12 साल से चल रहा था प्रेम प्रसंग, परिवार नहीं माना तो शादी कर नहीं पाए, रिश्ते को फिर भी रखा कायम

-युवक की हत्या कर शव नदी में फैंकने का मामला

By: Suresh Hemnani

Published: 14 Jun 2020, 06:20 AM IST

पाली/रायपुर मारवाड़। सुमन व रवि पिछले 12 साल से एक-दूसरे के करीब थे। शादी भी करना चाहते थे लेकिन परिवार की सहमति नहीं मिली। दोनों ने परिवार द्वारा तय रिश्ते को स्वीकार कर लिया, लेकिन प्रेम प्रंसग जारी रखा। ये रिश्ता न सुमन के पति से छिपा था और न ही रवि की पत्नी से। पति के हाथों कई बार पिटने के बाद भी सुमन ने रवि से रिश्ता नहीं तोड़ा। इन हालातों के चलते सुमन का पति भगवत बली चढ़ गया। हत्या के मामले की पड़ताल कर रही पुलिस के सामने पूछताछ में यह सच सामने आया है।

जैतारण डीएसपी सुरेश कुमार के अनुसार अजमेर जवाजा थाना क्षेत्र के जालिया द्वितीय पीथावास निवासी भगवतसिंह रावत पुत्र हरिसिंह रावत गुजरात में दिहाड़ी मजदूरी करता था। लॉकडाउन के चलते वह गांव आया हुआ था। होम क्वारंटीन कर देने से वह 14 दिन तक घर पर रहा। पत्नी सुमन का राजसमंद भीम थाना क्षेत्र शेखावास निवासी ट्रक चालक रविसिंह पुत्र निम्बसिंह रावत के साथ अवैध संबध थे। इसकी खबर लगने पर भगवतसिंह शराब पीकर आए दिन सुमन के साथ मारपीट करता था। बावजूद इसके सुमन ने रवि से संबध कायम रखे। सुमन अपने पति की शिकायत अपने भाई जवाजा थाना क्षेत्र बड कोचरा मोडी मगरी निवासी दिहाड़ी श्रमिक बलवीर से करती थी। सुमन ने पति की हत्या करवा रवि के साथ जीवन बसर की योजना बनाई।

मंदिर में शराब का भोग लगाया, फिर मौत के घाट उतारा
4 जून को सुमन की सूचना पर तारागढ पहुंचे रवि व बलवीर ने भगवत को दाना बाबा मंदिर दर्शन करने चलने का बोल उसे बाइक पर अपने साथ ले आए। मंदिर में शराब का भोग लगा तीनो ने साथ बैठ शराब पी। पत्थर की सिर में मार भगवत को नीचे गिरा उस पर पत्थरो से तब तक वार करते रहे जब तक भगवत का दम नहीं टूटा।

एसपी का पुराना नेटवर्क काम आया
पाली पुलिस अधीक्षक राहुल कोटोकी ने इस हत्या की राजफाश को लेकर अपने पुराने नेटवर्क को काम मंे लिया। चूंकि कोटोकी राजसमंद एसपी रह चुके थे। आरोपी रवि राजसमंद के शेखावास का निवासी है। पुराने नेटवर्क व आधुनिक तकनीक के सहारे मिली मदद से पता लगा कि रवि व बलवीर ट्रक लेकर जयपुर के शाहपुरा गए है। एएसपी तेजपालसिंह व जैतारण डीएसपी सुरेश कुमार के निर्देशन में टीम शाहपुरा पहुंची ओर रवि व बलवीर को गिरफ्तार कर ले आई। सुमन को उसके ससुराल से ही गिफ्तार कर लिया।

तीन दिन के पुलिस रिमांड पर
हत्या के आरोपी सुमन,बलवीर,रवि को पुलिस ने शुक्रवार शाम को गिरफ्तार किया था। शनिवार को उन्हे मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। जहां से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर हत्या के समय उपयोग में ली गई बाइक व मृतक का मोबाइल बरामद करने के प्रयास में जुटी है।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned