बैन के बाद Tik Tok स्टार्स के फैन्स हुए कम, टैलेंट नहीं ऐप हुआ बंद

  • Border Dispute की वजह से भारत में टिक टोक के दरवाजे बंद।
  • वैकल्पिक प्लेटफॉर्म की तलाश में जुटे Tik Tok स्टार्स।
  • Fans base को बनाए रखने के लिए कई स्टार्स Instagram पर पहुंचे।

नई दिल्ली। भारत चीन सीमा विवाद ( India-China Border Dispute ) के बीच टिक टोक ( Tik Tok ) को बंद करने के फैसले का असर दिखाई देने लगा है। केंद्र सरकार ने टिक टोक सहित 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध की घोषणा के बाद से अधिकांश के फैन्स अचानक कम हो गए हैं। लेकिन इससे टिक टोक स्टार्स का उत्साह कम नहीं हुआ है।

टिक टोक स्टार्स का कहना है कि ऐप पर प्रतिबंध का मामला देशहित ( National Interest ) से जुड़ा है। हमारे लिए इससे राष्ट्रीय से कोई बड़ी चीज नहीं है। फिर टिक टोक बंद हुआ है, न कि टैलेंट ( Tik Tok ban not Talent ) । आपके पास टैलेंट है तो आप किसी भी प्लेटफॉर्म पर छा सकते हैं।

सरकार के फैसले का समर्थन

उत्तराखंड रुद्रपुर से लेकर दिल्ली और मुंबई के मेट्रो शहरों तक के करीब 20 लाख लोगों से जुड़े टिक टोक स्टार्स और संगीतकार मुजीब खान टिक टोक बंद होने से पहले लाइव हुए अपनी बात बात फैन्स के सामने रखी।

उन्होंने टिक टोक पर अपने अंतिम लाइव में फैन्स से कहा कि यह मुद्दा भारत का चीन के साथ सीमा विवाद से जुड़ा है। इसलिए वह सरकार के इस कदम का समर्थन ( Support Government ) करते हैं। हमारे लिए भारतीयता ( Indianity ) से बढ़कर कुछ भी नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने अपने प्रशंसकों से इंस्टाग्राम पर साथ बने रहने की अपील की।

प्रतिबंधों की काट में जुटा चीन, सिंगापुर और हांगकांग के जरिए कर सकता है भारत में निवेश

टिक टोक ने म्यूजिक शो में कराई वापसी

हिट गानों के कवर संस्करण बनाने के शौकीन मुजीब खान 2018 में टिक-टोक प्लेटफॉर्म ( Tik Tok Plateform ) से जुड़े थे। उन्हें शुरुआत में बहुत प्रतिक्रिया नहीं मिली, लेकिन फिर उन्होंने भतीजी के साथ एक वीडियो पोस्ट किया जिसे एक मिलियन से अधिक बार देखा गया। चाचा-भतीजी की जोड़ी जल्द ही एक हिट जोड़ी बन गई। इस वीडियो को उन्होंने #अचूकमायरा के साथ वीडियो डाला था। उन्होंने कहा कि टिक टोक ने लाखों रचनाधर्मियों को एक अच्छा और प्रभावी मंच दिया।

2019 में मुंबई में एक निर्माता ने उन्हें स्टूडियो में टिक-टोक ने उन्हें आमंत्रित किया था। मुझे यह जानकर आश्चर्य हुआ कि इतने सारे शीर्ष रचनाकार मुझे जानते थे। लोग शहर में मेरी तस्वीरें लेते थे। टिकटोक ने खान को ब्रांड शो ( Brand show ) के अलावा संगीत शो और घर वापसी कराने में भी मदद की।

टीक टोक ने भारत के छोटे शहरों से लेकर महानगरों व यहां तक कि गांवों के भी कई युवाओं को स्टार बनाया। इनमें से रियाल अलाय के 43 मिललियन फैन्स हैं। वह भारत-भूटान सीमा पर पश्चिम बंगाल का एक कस्बा जयगांव के निवासी हैं। अब वो मुंबई में रहते हैं। आज वह एक फैशन आइकन ( Fashion Icon ) है और अपने डांस मूव्स और संगीत वीडियो के लिए जाने जाते हैं।

औरंगाबाद के पोखरी गांव के एक अन्य टिक टॉक स्टार 30 वर्षीय किशोर बरगल कपास और मक्का किसान हैं। बरगल का कहना है कि वह इस मंच पर दो साल से खेती-किसानी, मराठी और बॉलीवुड गानों को लेकर डांस वीडियो पोस्ट करते आए हैं।

Delhi-NCR में कोरोना का कहर जारी, संक्रमितों की संख्या 1 लाख के पार

Global Trend को पिक करने में मिली मदद

प्रबंधन कंपनी सेलबिस्टन चलाने वाले प्रतीक गौड़ का कहना है कि टिक टॉक की वजह से रचनाधर्मी लोगों की संख्या 10 गुना बढ़ी है। इससे ग्लोबल ट्रेंड को भी पिक करने में मदद मिली है। टिक टॉक ने युवाओं को नई भाषाएं, संगीत और नृत्य के रूप सीखने को मिले। मेरे प्रत्येक शीर्ष रचनाकार पर प्रति वीडियो लगभग 2.5-3 लाख रुपये का खर्च आता है, और वह महीने में लगभग 50 लाख रुपए कमाते हैं।

देखते हैं भविष्य हमें कहां ले जाती है

टिक टोक के सबसे लोकप्रिय रचनाकारों में से एक अदनान शेख कहते हैं कि नृत्य, अभिनय और मॉडलिंग से उन्हें प्यार है। अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने का एक आउटलेट मिला। धारावी निवासी और मुंबई के रिजवी कॉलेज के स्नातक शेख के ऐप पर 13 मिलियन से अधिक अनुयायी हैं। पिछले दो वर्षों में उन्होंने बॉलीवुड के नाम जैसे कि आलिया भट्ट, रणवीर सिंह, वरुण धवन, शान सहित अन्य के साथ मंच शेयर किया है।

23 साल के शेख का कहना है कि मेरे जैसे बहुत से लोग जिनका मनोरंजन उद्योग में कोई संबंध नहीं है उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच मिला है।

शेख कहते हैं कि वह अब इंस्टाग्राम और फेसबुक पर ध्यान केंद्रित करेंगे। जबकि एक अन्य निर्माता-अनुकूल ऐप की प्रतीक्षा करेंगे। हर स्टार, ट्रेंड और ऐप की एक एक्सपायरी डेट होती है। फिर भी हम Tik Tok के आभारी हैं। आइए देखें कि भविष्य हमें कहां ले जाता है

अफसोस : पुणे में बेटी पैदा होने पर पिता ने अस्पताल में मचाया हंगामा, पत्नी को दी इस बात की धमकी

गूगल और एप्पल से डाउनलोड सुविधा समाप्त

बता दें कि मंगलवार शाम 6 बजे Tik Tok भारत में निष्क्रिय हो गया। इसे अब Google और Apple स्टोर्स से डाउनलोड नहीं किया जा सकता है। लेकिन पेप्सी, प्यूमा, क्लीन एंड क्लियर, फ्लिपकार्ट और मिंत्रा जैसे बड़े ब्रांड भी हैशटैग प्रमोशन, जोरदार आउटरीच और होम स्क्रीन विज्ञापनों के माध्यम से ऐप पर इस तरह का अभियान चलाते हैं। इस बात की संभावना जताई जा रही है कि टिक टोक बंद होने का लाभ इन प्लेटफॉर्मों को मिल सकता है।

Show More
Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned