Lockdown: तेजी से बढ़ रहे Corona के केस, Border को लेकर UP Police ने लिया बड़ा फैसला

Highlights:

-दिल्ली जाने वाले वाहनों के पास भी चेक कर रही नोएडा पुलिस (noida delhi border)

-पहले सिर्फ दिल्ले से आने वाले वाहनों की हो रही थी चेकिंग

-नोएडा पुलिस के चेकिंग से दोनों तरफ लगने लगा लंबा जाम

By: Rahul Chauhan

Updated: 14 Jun 2020, 10:19 AM IST

नोएडा। शहर में कोरोना वायरस के केस लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। वहीं जिले में करीब 60 केस ऐसे भी पाए गए हैं जो क्रॉस नोटिफाइड हैं। ये केस दिल्ली, गाजियाबाद, आंध्र प्रदेश, वेस्ट बंगाल, आगरा, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़ और हरियाणा के हैं। ये जानकारी आने के बाद नोएडा-दिल्ली बॉर्डर (noida delhi border) पर पुलिस के तेवर और सख्त हो गए हैं। अब नोएडा पुलिस दिल्ली की ओर जाने वाले लोगों के भी पास चेक करने के बाद ही उन्हें जाने की इजाजत दे रही है। नोएडा जिला प्रशासन द्वारा जारी पास के अलावा अन्य किसी पास को नोएडा पुलिस नहीं मान रही जिसके चलते नोएडा-दिल्ली बॉर्डर कई किलोमीटर का जाम लगा रहा है। जिससे लोग परेशान हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें : Lockdown के दौरान झुग्गी में रहने वाले दो शख्सों ने कमाए 11 लाख, सच्चाई जानकर भन्ना जाएगा सिर

दरअसल, शनिवार को नोएडा पुलिस कंट्रोल रूम सेक्टर 14ए पर लंबी-लंबी वाहनों की कतारें लग गईं। कारण, नोएडा पुलिस के तेवर और सख्त हो गए हैं और बिना पास के नोएडा में एंट्री नहीं दी जा रही है। नोएडा कोरोना के बड़ी संख्या में मामलों के आने के बाद पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने एक समीक्षा बैठक की थी और इस बैठक में पुलिस अधिकारियों के लिए सख्त निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें: एक मां और दो पिता के भंवर में फंसी तीन बच्चों की जिंदगी, वजह जान आप भी रह जाएंगे हैरान

एडीसीपी जोन प्रथम रणविजय सिंह ने बताया कि अब बॉर्डर पर पुलिस के तेवर पहले से सख्त हो गए हैं, क्योंकि दिल्ली पुलिस ने अपने इलाकों में जाने वालों की चेकिंग बंद कर दी। नोएडा पुलिस डीएनडी, नोएडा गेट और कालिंदी कुंज पर अपनी सीमा में नए चेकिंग प्वाइंट बना रही है और इन प्वाइंट पर दिल्ली की ओर जाने वाले लोगों की चेकिंग कर उनके पास देखे जाएंगे और जिनके पास बॉर्डर पार करने के लिए पास होगा, उन्हें ही जाने की अनुमति दी जाएगी।

अधिकारी ने बताया कि नोएडा पुलिस अब नोएडा से जारी हुए पास वाले लोगों को प्रवेश दे रही है। इसके अलावा अन्य स्थानों से जारी हुए पास नहीं माने जाएंगे। इससे दिल्ली की ओर से लौटने वालों का नोएडा पुलिस पर दबाव कम होगा। बॉर्डर को स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट का हवाला देते हुए 21 अप्रैल को सील किया गया था।

coronavirus
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned