scriptउद्धव को भी मिला राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का न्योता, फिर क्यों भड़के ठाकरे खेमे के नेता? | Uddhav Thackeray received invitation for Ayodhya Ram Mandir pran pratishtha ceremony but not happy | Patrika News

उद्धव को भी मिला राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का न्योता, फिर क्यों भड़के ठाकरे खेमे के नेता?

locationमुंबईPublished: Jan 21, 2024 07:04:43 pm

Submitted by:

Dinesh Dubey

Uddhav Thackeray Ram Mandir Invitation: श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने उद्धव ठाकरे को राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का न्योता भेजा है।

uddhav_thackeray_ram_temple.jpg

अयोध्या नहीं जाएंगे उद्धव ठाकरे

Ram Mandir Pran Pratishtha Ceremony: शिवसेना (यूबीटी) प्रमुख उद्धव ठाकरे को शनिवार को 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन में शामिल होने का निमंत्रण मिला। पार्टी नेताओं ने बताया कि रामलला के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का निमंत्रण कार्यक्रम से महज दो दिन पहले स्पीड पोस्ट से आया है। उद्धव गुट के नेताओं का कहना है कि ठाकरे को यह निमंत्रण सिर्फ औपचारिकता के लिए दिया गया, ताकि बीजेपी पर कोई उंगली न उठे।
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री व शिवसेना प्रमुख एकनाथ शिंदे को करीब दो हफ्ते पहले ही श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से निमंत्रण मिल गया था। जिसके बाद उद्धव गुट काफी खफा हुआ। जिसके बाद महाराष्ट्र के पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे ने घोषणा कर दी कि वह 22 जनवरी को नासिक में पंचवटी में गोदावरी नदी के तट पर महाआरती करेंगे और पंचवटी में काला राम मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे। पंचवटी में ही भगवान राम अपने 14 वर्षों के वनवास के दौरान ठहरे थे।
यह भी पढ़ें

रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में नहीं जाएंगे एकनाथ शिंदे! 22 जनवरी को अयोध्या नहीं जाने की बताई वजह


उद्धव को स्पीड पोस्ट से न्योता क्यों?

उद्धव गुट के नेता और प्रवक्ता आनंद दुबे ने कहा, “जिस पार्टी की भूमिका, योगदान राम मंदिर आंदोलन में सबसे ज्यादा रही, जिस पार्टी ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया, आज उस पार्टी के मुखिया को स्पीड पोस्ट और कूरियर से राम मंदिर उद्घाटन का निमंत्रण दिया गया है। वो भी घर पर नहीं कार्यालय में न्योता भेजा गया है। पिछले 15-20 दिनों से जिन-जिन अतिथियों को न्योता दिया जा रहा है, या तो कहीं विश्व हिंदू परिषद के नेता जाकर दे रहे हैं या फिर आरएसएस के स्वयंसेवक जाकर दे रहे हैं। वहीँ हमारी पार्टी के नेता को स्पीड पोस्ट से न्योता भेजा जा रहा है, वो भी कार्यक्रम के चंद घंटे पहले। हमें 48 घंटे से भी कम समय पहले न्योता भेज रहे हैं स्पीड पोस्ट द्वारा. यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण स्थिती है।“

‘बीजेपी ने बाला साहेब के साथ छल किया’
शिवसेना (यूबीटी) नेता दुबे ने कहा, “आपको हमें नहीं बुलाना था तो नहीं बुलाये होते। लेकिन हमारे साथ इतना बड़ा धोखा और छल क्यों। सबको पता है कि हमारा नाशिक पंचवटी में पहले से कार्यक्रम तय है। तब हमें आप जानबूझकर चिढ़ा रहे हैं न्योता भेजकर। आप यही न्योता 10-15 दिन पहले हमें भेजते हम दल बल के साथ वहां पहुंचते। हमारे कार्यकर्ता वहां पहुंचते। अब जब चंद घंटे बचे है तब आप हमे न्योता भेज रहे है ताकि आप ये पल्ला झाड़ सके की हमने न्योता भेजा था। यह एक मायने में आपने हमारे साथ छल किया गया है, आदरणीय बालासाहेब ठाकरे के साथ छल है। आज के बाद बीजेपी को बालासाहेब ठाकरे जी का नाम लेने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। महाराष्ट्र की जनता कभी भी बीजेपी को माफ नहीं करेगी।

लालबाग गणेश उत्सव मंडल को न्योता

मुंबई के लालबाग के राजा सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल को भी अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के लिए निमंत्रण मिला है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के नेता और पदाधिकारी ने लालबाग स्थित मंडल के कार्यालय में मंडल के अध्यक्ष बालासाहेब कांबल से मुलाकात की और उन्हें प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए आमंत्रित किया।
https://twitter.com/LalbaugchaRaja/status/1748977634556674321?ref_src=twsrc%5Etfw
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो