अमरीका ने अफगान शांति प्रक्रिया में भारत के योगदान को सराहा, विशेष दूत खलीलज़ाद ने की तारीफ

  • अफगानिस्तान में शांति बहाली को लेकर वार्ता का दौरा जारी।
  • अमरीका के विशेष राजदूत जाल्मे खलीलज़ाद ने किया भारत दौरा।
  • जाल्मे खलीलज़ाद ने अफगानिस्तान के विकास में भारत के योगदान की सराहना की।

नई दिल्ली। अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में शांति बहाली को लेकर मंथन और बैठकों का दौर जारी है। इसी कड़ी में अफगान सुलह के लिए अमरीका ( America ) के एक विशेष प्रतिनिधि राजदूत ज़ाल्मे खलीलज़ाद ( Ambassador Zalmay Khalilzad ) ने बीते 6-7 मई को भारत दौरा किया और भारत सरकार के अधिकारियों से मुलाकात की। साथ ही अन्य स्टेकहॉल्डरों जो कि अफगान शांति प्रक्रिया से जुड़े हैं के साथ भी परामर्श किया। बैठक के दौरान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ( sushma swaraj ), राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ( NSA Ajit Dobhal ), विदेश सचिव विजय गोखले, अफगानिस्तान में भारत के राजदूत विनय कुमार आदि कई बड़े अधिकारी व नेता मौजूद रहे। यह जानकारी अमरीकी दूतावास की ओर से जारी एक बयान में दी गई है।

पाकिस्तान: पूर्व PM नवाज शरीफ सजा पूरी करने वापस लौटे जेल, भ्रष्टाचार मामले में 7 साल की मिली है सजा

अफगानिस्तान के विकास में भारत का बड़ा योगदान

अमरीकी दूतावास की ओर से एक बयान में बताया गया है कि अधिकारियों के बीच बैठकों के दौरान राजदूत ज़ाल्मे खलीलज़ाद ने अफगान शांति प्रक्रिया ( Afghan peace process ) के लिए समर्थन के भावों का स्वागत किया, जिससे शांति प्रयासों के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय सहमति बनी है। बैठक के दौरान उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि भारत ने अफगानिस्तान के विकास में कई महत्वपूर्ण योगदान दिए हैं। बैठक में यह भी कहा गया कि राजदूत खलीलज़ाद और उनके समकक्षों ने कई मुद्दों पर चर्चा की, जिससे की अफगानिस्तान में जल्द से जल्द शांति बहाली हो। इसमें से अंतर्राष्ट्रीय आतंक से बचने के लिए अफगानिस्तान की धरती के उपयोग को रोकना, क्षेत्रीय शांति, सुरक्षा और क्षेत्रीय कनेक्टिविटी व व्यापार में सुधार की संभावनाएं आदि शामिल है। साथ ही अफगानिस्तान के राजनीतिक भविष्य के बारे में भी चर्चा की गई। बता दें कि इससे पहले बीते महीने खलीलज़ाद ने अफगानिस्तान में शांति बहाली को लेकर पाकिस्तान ( Pakistan ) की भी सराहना थी।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned