#MeToo कैंपेन में खुलासा, 7 साल तक होता रहा ओलपिंक मेडल विनर इस एथलीट का यौन शोषण

#MeToo कैंपेन में अमरीकी जिमनास्ट मैकोली ने सनसनीखेज खुलासा किया है।

By:

Published: 21 Oct 2017, 04:07 PM IST

नई दिल्ली। अमरीका की जिमनास्ट मेकएला मैरोनी का कहना है कि उनके साथ सात सालों तक यौन शोषण होता रहा। मैरोनी के आरोप के मुताबिक उनके साथ यौन शोषण करने वाला और कोई नहीं बल्कि वूमेन जिम्नास्टिक्स टीम के डॉक्टर लैरी नस्सार है। मैरोनी ने इस बात का खुलासा सोशल मीडिया पर चल रहे #MeToo कैंपेन के तहत किया है। मैरोनी ने अपने आधिकारिक ट्विटर से इस कैंपेन के हैशटैग के साथ अपनी कहानी लिखी हैं। मैरोनी का यह पोस्ट काफी तेजी से वायरल से हो रहा है। अब तक इस पोस्ट को 31,000 बार रीट्वीट किया गया है। जबकि दो हजार लोगों ने इस पर कमेन्ट किया है।

क्या है मेकएला मैरोनी का आरोप
महिला खिलाड़ी मेकएला मैरोनी ने अपने पोस्ट में लिखा कि 13 साल की उम्र से उनका यौन शोषण किया जा रहा था। बचपन से भी जिमनास्ट को चाहने वाली मैरोनी ने लिखा कि ''मैं 13 साल की उम्र से लेकर जब तक खेल से रिटायर नहीं हो गई, इस दौरान सात साल तक मैं यौन उत्पीड़न का शिकार रही. मेरा उत्पीड़न वूमेन जिम्नास्टिक्स टीम के डॉक्टर लैरी नस्सार ने किया था।

 

ट्रीटमेंट के नाम पर करता था योन शोषण
मैरोनी ने कहा कि लैरी नस्सार उनके साथ ट्रीटमेंट के नाम पर यौऩ शोषण करता था। मैरोनी ने यह भी कहा कि लगातार सफर में रहने के साथ-साथ मुझे अक्सर नींद की गोली दे कर नस्सार मेरा यौऩ शोषण करता था। अपना एक वाकया बताते हुए मैरोनी ने कहा कि मेरे लिए मेरी ज़िंदगी की वो सबसे ख़ौफनाक रात थी। तब मेरी उम्र बस 15 साल थी। मुझे खेल के दौरान काफी यात्राएं करनी पड़ती थीं। एक बार उसने मुझे फ्लाइट के लिए नींद की गोली दी। जब मैं होश में आई, मैं होटल के कमरे में अकेली थी और ''ट्रीटमेंट'' को झेल रही थी। मुझे लगा मैं उस रात मर ही जाऊंगी।

कौन है मेकएला मैरोनी
मेकएला मैरोनी अमरीका की दिग्गज जिमनास्ट प्लेयर हैं। 2012 के लंदन ओलपिंक में मैरोनी ने गोल्ड मेडल जीता था। इसके अलावा मैरोनी ने खेल में कई टूर्नामेंटों में बेहतर प्रदर्शन किया है। 20 साल की उम्र में खेल से सन्याल लेने के बाद मैरोनी गायकी में अपना करियर बना रही है।

 

gsdfgd

नस्सार ने किया खंडन
मैरोनी के आरोपों का अमरीकी डॉ. नस्सार ने खंडन किया है। हालांकि नस्सार पहले भी यौन उत्पीड़न के केस में चर्चा में आ चुके है। नस्सार पर मिशेगन में चाइल्ड प्रॉनोग्राफी के आरोप में ट्रायल चल रहा है। बताया यह भी जाता है कि नस्सार पर 120 महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। नस्सार तीस सालों तक अमरीकी जिम्नास्ट टीम के डॉ. हुआ करते थें।

क्या है #MeToo कैंपेन
सोशल मीडिया पर हैशटैग मीटू के नाम से एक कैंपेन चल रहा है। जिसमें दुनिया भर की महिलाएं अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न की कहानियों को लिख रही है। इसी के तहत मैरोनी ने भी अपनी कहानी सबके साथ साझा किया है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned