scriptWhat is Halwa ceremony? Budget 2022 this time sweets distributed | Budget 2022: इस बार टूटी परंपरा 'हलवा समारोह' की जगह मिठाई बांटी | Patrika News

Budget 2022: इस बार टूटी परंपरा 'हलवा समारोह' की जगह मिठाई बांटी

वित्त वर्ष 2022-23 के लिए केंद्रीय बजट की तैयारियां जोरों से चल रही है। महामारी कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए वित्त मंत्रालय ने इस बार बजट के पहले होने वाले 'हलवा सेरेमनी' का आयोजन नहीं किया। कोविड की वजह से इस बार का बजट भी पिछली बार की तरह ही पेपरलेस होगा।

नई दिल्ली

Published: January 28, 2022 11:27:22 am

Budget 2022: वित्त वर्ष 2022-23 के लिए केंद्रीय बजट की तैयारियां जोरों से चल रही है। महामारी कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए वित्त मंत्रालय ने इस बार बजट के पहले होने वाले 'हलवा सेरेमनी' का आयोजन नहीं किया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को वित्त वर्ष 2022-23 के लिए बजट पेश करने वाली हैं। कोविड की वजह से इस बार का बजट भी पिछली बार की तरह ही पेपरलेस होगा। हर साल आयोजित किए जाने वाली हलवा सेरेमनी के बजाय कोर स्टाफ को उनके कार्यस्थलों पर लॉक-इन से गुजरने के कारण मिठाई प्रदान की गईी है। इसकी वजह कोविड19 महामारी की मौजूदा स्थिति है।

Budget 2022
Budget 2022

टूटी 'हलवा समारोह' की परंपरा
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को आम बजट पेश करेंगी। इस बार का बजट पूरी तरह से पेपरलेस होगा। वहीं आईपैड पर जारी होने वाले की वजह से इस बार हलवा मेकिंग की रस्म नहीं हो पाई है। दरअसल इस साल बजट छपाई का काम नहीं होने की वजह से बजट तैयार करने वाले कर्मचारियों के लिए हलवा रस्म का आयोजन भी नहीं किया गया है। वित्त मंत्रालय के मुताबिक हलवा की जगह इन कर्मचारियों को मिठाई खिलाई गई है।

बजट टीम को बांटी गई मिठाई
हर वर्ष बजट से पहले मनाए जाना वाले हलवा सेरेमनी को इस बार परंपरा से हटकर मनाया। कोविड-19 प्रोटोकॉल्स को फॉलो करते हुए इस बार बजट टीम में शामिल कोर स्टाफ को लॉक इन में भेजने से पहले मिठाई दी गई।

कोर टीम को भेजा सीक्रेट रूम में
बजट की गोपनीयता को बनाए रखने के लिए बजट बनाने में शामिल अधिकारियों को हर साल बजट से पहले हलवा सेरेमनी के बाद लॉक इन में रहना होता है। इन अधिकारियों को नॉर्थ ब्लॉक के अंदर स्थित बजट प्रेस में रखा जाता है। एक बार वित्त मंत्री द्वारा केंद्रीय बजट को संसद में पेश करने के बाद ही ये अधिकारी और कर्मचारी अपने परिवारजनों से मिल पाते हैं।

यह भी पढ़ें

Budget 2022 में किसानों को मिल सकती है बड़ी सौगात,पीएम किसान सम्मान की रकम में हो सकती है बढ़ोतरी

बजट भाषण पूरा होते ही मोबाइल एप पर होगा बजट
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जैसे ही संसद में बजट भाषण पूरा करेंगी, ये पूरा बजट यूनियन बजट मोबाइल ऐप पर उपलब्ध करवाया जाएगा। इस ऐप को यूनियन बजट की साइट या वित्त मंत्रालय की साइट से डाउनलोड कर सकेंगे। यह ऐप अंग्रेजी के साथ हिन्दी में भी उपलब्ध कराया गया है। ये ऐप एंड्रायड और आइओएस दोनों ही प्लेटफार्म पर मौजूद होगा।

यह भी पढ़ें

पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2.51 लाख केस, 627 की मौत, नए मामलों में 12% की कमी




क्या है हलवा सेरेमनी
हर वर्ष बजट की प्रिंटिंग शुरू होने से पहले नॉर्थ ब्लॉक में बने वित्त मंत्रालय के ऑफिस में एक बड़ी कढ़ाई में हलवा बनाकर बांटा जाता है। वित्त मंत्री खुद इस कार्यक्रम की अगुवाई करते हैं। उनके अलावा वित्त मंत्रालय के अन्य अधिकारी भी इस रस्म में शामिल होते हैं। हलवा सेरेमनी के बाद बजट की प्रिंटिंग से जुड़े मंत्रालय के करीब 100 कर्मचारी नॉर्थ ब्लॉक के बेसमेंट में बनी प्रिटिंग प्रेस में अगले कुछ दिनों नजरबंद कर दिया जाता है। इस दौरान वे किसी के भी संपर्क में नहीं आते है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारInflation Around World : महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचारपंजाब में दिल्ली का विकास मॉडल, CM भगवंत मान का ऐलान- 15 अगस्त को राज्य को मिलेंगे 75 नए मोहल्ला क्लीनिकराहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'पैंगोंग झील के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सरकार सिर्फ निगरानी ही कर रही है'दो साल बाद अपनों के बीच पहुंचते ही आजम खान ने बयां किया दर्द, बोले- मेरे साथ जो-जो हुआ वो भूल नहीं सकतापहली बार Yogi आदित्यनाथ की तारीफ में बोले अखिलेश यादव 'यूपी में Technology'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.