scriptKarnataka High Court ने कहा- मुस्लिम में निकाह एक समझौता है, हिंदू विवाह की तरह संस्कार नहीं | Karnataka High Court says Muslim marriage is a contract and not sacrament unlike a Hindu Marriage | Patrika News

Karnataka High Court ने कहा- मुस्लिम में निकाह एक समझौता है, हिंदू विवाह की तरह संस्कार नहीं

Karnataka High Court न्यायधीश दीक्षित ने कुरान में सूरह अल बकराह की आयतों का हवाला देते हुए कहा कि अपनी बेसहारा पूर्व पत्नी को गुजारा-भत्ता देना एक सच्चे मुसलमान का नैतिक और धार्मिक कर्तव्य है। एक मुस्लिम पूर्व पत्नी को कुछ शर्तों को पूरी करने की स्थिति में गुजारा भत्ता पाने का अधिकार है और यह निर्विवाद है

नई दिल्ली

Published: October 21, 2021 12:40:23 pm

Karnataka High Court

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Group Sites

Top Categories

Trending Topics

Trending Stories

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.