ओलंपिक के दौरान रोजाना होंगे 80,000 कोविड टेस्ट

रोजाना लगभग 80,000 कोविड-19 टेस्ट किए जाएंगे। ओलंपिक खेलों 2020 की आयोजन समिति ने इन टेस्ट की निगरानी और संचालन के लिए 230 डॉक्टरों और 310 नर्सों की व्यवस्था की है।


 

By: भूप सिंह

Published: 17 Jul 2021, 11:36 PM IST

नई दिल्ली। अगले कुछ दिनों में 11,500 एथलीटों और लगभग 79,000 प्रशासकों, सहायक कर्मचारियों और मीडिया कर्मियों के जापान पहुंचने के साथ टोक्यो ओलंपिक का आगाज होगा। कोरोना महामारी के बीच हो रहे इस आयोजन के दौरान इसमें शामिल सभी लोगों के स्वस्थ होने को सुनिश्चित करने के लिए बड़े पैमाने पर कोरोना टेस्ट अभियान चलाया जाएगा। यह सुनिश्चित करने के लिए कि खेलों के दौरान खतरनाक नोवेल कोरोनावायरस का प्रसार न हो, सभी प्रतिभागियों का प्रतिदिन टेस्ट किया जाएगा। इसका मतलब है कि रोजाना लगभग 80,000 कोविड-19 टेस्ट किए जाएंगे। ओलंपिक खेलों 2020 की आयोजन समिति ने इन टेस्ट की निगरानी और संचालन के लिए 230 डॉक्टरों और 310 नर्सों की व्यवस्था की है।

यह खबर भी पढ़ें:—शादीशुदा होने के बाजवूद अफगानिस्तान टीम के कप्तान असगर अफगान करेंगे दूसरी शादी, पहली पत्नी से हैं 5 बच्चे

'बिना कोविड टेस्ट रिपोर्ट के मैदान में एंट्री नहीं'
किसी भी प्रतिभागी और अधिकारी को बिना कोविड-19 नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट कार्यक्रम स्थल में जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। खेलों की आयोजन समिति ने शनिवार को जानकारी दी कि 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच 15,000 लोगों ने जापान में प्रवेश किया है, जिनमें से केवल 15 का कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आया है। खेलों में चौबीसों घंटे सुरक्षा प्रदान करने के लिए 44,000 कर्मियों को लगाया जाएगा।इससे पहले, अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थॉमस बाख ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक से जुड़े सिर्फ 15 लोग ही कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं। उन्होंने दोहराया कि एथलीट विलेज से एक सकारात्मक मामला सामने आने के बावजूद आगामी ओलंपिक जापान के लोगों के लिए कोई खतरा नहीं है।

यह खबर भी पढ़ें:—भारत और श्रीलंका के बीच 3 वनडे मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला कल, आंकड़ों में जानें कौन किस पर है भारी

'15000 में से केवल 15 लोग ही पॉजिटिव'
बाख ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि 1 जुलाई से 16 जुलाई तक, लगभग 15,000 एथलीट, अधिकारी, सहायक कर्मचारी और मान्यता प्राप्त मीडिया के लोग टोक्यो पहुंचे हैं। सभी का आगमन पर टेस्ट किया गया था। 15,000 में से केवल 15 पॉजिटिव पाए गए। यह एक है बहुत कम दर है। पॉजिटिव आने सभी लोग आईसोलेश्नो में हैं। वे ओलंपिक प्रतिभागियों और जापान के लोगों के लिए खतरा नहीं हैं। टोक्यो ओलंपिक का आयोजन 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होना है। इसके बाद जापान में ही पैरालंपिक खेलों का आयोजन होगा।

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned