scriptCorona booster dose started for healthworkers frontlineworkers elders | Corona Booster Dose: स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और बुजुर्गों को कोरोना की बूस्टर डोज लगनी शुरू | Patrika News

Corona Booster Dose: स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और बुजुर्गों को कोरोना की बूस्टर डोज लगनी शुरू

Corona Booster Dose: नोएडा के सेक्टर 137 स्थित फेलिक्स हॉस्पिटल में भी स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगवाई गई साथ ही फ्रंटलाइन वर्कर्स और बुजुर्गों बूस्टर डोज लगाया गया।

नोएडा

Published: January 10, 2022 03:29:03 pm

Corona Booster Dose: जिले में सोमवार सुबह से स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और बुजुर्गों को कोरोना की बूस्टर डोज लगनी शुरू हो गई। स्वास्थ्य विभाग की ओर से 81 केंद्रों पर वैक्सीन लगाई जा रही है। जिला अस्पताल में सुबह दस बजे से बूस्टर डोज के लिए टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू हो गई थी, लेकिन साढ़े दस बजे तक बाहर से कोई नहीं पहुंचा। सर्वप्रथम अस्पताल के दस स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगवाई गई। साढ़े दस बजे के बाद फ्रंटलाइन वर्कर्स और बुजुर्गों बूस्टर डोज के लिए पहुंचने लगे। इसके बाद इनके पंजीकरण के लिए एक अलग से काउंटर बनाया गया है, लेकिन वैक्सीनेशन का बूथ एक ही होने से परेशानी हुई।
vacnoida.jpg
यह भी पढ़ें

PM Kisan Samman Nidhi Yojna: जिन किसानों को नहीं मिला 2000 रुपये, इस नंबर पर फोन करके खाते में तुरंत होगा ट्रांसफर

फेलिक्स हॉस्पिटल के चेयरमैन डी.के गुप्ता ने बताया कि बूस्टर डोज लगाते हुए यह ध्यान रखा जा रहा है कि जिन्होंने 39 सप्ताह पहले दूसरी डोज लगवाई है, वहीं बूस्टर डोज लगवाने के लिए पात्र है। 60 पार उम्र के बुजुर्गों और गंभीर बीमारियों से पीड़ितों को भी बूस्टर डोज के लिए पात्र माना गया है। जिसने पहले जो वैक्सीन लगवाई है, उसे उसकी ही बूस्टर डोज लग रही है। उन्होंने कहा जिन बुजुर्गों को हाइपरटेंशन, कैंसर, डायबिटिज और अस्थमा जैसी बीमारियां है उन्हें पहले बूस्टर डोज़ लगवाना चहिए।
नौ माह पूरे होने के बाद ही बुजुर्गों को बूस्टर डोज लगाई जा रही थी, लेकिन जानकारी के अभाव में कई बुजुर्ग वैक्सीनेशन सेंटर पहुंच गए। वैक्सीन लगवाने के लिए पंजीकरण लाइन में लगे, लेकिन जब उन्होंने मालूम चला कि बूस्टर डोज के लिए अभी वक्त है तो उनके हाथ मायूसी लगी। बढ़ते हुए कोरोना के मामलों को देखते हुए फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहले बूस्टर डोज़ लगाई जी रही है। अभी तक 400 फ्रंटलाइन वर्कर के स्लॉट बुक हो चुके है। बूस्टर डोज़ लगाने पहुंचें फ्रंटलाइन वर्कर्स का कहना है कि कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है इसलिए बूस्टर डोज जरूरी है। डॉ. रतनी ने कहा बूस्टर डोज लगवाने के लिए पिछले कई दिन से इंतजार कर रही थी। आज जब बूस्टर डोज लगी तो सुख पल का अहसास हुआ।
यह भी पढ़ें

कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए क्या पर्याप्त है कपड़े का मास्क, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुनील कुमार शर्मा ने बताया कि तीन केंद्र अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों के लिए रिजर्व रखा गया है। वहीं बुजुर्गों, स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति के टीकाकरण के साथ ही सामान्य लोगों का भी टीकाकरण चलता रहेगा। टीका सभी केंद्रों पर आठ बजे सुबह पहुंचा दिया गया था। इन लोगों के साथ ही किशोर-किशोरी और अन्य लोगों का टीकाकरण भी जारी रहेगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने जिले में 102 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Assembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारसुरक्षा एजेंसियों की भुज में बड़ी कार्यवाही, 18 लाख के नकली नोटों के साथ डेढ़ किलो सोने के बिस्किट किए बरामदUP Assembly Elections 2022 : टिकट कटा तो बदली निष्ठा, कोई खोल रहा अपने नेता की पोल तो कोई दे रहा मरने की धमकीPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावUP चुनाव आयोग ने हटाए 3 जिलों में DM, SP, शिकायतों पर एक्शनIIT Madras का 'परख' ग्रामीण व दुर्गम स्थानों में करेगा Corona की जांच
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.