लोर मार्कर सहित कई उपायों को लागू किया गया है।

ये नई मशीनें और प्रोटोकॉल सोशल डिस्टेंसिंग के मानदंडों के अनुपालन और हवाई अड्डे पर मानव संपर्क को कम करने के लिए डिजाइन किए गए हैं। DIAL के सीईओ विदेह कुमार जयपुरियार ने कहा कि यात्रियों को उनकी सुविधा और अनुभव से समझौता किए बिना सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हवाई अड्डे पर कई अनूठी पहल की गई हैं। यात्रियों के बीच कम से कम संपर्क हो, इसके लिए पूरे उपाय अपनाए जा रहे हैं।

दिल्ली सरकार ने कहा कोरोना वायरस से 194 की मौत हुई, जबकि श्मसान-कब्रगाह में करीब 600 मरीजों के शव पहुंचे

उन्होंने कहा कि हवाई अड्डे की टीमों ने हाईजीन प्रदान करने के लिए विशालकाय टर्मिनल को साफ करने के लिए चौबीसों घंटे काम किया है। राष्ट्रीय स्तर पर लॉकडाउन होने के बाद भी IGI हवाई अड्डे ने देश भर में प्रमुख चिकित्सा आपूर्ति बहाल करने और विदेशों से भारतीयों को निकालने में खास योगदान दिया है। हवाई अड्डा इस संकट की घड़ी में भी सामान्य यात्री सेवाओं को छोड़कर अन्य आवश्यक सेवाओं में व्यस्त रहा है।

हालांकि एयरलाइनों को 25 मई से मेट्रो शहरों और अन्य गंतव्यों के बीच संचालन के लिए सीमित संख्या में यात्री उड़ान सेवाएं संचालित करने की अनुमति है। इस दौरान महज एक तिहाई उड़ानों का ही संचालन होगा। इसके बाद आने वाले समय में इस क्षमता को बढ़ाया जा सकता है।

भारतीय रेलवे ने यात्रियों को दिया बड़ा झटका, सभी टिकटें कर दीं कैंसल

COVID-19 के प्रकोप के मद्देनजर राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू करने के कारण 25 मार्च से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों यात्री उड़ानों के लिए यात्री हवाई सेवाओं को निलंबित कर दिया गया था।

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned