प्री-मानसून ने किया निराश, जानें आपके शहर में कब तक पहुंचेगा मानसून

प्री-मानसून ने किया निराश, जानें आपके शहर में कब तक पहुंचेगा मानसून

lokesh verma | Publish: Jun, 20 2019 03:17:49 PM (IST) Noida, Gautam Budh Nagar, Uttar Pradesh, India

  • खबर के मुख्य बिंदू
  • मौसम वैज्ञानिकों का दावा, वेस्ट यूपी में जुलाई के प्रथम सप्ताह में पहुंचेगा मानसून
  • मेरठ समेत आसपास के क्षेत्रों में मात्र 4 मिलीमीटर प्री मानसून की बारिश दर्ज
  • वायु तूफान के कारण मानसून की रफ्तार हुई धीमी

नोएडा. वेस्ट यूपी में तापमान में लगातार उतार-चढ़ाव का दौर जारी है। इस बार प्री-मानसून की बारिश कम होने के कारण लोगों को गर्मी का प्रकोप झेलना पड़ रहा है। जहां लोग लगातार गर्मी से परेशान हैं, वहीं कम बारिश के कारण किसानों भी चिंतित हैं। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो इस बार मानसून करीब दस दिन लेट चल रहा है। उनका कहना है कि नोएडा-मेरठ समेत पूर वेस्ट यूपी और एनसीआर में मानसून सामान्य तौर पर 30 जून तक आ जाता है, लेकिन इस बार मानसून देरी से आएगा। वहीं इस बार प्री-मानसून भी कमजोर है, इसलिए कहीं-कहीं छिटपुट बारिश देखने को मिलेगी।

जल्द ही गति पकड़ेगा मानसून

मौसम वैज्ञानिकों का दावा है कि इस बार वेस्ट यूपी और दिल्ली-एनसीआर मानसून जुलाई के पहले सप्ताह में आएगा। भारतीय कृषि अनुसंधान केंद्र के मौसम वैज्ञानिक एन सुभाष कहते हैं कि इस बार प्री-मानसून के नाम पर नाम मात्र की बारिश हुई है। उनका कहना है कि सामान्य तौर पर मानसून 30 जून तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आ जाता है। वहीं मौजूदा समय में मानसून को तक देश के करीब 70 फीसदी हिस्से को कवर कर लेता है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो सका है। उन्होंने बताया कि मानसून अभी तक तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक के साथ उत्तर-पूर्व में ही सक्रिय हो सका है। जल्द ही मानसून के गति पकड़ने के आसार हैं।

यह भी पढ़ें- यूपी में मौसम ने ली करवट, बारिश से मौसम हुआ सुहाना

monsoon

वायु तूफान के कारण मानसून की रफ्तार धीमी

मौसम वैज्ञानिक एन सुभाष कहते हैं कि इस बार प्री-मानसून की बारिश बेहद कम है। इसकी मुख्य वजह ग्लोबल वार्मिंग है। मौसम विभाग के आंकड़ों पर गौर करें तो मेरठ समेत आसपास के क्षेत्रों में इस बार मात्र 4 मिलीमीटर बारिश ही दर्ज की गई है, जो बहुत कम है। वे कहते हैं कि सामान्य तौर पर प्री मानसून में 110 मिलीमीटर बारिश होनी चाहिए। इस बार वायु तूफान ने मानसून की रफ्तार को धीमा कर दिया है। उन्होंने बताया कि इस बार कम बारिश हो सकती है, जिससे किसानों को निश्चित तौर पर नुकसान होगा।

यह भी पढ़ें- Surya Grahan 2019: जानिए जुलाई में कब पड़ेगा सूर्य ग्रहण और क्‍या रहेगा इसका असर

monsoon

तापमान में फिर से बढ़ोतरी

नोएडा और मेरठ की बात करें तो पिछले दो दिन से मौसम में बदलाव देखने को मिला है। सोमवार की हल्की बारिश से जहां बुधवार तक लोगों ने गर्मी से राहत महसूस की थी। वहीं गुरुवार को तापमान में फिर से बढ़ोतरी दर्ज की गई है। नोएडा में गुरुवार को अधिकतम तापमान जहां 38 डिग्री दर्ज किया गया है, वहीं मेरठ में यह 39 डिग्री पर पहुंच गया। अगले दो-तीन दिन में तापमान में बढ़ोतरी की संभावना जताई जा रही है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned