scriptJammu Kashmir Four Former CM Including Farooq Abdullah lose their special security group Protection | Jammu Kashmir: फारूक अब्दुल्ला समेत 4 पूर्व मुख्यमंत्रियों की सिक्योरिटी में होगी कटौती, नहीं मिलेगी SSG सुरक्षा | Patrika News

Jammu Kashmir: फारूक अब्दुल्ला समेत 4 पूर्व मुख्यमंत्रियों की सिक्योरिटी में होगी कटौती, नहीं मिलेगी SSG सुरक्षा

Jammu Kashmir प्रशासन की ओर से बड़ा फैसला लिया गया है। जल्द ही फारूक अब्दुल्ला समेत पूर्व चार मुख्यमंत्रियों की सुरक्षा में कटौती की जाएगी। इसके तहत इन दिग्गज नेताओं की सुरक्षा में लगे स्पेशल सर्विस ग्रुप को हटाया जाएगा।

नई दिल्ली

Published: January 06, 2022 05:06:36 pm

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर ( Jammu Kashmir ) के चार पूर्व मुख्यमंत्रियों की सुरक्षा में कटौती होने जा रही है। दरअसल इन सभी दिग्गज नेताओं की सुरक्षा में लगे स्पेशल सर्विस ग्रुप यानि SSG का कवर हट सकता है। जम्मू-कश्मीर के इन चार पूर्व मुख्यत्रियों फारूक अब्दुल्ला ( Farooq Abdullah ), गुलाम नबी आजाद, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती प्रमुख रूप से शामिल हैं। इन चारों को ही एसएसजी सुरक्षा मिली हुई है। अब जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने साल 2000 में बनी इस पूरी यूनिट को छोटा करने का फैसला लिया है।
Jammu Kashmir Four Former CM Including Farooq Abdullah lose their special security group Protection
मिली जानकारी के मुताबिक पूर्व मुख्यमंत्रियों की सुरक्षा में कटौती का यह फैसला सुरक्षा समीक्षा समन्वय समिति की ओर से लिया गया है। बता दें कि यह वह ग्रुप है जो जम्मू-कश्मीर में महत्वपूर्ण नेताओं की सुरक्षा की देखरेख करता है।

यह भी पढ़ेँः Jammu Kashmir: आतंक से जंग के बीच बढ़ेगी पुलिस की ताकत, मिलेगी अमरीकी असॉल्ट राइफल और पिस्टल
पहले ये लोग देखते थे सुरक्षा

पहले इन वीवीआईपी ( VVIP ) लोगों की सुरक्षा डीआईजी, एसएसपी रैंक का अधिकारी देखता था लेकिन अब नए बदलाव के ततहत इनकी सुरक्षा डीएसपी रैंक का अधिकारी देखेगा।
दोबारा किया जाए विचार

भले ही जम्मू-कश्मीर प्रशासन की ओर से दिग्गज नेताओं की सुरक्षा में कटौती का फैसला लिया गया हो, लेकिन अधिकारियों का माननाहै कि एसएसजी के आकार को कम करने पर दोबारा से विचार किया जाना चाहिए। इसके पीछे वजह है कि इससे एलीट यूनिट की तैयारियों में बाधा आ सकती है।
एसएसजी को मिलेगी नई जिम्मेदारी

मिली जानकारी के मुताबिक एसएसजी को अब नई जिम्मेदारी दी जाएगी। इसके तहत एसएसजी को मौजूदा मुख्यमंत्रियों और उनके परिवार के सदस्यों की सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

आतंकी घटनाओं के बीच बड़ा फैसला

जम्मू-कश्मीर प्रशासन का यह निर्णय ऐसे वक्त पर आया है जब श्रीनगर में लगातार आतंकी घटनाएं हो रही हैं। हालांकि पूर्व प्रधानमंत्रियों में सिर्फ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ही फिलहाल श्रीनगर में नहीं रह रहे हैं। बाकी सभी फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा श्रीनगर में ही रहते हैं।
यह भी पढ़ेँः Earthquake In Jammu Kashmir: भूकंप के जोरदार झटकों से कांपी घाटी, रिक्टर स्केल पर 5.1 रही तीव्रता

मिलती रहेगी एनएसजी सुरक्षा


फारूक अब्दुल्ला और आजाद को राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG), जिसे ब्लैक कैट कमांडो भी कहा जाता है, की सुरक्षा मिलती रहेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि इन दोनों नेताओं को सरकार की ओर से जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.