scriptWest Bengal RSS Chief Mohan Bhagwat will visit bengal for 3 days in November | West Bengal: विधानसभा चुनाव के बाद पहली बार बंगाल जाएंगे RSS प्रमुख मोहन भागवत, विशिष्ट लोगों से करेंगे मुलाकात | Patrika News

West Bengal: विधानसभा चुनाव के बाद पहली बार बंगाल जाएंगे RSS प्रमुख मोहन भागवत, विशिष्ट लोगों से करेंगे मुलाकात

West Bengal आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत 2019 के बाद बंगाल में छठा दौरा करेंगे। अपने दौरे पर भागवत ‘संगठन प्रमुख’ से मुलाकात करेंगे। इसके अलावा ग्रामीण बंगाल में दीर्घकालीन विकास से जुड़े मुद्दों पर मुख्य रूप से प्रदेश की युवा प्रतिभाओं, समाजसेवियों, वैज्ञानिकों और विभिन्न प्रतिभाओं से चर्चा करेंगे

नई दिल्ली

Published: October 17, 2021 02:41:20 pm

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस ने बीजेपी को करारी शिकस्त दी। इस चुनाव में हार के बाद से ही बीजेपी की मुश्किलें कम नहीं हो रही है। बंगाल में पार्टी के कई नेता टीएमसी में शामिल हो चुके हैं।
RSS Chief Mohan Bhagwat
RSS Chief Mohan Bhagwat
बंगाल में बीजेपी की कमजोर होती जमीन के बीच अब राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत बंगाल का दौरा करेंगे। विधानसभा चुनाव के बाद ये उनका पहला दौरा होगा।

यह भी पढ़ेँः West Bengal: दुर्गा विसर्जन कर लौट रहे लोगों पर बम से हमला, वाहनों में भी की गई तोड़फोड़
नवंबर के मध्य में करेंगे दौरा
आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत अगले महीने पश्चिम बंगाल के दौरे पर आ रहे हैं। नवंबर के मध्य में मोहन भागवत का यह दौरा होगा।

वह 15 से 17 नवंबर तक बंगाल के तीन दिवसीय दौरे पर रहेंगे। इस दौरान सांगठनिक बैठक के साथ ही भागवत विशिष्ट जनों से मुलाकात करेंगे।
यही नहीं अपने तीन दिवसीय दौरे पर भागवत संघ के कार्यों की समीक्षा भी करेंगे।

अहम होगा भागवत का दौरा
विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने टीएमसी को पराजित करने के लिए पूरी जान लगा दी थी, लेकिन बीजेपी को करारी हार का सामना करना पड़ा था। अब संघ प्रमुख का चुनाव में पराजय के बाद बंगाल दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।
अपने दौरे पर भागवत ‘संगठन प्रमुख’ से मुलाकात करेंगे। इसके अलावा ग्रामीण बंगाल में दीर्घकालीन विकास से जुड़े मुद्दों पर मुख्य रूप से प्रदेश की युवा प्रतिभाओं, समाजसेवियों, वैज्ञानिकों और विभिन्न प्रतिभाओं से चर्चा करेंगे।
2025 तक संघ को मजबूत बनाना लक्ष्य
दरअसल आरएसएस प्रमुख 2025 तक बंगाल के हर ब्लॉक में कम से कम एक शाखा को मजबूत बनाने पर विशेष ध्यान दे रहे हैं। वर्ष 2025 में संघ के सौ वर्ष पूर्ति के उपलक्ष्य में देशभर के प्रत्येक ब्लाक में संघ ने कम से कम एक शाखा शुरू करने का लक्ष्य तय किया है।
यह भी पढ़ेँः West Bengal: बांग्लादेश में दुर्गा पंडाल में मूर्तियों के साथ तोड़फोड़ पर BJP-TMC नाराज, PM मोदी से की हस्तक्षेप की मांग

2019 से अब तक 5 दौरे
बता दें कि अगस्त 2019 से शुरू होकर भागवत का बंगाल का यह छठा दौरा होने जा रहा है। अपनी पिछली यात्रा के दौरान, संघ प्रमुख ने आरएसएस कार्यकर्ताओं को मुस्लिम समुदाय और अल्पसंख्यकों से जुड़ने के लिए कहा जो राष्ट्रवाद में दृढ़ विश्वास रखते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Delhi Riots: दिलबर नेगी हत्याकांड में हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, 6 आरोपियों को दी जमानतAntrix-Devas deal पर बोली निर्मला सीतारमण, यूपीए सरकार की नाक के नीचे हुआ देश की सुरक्षा से खिलवाड़Delhi: 26 जनवरी पर बड़े आतंकी हमले का खतरा, IB ने जारी किया अलर्टUP Election 2022 : टिकट कटने पर फूट-फूटकर रोये वरिष्ठ नेता ने छोड़ी भाजपा, बोले- सीएम योगी भी जल्द किनारे लगेंगेपंजाबः अवैध खनन मामले में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, सीएम चन्नी के भतीजे के ठिकानों पर दबिशले. जनरल मनोज पांडे होंगे नए उप-थलसेना प्रमुख, संभालेंगे ले. जनरल सीपी मोहंती की जगहPKL 8: अनूप कुमार ने बताया कौन है Pro Kabaddi का भविष्य, इन 2 खिलाड़ियों को चुनानीट यूजी 2021: ऑनलाइन आवेदन से चुके विद्यार्थियों को एक और मौका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.