Lockdown के दौरान झुग्गी में रहने वाले दो शख्सों ने कमाए 11 लाख, सच्चाई जानकर भन्ना जाएगा सिर

Highlights:

-शातिर गांजा तस्करों कमाए लाखों

-जमीन में दबाकर रखे थे 11.10 लाख रुपये

-पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा

By: Rahul Chauhan

Updated: 14 Jun 2020, 10:01 AM IST

नोएडा। करोना वायरस के कारण जब गौतम बुद्ध नगर जिले में लोग नौकरी चली जाने और काम ठप हो जाने से पाई-पाई के मोहताज हो गए थे। वहीं नोएडा के सेक्टर 142 की झुग्गियों में रहने वाले 2 लोग ऐसे थे, जो गाँजे की तस्करी कर लाखों रुपए बनाने में जुटे थे। पुलिस ने मिली सूचना के आधार पर उनकी झुग्गी पर छापा मारा तो इन दोनों तस्करों के कब्जे से ढाई किलो गांजा बरामद हुआ। इतना ही नहीं, उनकी झुग्गी के अंदर बने एक गढ़ढ़े से प्लास्टिक में छुपाकर रखे हुए 11 लाख रुपए भी हुए। ये पैसा जो इन दोनों ने लॉकडाउन के दौरान गांजे की तस्करी कर कमाया था। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें: भतीजे की शादी का सामान लेने जा रहे पति-पत्नी की सड़क हादसे में मौत, भतीजी घायल

दरअसल, कोतवाली सूरजपुर पुलिस के गिरफ्त में आए दोनों तस्करों के नाम अब्दुल जमील और समसुद्दीन है। ये दोनों नोएडा के सेक्टर 142 के पास बनी झुग्गियों में रहते हैं। जहां से पुलिस ने इन दोनों को छापा मारकर गिरफ्तार किया है। अब्दुल जमील निजामुद्दीन नई दिल्ली का रहने वाला है और समसुद्दीन पश्चिम बंगाल का निवासी है। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली दोनों आरोपियों ने लॉकडाउन के दौरान जमकर गांजे की सप्लाई की थी। इन्होंने गांजे की पूड़ियां बनाकर फूटकर में लोगों को गांजा बेचा था। जिससे इन्होंने लाखों का धन एकत्र कर लिया। जानकारी मिलने के बाद पुलिस इनकी झुग्गियों पर छापा मारा गया था। झुग्गी में ढाई किलो गांजा बरामद हुआ।

यह भी पढ़ें : एक मां और दो पिता के भंवर में फंसी तीन बच्चों की जिंदगी, वजह जान आप भी रह जाएंगे हैरानएक मां और दो पिता

सूरजपुर कोतवाली प्रभारी पीके त्रिपाठी ने बताया कि इन लोगों से कड़ाई के साथ पूछताछ की गई। इसके बाद समसुद्दीन और अब्दुल करीम ने अपनी झुग्गी की जमीन को खोदा। वहां पॉलिथीन में भरे 11.10 लाख रुपये निकले। यह सारा पैसा पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस ने बताया कि दोनों गांजा तस्करों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट की धाराओं में मकदमा दर्ज किया है। शुक्रवार को जिला न्यायालय में पेश किया गया। अदालत ने दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned