scriptOmicron Variant in India Health Secretary Rajesh Bhushan says Five state Increased the Government's concern | Omicron की चपेट में दुनिया 108 देश, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- भारत में पांच राज्यों ने बढ़ाई सरकार की चिंता | Patrika News

Omicron की चपेट में दुनिया 108 देश, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- भारत में पांच राज्यों ने बढ़ाई सरकार की चिंता

Omicron वैरिएंट की चपेट में दुनिया के 108 देश। वहीं भारत में भी इस वैरिएंट का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में केंद्र सरकार की चिंता भी बढ़ गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से ये जानकारी शुक्रवार को दी गई। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि बढ़ते खतरे से निपटने के लिए सतर्क रहना बहुत जरूरी है।

नई दिल्ली

Published: December 24, 2021 05:32:25 pm

नई दिल्ली। भारत में कोरोनावायरस ( Coronavirus In India ) के मामलों में भले ही कमी देखने को मिल रही है, लेकिन ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron Variant) के बढ़ते मामलों की वजह से केंद्र सरकार की चिंता बढ़ गई है। ये बात केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मलेन के दौरान कही। मीडिया से बातचीत में उन्होंने बताया कि दुनिया में कोरोना की चौथी लहर देखने को मिल रही है। कुल मिलाकर पॉजिटिविटी रेट 6.1 फीसदी है। अब तक ओमिक्रॉन वैरिएंट 108 देशों को अपनी चपेट में ले चुका है। वहीं देश में ओमिक्रॉन संक्रमितों की संख्या 358 हो गई है, जिसने सरकार की चिंता बढ़ा दी है।
Omicron Variant in India Health Secretary Rajesh Bhushan says Five state Increased the Government's concern
इन 5 राज्यों ने बढ़ाई चिंता

भूषण ने कहा, देश में 20 जिले ऐसे हैं, जहां केस पॉजिटिविटी रेट 5-10 फीसदी है। इनमें से 9 केरल में और 8 मिजोरम में हैं। 2 जिले ऐसे हैं, जहां पॉजिटिविटी केस 10 प्रतिशत से ज्यादा है। ये दो जिले मिजोरम में हैं। फिलहाल सबसे अधिक सक्रिय मामले वाले शीर्ष पांच राज्य केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक हैं, जिन्होंने चिंता बढ़ा रखी है।

यह भी पढ़ेंः दिल्ली ने वैक्सीनेशन में किया कमाल, सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया-100 फीसदी को लगी पहली डोज

इसलिए खतरनाक है ओमिक्रॉन

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि देश के 20 जिले ऐसे हैं, जहां पर पॉजिटिविटी रेट 5 से 10 फीसदी है। स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि फिलहाल हमें सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि WHO ने तीन वजह बताईं, जिस वजह से ओमिक्रॉन को खतरनाक माना जा रहा है। पहली वजह- ग्लोबल केस की संख्या ज्यादा है। दूसरी वजह- ऐसा लगता है कि इम्यून एस्केप का पोटेंशियल ज्यादा है और तीसरी वजह- यह पिछले संस्करणों के मुकाबले संक्रामक भी ज्यादा है।
स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि, यूरोप, उत्तरी अमरीका और अफ्रीका में सप्ताह-दर-सप्ताह कोविड मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। हालांकि एशिया में फिलहाल राहत है, क्योंकि यहां सप्ताह-दर-सप्ताह मामलों में गिरावट देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि, क्रिसमस और 31 दिसंबर की वजह से मार्केट में भीड़ बढ़ गई है। लोग बिना मास्क लगाए, बिना सामाजिक दूरी बनाए खरीददारी में जुटे हुए हैं। जो आने वाले समय में खतरनाक साबित हो सकता है।
भीड़-भाड़ वाले इलाकों से बचें

भूषण ने कहा कि डब्ल्यूएचओ के मुताबिक वैक्सीनेशन यहां तक बूस्टर डोज लेने के बाद भी हमें सतर्क रहने की जरूरत है। ऐसा नहीं है कि बूस्टर डोज लेने के बाद हम पार्टी, त्योहार या फिर सार्वजनिक कार्यक्रमों में भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जा सकते हैं। ऐसा करना नए खतरे को निमंत्रण देना होगा।
यह भी पढ़ेँः Omicron लेकर आएगा तीसरी लहर, IIT वैज्ञानिकों ने बताया कब दे सकती है दस्तक और कब मिलेगी राहत?

भारत में दो लहर, दुनिया कर रही चौथी का सामना


स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, भारत में दो लहरें आई हैं। पहली सितंबर 2020 और दूसरी मई 2021 में। जबकि दुनिया इस वक्त चौथी लहर का सामना कर रही है। ऐसे में हमें सावधान रहने की जरूरत है। मास्क, सैनिटाइजेशन के साथ-साथ सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है। इसके अलावा जिन लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवाई है वे जरूरी इसे लें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.