Remdesivir की कालाबाजारी कर रहे मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव समेत तीन गिरफ्तार, वसूल रहे थे मोटी रकम

पुलिस के अऩुसार पकड़े गए तीनों अभियुक्तलोगों से इन इंजेक्शनों COVID drug Remedisvir के बदले काफी मोटी रकम वसूल रहे थे। इनके कब्जे से पांच Remdesivir इंजेक्शन भी बरामद हुए हैं।

By: shivmani tyagi

Updated: 07 May 2021, 08:21 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नोएडा noida थाना फेज-2 पुलिस और क्राइम ब्रांच crime branch टीम ने रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव (एमआर) समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से पुलिस ने पांच रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद होने की बात कही है। आरोप है कि ये लाेग रेमडेसिवीर इंजेक्शन को 40 हजार रुपये में बेच रहे थे। पुलिस ने इनके पास से पांच रेमडेसिवीर इंजेक्शन Remdesivir Corona Treatment समेत अन्य दवाइयां भी बरामद होने की बात कही है। अब इनसे पूछताछ की जा रही है।

यह भी पढ़ें: मेरठ में सिटी मजिस्ट्रेट कोर्ट से मिल रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन, जानिए पूरी प्रक्रिया

Black marketing of Remdesivir के पकड़े गए आराेपियों ने अपने नाम परवेज, नईम और निसार बताए हैं। थाना फेज-2 पुलिस और क्राइम ब्रांच ने जॉइंट ऑपरेशन के दौरान एनएसईजेड बाउंड्री गेट के सामने के इन्हे गिरफ्तार किया है। ये दो हजार का रेमडेसिविर इंजेक्शन 40 हजार रुपये में बेचने के लिए आए थे। एडीसीपी अंकुर अग्रवाल ने बताया कि पुलिस और क्राइम ब्रांच ने जिले में ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन सहित कोरोना वायरस से जुड़ी जरूरी दवाइयों की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ अभियान चला रखा है।

यह भी पढ़ें: पहले मरीजों के मरने का करते थे इंतजार, फिर करते थे रेमडेसिवर इंजेक्शन का सौदा

पुलिस को सूचना मिली थी की तीन आरोपी इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहे हैं। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने एनएसईजेड बाउंड्री गेट के सामने से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार परवेज एमआर के तौर पर काम करता है जबकि आरोपी नईम पूर्व में अस्पताल का कर्मचारी रह चुका है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया है कि ये लोग नोएडा में अलग-अलग जगह 30 से 40 हजार रुपये में एक इंजेक्शन बेच रहे थे। इस तरह आरोपी अभी तक करीब 30 लोगों से रुपये ऐंठ चुके हैं। पूछताछ के दौरान सामने आया है कि आरोपियों ने कई महीने पहले ही इंजेक्शन इकट्ठा कर लिए थे। इन्होंने जिले में अलग-अलग मेडिकल स्टोर से इंजेक्शन खरीदे थे। जैसे ही मांग बढ़ी तो इन्हाेंने कालाबाजारी शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें: नजीर: पंचायत चुनाव में मतदान के बाद आया बुखार तो व्यापारी ने खुद को जंगल में क्वॉरेंटाइन करके दी कोरोना को मात

यह भी पढ़ें: जब तक अस्पताल में नहीं मिल रहा बेड तब तक यहां मिलेगी ऑक्सीसजन और देखभाल भी, RSS ने गाजियाबाद में शुरू किया 50 बेड का आइसोलेशन अस्पताल

यह भी पढ़ें: भाकियू का एलान अगर ऑक्सीजन की कमी से हुई कोई माैत तो डीएम कार्यालय पर करेंगे मरने वाले का अंतिम संस्कार

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned