ट्रंप ने कश्मीर मसले को हिंदू-मुस्लिम का रंग दिया, कहा-यह मामला धर्म से जुड़ा

  • एक साक्षात्कार में बोले अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप
  • ट्रंप ने कहा कि भारत-चीन इजाजत दे तो वह इस मसले को सुलझाने में मदद कर सकते हैं

वाशिंगटन। अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कश्मीर मसले को एक उलझा हुआ मुद्दा बताया। उन्होंने इसे हिंदू-मुस्लिम का रंग देकर मध्यस्थता की बात पर बल दिया है। ट्रंप ने कहा कि यह मसला भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय वार्ता के बजाय मध्यस्थता से सुलझाया जा सकता है।

एक साक्षात्कार में ट्रंप ने कहा वह मध्यस्थता में अपनी तरफ से मसले का हल निकालने के लिए हरसंभव कोशिश कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस मसले ने धर्मिक रंग ले लिया है। यह हिंदू और मुस्लिम समुदाय के बीच का मुद्दा हो गया है और यह लंबे समय से चलता आ रहा है।

पाक विदेशमंत्री कुरैशी का बड़ा बयान, कहा- अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट में उठाएंगे कश्मीर मुद्दा

 

हालांकि हाल ही में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान से फोन पर बातचीत में ट्रंप ने इसे द्विपक्षीय मुद्दा बताते हुए, इससे किनारा कर लिया था। इस दौरान इमरान खान ने ट्रंप से अपील की थी कि कश्मीर के हल के लिए वह खुद पहल करें। ट्रंप ने ट्वीट कर कहा था कि इमरान खान और पीएम मोदी दोनों ही उनके अच्छे मित्र हैं। वह दोनों के साथ बेहतर महसूस करते हैं।गौरतलब है कि ट्रंप लगातार अपने बयानों में बदलाव ला रहे हैं। इस कारण उनके बयान का किसी को समर्थन नहीं मिल रहा है।

रेहम ने इमरान खान को बताया कमजोर शख्सियत, कहा- कश्मीर का जानबूझकर सौदा किया गया

मोदी सरकार ने पिछले दिनों कश्मीर से धारा 370 को हटा लिया था। इसके बाद से पाकिस्तान में बौखलाहट तेज हो चुकी है। वह विभिन्न देशों में जाकर मदद की गुहार लगा रहा है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में भी एक गुप्त बैठक के दौरान पांच सदस्य देशों में चार ने भारत को समर्थन दिया था। इस मामले में सिर्फ चीन ने ही पाकिस्तान का समर्थन किया था। लगभग सभी देशों ने इसे भारत का आंतरिक मामला बताया था।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Donald Trump
Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned