scriptBig news: छिंदवाड़ा, पांढुर्ना समेत प्रदेश के 55 एक्सीलेंस कॉलेज में शुरु होगी बस सेवा | Big news: Bus service will start in 55 excellence colleges of the state including Chhindwara, Pandhurna | Patrika News
समाचार

Big news: छिंदवाड़ा, पांढुर्ना समेत प्रदेश के 55 एक्सीलेंस कॉलेज में शुरु होगी बस सेवा

1 जुलाई को होगा दोनों का उद्घाटन, उच्च शिक्षा विभाग ने भेजा निर्देश

छिंदवाड़ाJun 22, 2024 / 12:39 pm

ashish mishra

छिंदवाड़ा. उच्च शिक्षा विभाग के निर्देश पर 1 जुलाई से छिंदवाड़ा एवं पांढुर्ना समेत प्रदेश के 55 एक्सीलेंस कॉलेज में दूर-दराज से आने वाले विद्यार्थियों के लिए ‘बस सेवा’ प्रारंभ की जाएगी। उच्च शिक्षा विभाग ने सभी शासकीय प्रधानमंत्री कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस प्राचार्यों को पत्र लिखकर सभी आवश्यक कार्यवाही पूर्ण करने के लिए कहा है। दरअसल राज्य शासन ने उच्च शिक्षा विभाग के अंतर्गत संचालित प्रदेश के 55 शासकीय कॉलेजों को प्रधानमंत्री कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस में अपग्रेड किया है। छिंदवाड़ा में पीजी कॉलेज एवं पांढुर्ना का लीड कॉलेज भी इसमें शामिल है। दोनों ही एक्सीलेंस कॉलेज में भव्य गेट का निर्माण किया जा रहा है। इसके अलावा कॉलेज में कई नए पाठ्यक्रम शुरु किए जा रहे हैं। अब उच्च शिक्षा विभाग ने कॉलेज में ‘बस सेवा’ भी प्रारंभ करने के लिए योजना बनाई है और इसे क्रियान्वित करने के लिए प्राचार्यों को निर्देश जारी किया है। ‘बस सेवा’ कॉलेज की जनभागीदारी मद से प्रारंभ की जाएगी। यानी विद्यार्थियों से ही वसूला गया पैसा उन्हीं के सुविधा के लिए खर्च होगा। विभाग ने विद्यार्थियों से बस का किराया वसूलने की योजना बना ली है। ‘बस सेवा’ प्रारंभ करने हेतु जनभागीदारी मद में विद्यार्थियों को प्रतिमाह 30 रुपए शुल्क लिया जाएगा।
आवश्यकतानुसार रूट का होगा निर्धारण
उच्च शिक्षा विभाग के अवर सचिव वीरन सिंह भलावी ने एक्सीलेंस कॉलेज प्राचार्य को निर्देश में स्पष्ट रूप से कहा है कि भंडार क्रय नियमों के अंतर्गत निविदा के माध्यम से ‘बस सेवा’ प्रदाता का चयन कॉलेज द्वारा किया जाएगा। स्थानीय आवश्यकतानुसार प्रति दिवस बस के चक्र एवं रूट का निर्धारण के साथ ही कॉलेज जिला परिवहन कार्यालय से वाहन सुरक्षा, वाहन फिटनेस, चालक, कंडक्टर की योग्यता आदि के संबंध में शर्ते प्राप्त कर उनका उल्लेख ‘बस सेवा’ प्रदान करने के लिए टेंडर में किया जाएगा। बस के दोनों तरफ बैनर लगाया जाएगा। एक जुलाई को एक्सीलेंस कॉलेज के उद्घाटन के साथ ही बस सेवा का भी उद्घाटन होगा।
1 जुलाई को होगा है उद्घाटन, तेज गति से कार्य
प्रधानमंत्री कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस(पीजी कॉलेज छिंदवाड़ा) में स्वीकृत 40 लाख रुपए की लागत से कैम्पस डेवलपमेंट कार्य किया जा रहा है। भव्य गेट बनाया जा रहा है। वहीं चेकर्स, शौचालय सहित अन्य कार्य भी हो रहे हैं। हालांकि कॉलेज प्रबंधन के पास समय अब कम बचा हुआ है। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा 1 जुलाई को छिंदवाड़ा, पांढुर्ना समेत प्रदेश के सभी 55 एक्सीलेंस कॉलेज का एक साथ उद्घाटन किया जाएगा। बस सेवा भी इसी दिन प्रारंभ होगी। विभाग के इच्छानुसार प्रदेश के सभी चयनित एक्सीलेंस कॉलेज भवनों की पुताई एक समान रंग, मेन गेट पर एक कलर, डिजाइन एवं रंग का साइनेज लगाया जा रहा है। छिंदवाड़ा पीजी कॉलेज में स्टील फ्रेम बनाकर साइनेज लगाया जाएगा। इसके अलावा भवन की प्लास्टरिंग, पानी एवं बिजली व्यवस्था, वाटर टैंक, माइनर लैंडस्केपिंग, पौधे एवं एप्रोच रोड वर्क तथा गल्र्स हाइजीन के लिए इंसिनिरेटर संबंधी कार्य किए जा रहे हैं।
कम खर्च में अधिक सुविधा उद्देश्य
शासन एक्सीलेंस कॉलेज के जरिए विद्यार्थियों को कम खर्च में अधिक सुविधा देना चाहती है। भविष्य में कॉलेज में गुणवत्ता युक्त लाइब्रेरी, विद्यार्थियों को पढ़ाई का अच्छा माहौल सहित कई सुविधा उपलब्ध होगी। एक्सीलेंस कॉलेज के लिए शासन ने बजट एवं पद भी स्वीकृत कर दिए हैं। इन्हें बहुसंकायी बनाया जाएगा। एक्सीलेंस कॉलेज में आधुनिक सेमिनार हॉल, रीडिंग सेक्शन, ब्वॉयज हॉस्टल, गल्र्स हॉस्टल, ऑडोटोरियम, इंडोर एवं आउटडोर स्टेडियम, खेल सुविधाएं, प्रर्याप्त स्टॉफ सहित अन्य सुविधाएं होंगी। इसके अलावा सभी प्रकार के कोर्स की पढ़ाई, नई शिक्षा नीति के तहत आधुनिक शिक्षा व्यवस्था, बेहतर बुनियादी ढांचा और सुविधाएं, योग्य और अनुभवी शिक्षकों की नियुक्ति, छात्रवृत्ति और अन्य वित्तीय सहायता, कौशल विकास और रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे।

उठता है सवाल
स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा सीएम राइज स्कूल दो साल पहले खोला गया था। हालांकि विभाग ने विद्यार्थियों को बस सेवा देने की योजना बनाई थी। कई बार टेंडर प्रक्रिया हुई, लेकिन अब तक योजना क्रियान्वित नहीं हो पाई। इसके पीछे कम रेट होना वजह रही। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या उच्च शिक्षा विभाग एक्सीलेंस कॉलेज में ‘बस सेवा’ योजना प्रारंभ कर पाएगी।
इनका कहना है…
बस सेवा के अनुबंध के लिए नगर निगम और आरटीओ से संपर्क किया जा रहा है। वहां से व्यवस्था बन गई तो ठीक नहीं तो खुला टेंडर निकालेंगे। 1 जुलाई से पहले विभाग के निर्देशानुसार सभी व्यवस्थाएं बना ली जाएंगी।
डॉ. लक्ष्मीचंद, प्राचार्य, एक्सीलेंस कॉलेज, छिंदवाड़ा

Hindi News/ News Bulletin / Big news: छिंदवाड़ा, पांढुर्ना समेत प्रदेश के 55 एक्सीलेंस कॉलेज में शुरु होगी बस सेवा

ट्रेंडिंग वीडियो