मौसम अपडेटः दिल्ली-एनसीआर में बारिश से लुढ़का पारा, हरियाणा में ऑरेंज अलर्ट

  • Weather forecast Delhi NCR में बदला मौसम
  • गुरुवार देर रात से कई इलाकों में हो रही बारिश
  • हरियाणा में ऑरेंज अलर्ट जारी

नई दिल्ली। मौसम के मिजाज ( Weather Forecast ) ने एक बार फिर करवट ली है। भारतीय मौसम विभाग ( IMD ) की ओर से जारी अलर्ट के मुताबिक एक बार फिर दिल्ली-एनसीआर ( Delhi NCR ) में तेज हवाओं के साथ बारिश ने दस्तक दी। इसके साथ ही दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार की सुबह रोज के मुताबिक थोड़ी सर्द रही। कई इलाकों में गुरुवार देर रात से ही बादलों ने बरसना शुरू कर दिया था। हालांकि शाम से ही बादलों की लुका-छुपी ने मौसम को खुशनुमा बना दिया था।

मौसम विभाग की मानें तो फिलहाल एक दो दिन मौसम का मिजाज कुछ ऐसा ही रहेगा। वहीं देशभर की बात करें तो 7 से ज्यादा राज्यों में बारिश की संभावना है। जबकि राजस्थान में ओलावृष्टि हो सकती है।

कोरोना से जंग के बीच दिग्गज अभिनेता ने दिया बड़ा बयान, अपने घर को अस्पताल बनाने की जताई इच्छा

दिल्ली-एनसीआर में मौसम में उतार चढ़ाव जारी है। शुक्रवार की सुबह मौसम में बदलाव आया। गुरुवार रात को मौसम ने एक बार फिर करवट ली। शुक्रवार सुबह तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश हुई।

मौसम विभाग का कहना है कि इस वक्त उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। पश्चिमी विक्षोभ का सबसे ज्यादा असर शुक्रवार को होगा। बारिश की वजह से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है।

हरियाणा में ऑरेंज अलर्ट
पश्चिमी विक्षोभ का सीधा असर हरियाणा में देखने को मिलेगा। मौसम विभाग की मानें तो हरियाणा में शुक्रवार के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

हरियाणा में मौसम लगातार तीसरे दिन गुरुवार को परिवर्तनशील रहा। झज्जर, नारनौल समेत कई जगहों पर हुई बूंदाबांदी ने किसानों की चिंता बढ़ा दी। मौसम केंद्र चंडीगढ़ ने सिरसा, जींद, फतेहाबाद, हिसार, पंचकूला, अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, कैथल और करनाल में शुक्रवार को ओलावृष्टि की चेतावनी (ऑरेंज अलर्ट) जारी की है।

45 किमी की रफ्तार से चलेंगी हवाएं
प्रदेश में 45 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार से आंधी चलने के साथ ही बारिश होने की भी आशंका है। मौसम के परिवर्तनशील रहने से किसानों की कटाई काम रफ्तार नहीं पकड़ रहा है। बदलते मौसम के कारण किसानों की चिंता बढ़ती जा रही है।

दिल्ली की हवा में सुधार
शुक्रवार की सुबह हुई बारिश से दिल्ली की हवा और साफ हो गई है। दिल्ली में इस महीने पहले ही 103.3 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जो मार्च महीने में सबसे अधिक है।

किसानों के लिए मुश्किल
मार्च में हो रही बारिश मैदानी इलाकों में किसानों के लिए मुसीबत बनकर आई है। खेतों में गेहूं की फसल खड़ी है और बारिश से फसल को काफी नुकसान पहले ही हो चुका है। ऐसे में कोरोना के कारण घर में कैद किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

rain forecast
Show More
धीरज शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned