VIDEO : भारत भ्रमण पर आई एक विदेशी मैम, राजस्थान के इस कस्बे में छेड़ा ये अभियान, जानिए पूरी खबर...

-आस्ट्रेलिया से भारत भ्रमण [ Australian Tourist ] पर आई रोजी वोकर ने पाली जिले के रोहट कस्बे में प्लास्टिक एकत्रित किया

By: Suresh Hemnani

Updated: 18 Feb 2020, 06:40 PM IST

-प्रमोद दवे
पाली/रोहट। प्लास्टिक खाने से हो रही जानवरों की मौत से आहत एक विदेशी महिला ने प्लास्टिक मुक्ति का अभियान [ Plastic free campaign ] छेड़ा है। आस्ट्रेलिया से भारत भ्रमण [ Australian Tourist ] पर आई रोजी वोकर इन दिनों जोधपुर संभाग में है। रोहट कस्बे में घूमकर उसने प्लास्टिक एकत्रित किया है। वह ग्रामीणों को भी प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का संदेश दे रही है।

रोजी ने पूरे कस्बे का भ्रमण किया। जगह-जगह बिखरी प्लास्टिक को एकत्रित किया। रोजी वोकर के साथ निवर्तमान प्रधान रश्मिसिंह, पूर्व सरपंच सिद्धार्थ सिंह, रोहट सरपंच भरत पटेल भी अभियान से जुड़े हैं। पेशे से कुक रोजी ने रोहट में प्लास्टिक खाते जानवरों को देखा तो उसे नुकसान समझ आए। उसने तय किया वह जहां भी जाएगी प्लास्टिक मुक्ति का संदेश देगी।

बांट रही कपड़े की थैलियां
रोजी ने प्लास्टिक के विकल्प के तौर पर ग्रामीणों को कपड़े की थैलियां भी बांट रही है। वह ग्रामीणों से कहतीं है कि वे सामान की खरीददारी करते समय पॉलिथिन की बजाय कपड़े की थैली का उपयोग करें। कपड़े की थैलियों पर गाय का फोटो छपा है। इसके माध्यम से वह ग्रामीणों को संदेश दे रही है कि पॉलिथिन से गाएं मर रही है। गायों को बचाने के लिए पॉलिथिन का उपयोग न करें। वह अब स्कूलों में विद्यार्थियों को भी पॉलिथिन के नुकसान बताएंगी।

मन भाया रोहट
रोजर को रोहट कस्बा काफी भाया। वह यहां अब तक छह बार आ चुकी है। वह जब भी यहां आती है प्लास्टिक बीनने निकल जाती है। अब गांव के लोग भी उसके साथ जुड़ रहे हैं। रोहट कस्बे में सोमवार को रोजी वोकर, अविजित ङ्क्षसह सहित ग्राम पंचायत की टीम ने रोहट कस्बे में मुख्य बाजार से बस स्टैंड तक पॉलीथीन एकत्रित किया। दुकानदारों को प्लास्टिक की थैली में सामान नहीं देने के लिए समझाइश की।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned