Muzaffarnagar: CAA वापस नहीं होने पर भीम आर्मी ने दी आंदोलन की चेतावनी

Highlights

  • CAA और NRC के विरोध में किया धरना-प्रदर्शन
  • डीएम ऑफिस पर कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन
  • भारतीय किसान यूनियन अंबावत ने दिया समर्थन

मुजफ्फरनगर। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) के विरोध में भीम आर्मी (Bhim Army) के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को धरना-प्रदर्शन किया। डीएम (DM) ऑफिस पर प्रदर्शन के दौरान भारतीय किसान यूनियन (BKU) अंबावत के पदाधिकारियों ने भीम आर्मी को समर्थन दिया। प्रदर्शन के दौरान हिंदू-मुस्लिम एकता के नारे लगाए गए।

यह भी पढ़ें: Sambhal: मस्जिद से अजान की आवाज आते ही रोक दिया गया आरएसएस का कार्यक्रम

यह मांग की

मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) में गुरुवार को जिलाधिकारी कार्यालय पर भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों ने एनआरसी व सीएए रद्द करने के लिए धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान भीम आर्मी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनजीत सिंह नौटियाल व राष्ट्रीय महासचिव कमल सिंह वालिया को भी रिहा करने की मांग की गई। भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष टीकम बौद्ध ने बताया कि भारत सरकार ने सीएए को पास कराकर देश को धर्म और जाति के आधार पर बांटने की कोशिश की है।

यह भी पढ़ें: Video: CAA के बाद नर्कभरी जिंदगी से छुटकारे की उम्मीद में मजनू टीला के हिंदू शरणार्थी

पदाधिकारियों को छोड़ने की मांग

उन्‍होंने कहा कि भीम आर्मी भारत एकता मिशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनजीत सिंह नौटियाल व राष्ट्रीय महासचिव कमल सिंह वालिया को जेलों में बंद कर किया हुआ है। इसका भीम आर्मी एकता मिशन विरोध कर रही है। यह भारतीय संविधान अनुच्छेद-14 का उल्लंघन है। उन्‍होंने कहा कि अगर जल्द ही इस कानून पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया तो उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में भीम आर्मी बड़ा आंदोलन करेगी।

sharad asthana
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned