एसएसपी के आग्रह पर उद्योगपतियों ने गैंगरेप पीड़िता को दी 10 लाख की आर्थिक मदद

Highlights
- 13 नवंबर को नोएडा के फेज-3 थाना क्षेत्र में युवती से गैंगरेप का मामला
- एसएसपी के अनुरोध पर उद्योगपतियों ने की पहल
- एसएसपी ने उद्योगपतियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित

नोएडा. एसएसपी वैभव कृष्ण के अनुरोध पर एक गैंगरेप पीड़िता के पुनर्वास के लिए उद्योगपतियों ने 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद की है। इसके लिए एसएसपी ने उद्योगपतियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया है। बता दें कि 13 नवंबर को नोएडा के फेज-3 थाना क्षेत्र में एक युवती से छह लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था। पुलिस वारदात का खुलासा करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। वहीं घटना के 20वें दिन पुलिस ने चार्जशीट पेश कर दी है।

यह भी पढ़ें- पुलिस अफसरों को अपने पास देखकर अनाथ और दिव्यांग लोगों के खिल जाते हैं चेहरे

दरअसल, 13 नवंबर को बहलोलपुर पुलिस चौकी के पास एक युवती से 6 लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था। इसमें युवती को गंभीर चोट आई थी। युवती सप्ताहभर तक अस्पताल में ही भर्ती रही। यह घटना अज्ञात आरोपियों के खिलाफ दर्ज की गई थी। इसलिए इसका खुलासा करना पुलिस के लिए काफी कठिन था। एसएसपी वैभव कृष्ण के निर्देश पर फेज-3 थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह ने घटना के 6 दिनों के अंदर पांच अज्ञात आरोपियों की पहचान करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद आरोपियों की कार्यकारी मजिस्ट्रेट के सामने जिला जेल में 25 नवंबर को पहचान परेड करागई गई, जिसमें पीड़िता ने सभी को पहचान लिया। इसके बाद घटना के 20वें दिन पुलिस ने चार्जशीट पेश की, जो एक मिशाल है।

वहीं, एसएसपी वैभव कृष्ण ने पीड़ित की आर्थिक स्थिति को देखते हुए नोएडा के कुछ उद्योगपतियों से पीड़िता के पुनर्वास के लिए आर्थिक मदद की अपील की। इस पर शहर के समाजसेवी उद्योगपतियों ने 10 लाख रुपये की मदद की। पीड़ित की मदद करने वाले लोगों का रविवार को एसएसपी कार्यालय में प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। साथ एसएसपी ने इस कार्य के लिए सभी का धन्यवाद भी किया।

यह भी पढ़ें- हथियार लेकर पानी की टंकी पर चढ़ा वेतन रुकने से नाराज कर्मचारी, दो घंटे तक चला हाई वोल्टेज ड्रामा

Show More
lokesh verma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned