VIDEO : कोरोना के कहर के बावजूद बरत रहे लापरवाही

-खुद के साथ दूसरों के लिए भी बन सकते हैं खतरा
-शहर में लॉक डाउन के बावजूद कई लोग घर समूह में रहते हैं बैठे

Suresh Hemnani

26 Mar 2020, 07:04 AM IST

पाली। कोरोना वायरस को लेकर पूरा विश्व चिंतित है, लेकिन हमारे शहर में समाज के ऐसे दुश्मन हैं। जो इसकी भयावहता को नहीं समझ रहे। वे सरकार की ओर से अपील करने और पुलिस की सख्ती के बावजूद चोरी-छिपे घरों से बाहर आ रहे हैं। समूह में एकत्रित हो रहे हैं। इसी का परिणाम ये नजारे है जो पिछले दो दिन से शहर में नजर आ रहे हैं। हालात यह है कि गलियों में तो कई लोग परचूनी की दुकाने आधा शटर या नीचे थोड़ा खुला रखकर व्यापार कर रहे हैं। वहां गलियों से होकर युवक और अन्य लोग भी पहुंच रहे हैं।

सिर्फ नजारा देखने निकल रहे
कई युवाओं की स्थिति यह है कि वे महज लॉक डाउन के दौरान शहर की सडक़ों को देखने के लिए बाइक पर आ रहे हैं। ऐसे युवा सीधे सडक़ पर नहीं पहुंचकर शहर की तंग गलियों में से होते हुए सूरजपोल तक आ जाते हैं। पुलिसकर्मी भी खुद को इनके आगे बेबस पा रहे हैं। कारण यह है कि वे चौराहों आदि पर तैनात हैं, लेकिन हर गली में निगरानी करना मुश्किल है।

मटकियां भी रही जरूरी सेवा में
नवसंवत्सर व चैत्र नवरात्र के पहले दिन शहर में मिट्टी की मटकी और कलश आदि को भी इसके विक्रेताओं ने जरूरी सेवाओं में शामिल कर लिया। वे घरों के बाहर पूरे दिन मटके व अन्य सामान सजाकर बेचते रहे। इनकी दुकानें भी मुख्य मार्ग पर नहीं होने से किसी ने इनको नहीं रोका।

नजारा एक... हवाई बिल्डिंग के पास
दोपहर डेढ़ बजे हवाई बिल्डिंग के पास से प्यारा चौक की तरफ जाने वाले मार्ग स्थित एक मकान के बाहर सात-आठ जने बैठे व खड़े थे। उन लोगों को पुलिसकर्मी के आने का डर तो नहीं था। इसके साथ ही कोरोना जैसी महामारी के बचाव के लिए अपने कर्तव्य को नहीं समझ रहे थे।

नजारा दो... जर्दा बाजार केरिया दरवाजा के पास
सर्राफा बाजार होकर जर्दा बाजार केरिया दरवाजा रोड पर पहुंचते तो एक मकान के आगे बच्चों के साथ कई युवा खड़े थे। उनसे चंद कदमों की दूरी पर पुलिसकर्मी भी तैनात थे, लेकिन इन लोगों को परवाह नहीं थी। जब पुलिसकर्मी इनकी तरफ जाते तो ये घर या गली में चले जाते। पुलिस के लौटते ही फिर एकत्रित हो जाते।

नजारा तीन... दुकानदारी करना जरूरी
भैरूघाट-पानी दरवाजा मार्ग पर एक व्यक्ति का घर व दुकान एक ही जगह है। उसे कोरोना के भयावहता से कोई सरोकार नहीं है। वह घर का दरवाजा खोलकर सामान बेच रहे है। दुकान के आगे युवाओं के साथ खरीदारों की भीड़ लगी रही। यह नजारा हालांकि मंगलवार को नजर आया था, लेकिन ऐसा करने वाला दुश्मन जरूर है।

Corona virus
Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned