Weather Updates: Delhi-NCR में अगले कुछ घटों में Heavy Rain की संभावना, समूचे भारत में ऐसा रहेगा मौसम का हाल

  • National Capital Delhi समेत पूरे North India में रह-रह कर हो रही Rain
  • देश के पूर्वोत्तर राज्यों में Heavy Rain की वजह से जहां बाढ़ का संकट गहराया

नई दिल्ली। देश में मानसून ( Monsoon 2020 ) पूरी तरह से सक्रिय हो चुका है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत ( Heavy Rain in Delhi-NCR ) में रह-रह कर बारिश हो रही है। वहीं, देश के पूर्वोत्तर राज्यों में घनी बारिश ( Assam Flood ) की वजह से जहां बाढ़ का संकट गहरा गया है, वहीं बिहार में गंडक ( Bihar Flood )और कोसी नदी उफान मार रही है। इसके साथ ही भारतीय मौसम विभाग ( IMD ) ने दिल्ली-एनसीआर ( Rain in Delhi ) में अगले कुछ घंटों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश का अनुमान जताया है। विभाग विभाग के अनुसार हरियाणा के Noah, Farrukhnagar, Sohna, Manesar apart from Noida
और दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के नजफगढ़, Palam में अगले कुछ घंटों के दौरान तेज अंधड़ के साथ बारिश हो सकती है।

Indian Army में महिला अधिकारियों के लिए Permanent Commission शुरू, Modi Government की मंजूरी

वहीं, पूरे देश के मौसम बुलेटन जारी जारी करते हुए मौसम विभाग ने पूर्वोत्त के असम और मेघालय में भारी बारिश की चेतावनी दी। जबकि मिजोरम, पश्चिम बंगाल, मणिपुर, नागालैंड और त्रिपुरा के कई हिस्सों में तेज बारिश की उम्मीद जताई। मौसम विभाग ने इसके साथ ही बिहार, झारखंड, ओड़िसा, पूर्वी उत्तरप्रदेश, पूर्वी राजस्थान, अरुणाचल, महाराष्ट्र, कोंकण, गोवा, मध्यप्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ, तेलांगना, तमिलनाडु, कर्नाटक के कई हिस्सों में झमाझम बारिश का पूर्वानुमान जताया है। यही नहीं बिहार और झारखंड में हल्की या मध्यम बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने यहां आकाशीय बिजली गिरने की भी चेतावनी जारी की है।

Corona Crisis के बीच Indian Railway का बड़ा कदम, 100 Trains हो सकती हैं बंद, कई की Timing में बदलाव

West Bengal Assembly Election 2021 की तैयारी में जुटी Mamata Banerjee, TMC में किया बड़ा फेरबदल

आपको बता दें कि असम और बिहार इस समय पूरी तरह से बाढ़ की चपेट में आ चुका है। असम में जहां बाढ़ की वजह से 100 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं बिहार में बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है। जिसकी वजह से नदियों का जल स्तर खतरे के निशान से उपर पहुंच गया है। बिहार के चंपारण और मधुबनी समेत कई जिलों में बाढ़ ने सामान्य जन—जीवन पूरी तरह से अस्त—व्यस्त कर दिया है। बिहार में बाढ़ प्रभावित इलाकों से निपटने के लिए एनडीआरएफ की 16 टीमों को लगाया गया है।

 

Raghuram Rajan ने RBI Monetization पर उठाया सवाल, कर्ज लेकर सरकार को उधार दे रहा Central Bank

आपको बता दें कि इस बार बिहार में जुलाई में होने वाली बारिश ने 35 साल पुराना रिकार्ड तोड़ दिया है। मौसम विभाग के अनुसार बिहार में 24 घंटे के भीतर 17.32 मिमी बारिश दर्ज की गई है। जबकि, जुलाई
में अब तक कुल 482.53 मिमी बारिश हुई है।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned