वकील की पत्नी को घर में अकेला पाकर दबोच लिया, रिपोर्ट लिखाने गए तो कोतवाल बोला कल आना, देखें वीडियो

कोतवाल बीसलपुर ने नहीं लिखी रिपोर्ट, वकीलों ने किया प्रदर्शन, दी चेतावनी

By: अमित शर्मा

Updated: 16 Sep 2018, 08:52 AM IST

Pilibhit, Uttar Pradesh, India

पीलीभीत। कोतवाली बीसलपुर पुलिस के खिलाफ प्रगतिशील अधिवक्ता एसोसिएशन ने मार्चा खोला है। आरोप है कि कोतवाल बीसलपुर ने उनके साथी वकील की पत्नी के साथ छेड़छाड़ के आरोप पर मुकदमा लिखने के बजाये उसे संरक्षण दे रहे है। इसी से क्षुब्ध वकीलों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की और एसडीएम बीसलपुर को मुकदमा दर्ज करने के लिये ज्ञापन सौंपा।

यह भी पढ़ें

आज का राशिफलः मीन समेत तीन राशि वालों के लिए सबसे अच्छा दिन, जानिए कैसा है आपका भाग्य

क्या है मामला

प्रगतिशील अधिवक्ता एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रमोद कुमार गंगवार के नेतृत्व में दर्जनों वकीलों ने तहसील बीसलपुर परिसर में पुलिस के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया और नारेबाजी की। आरोप है कि उनके एक साथी वकील जब घर से बाहर थे तो उनकी शिक्षिका पत्नी को अकेला पाकर गांव के ही रमेश व प्रभात उनके घर में घुस आए और छेड़छाड़ की। शोर-शराबा होने पर पड़ोसी शिवरतन व गीतादेवी मौके पर पहुंचे, तो आरोपी धमकी देते हुए भाग निकले। जब वकील पति को पूरी घटना का पता चला तो वो तहरीर लेकर थाना बीसलपुर पहुंचे, जहॉ कोतवाल ने कार्यवाही करने के बजाए टालमटोल की और आजकल करने लगे।

यह भी पढ़ें

ये नतीजे अखिलेश की बढ़ा सकते हैं चिंता, सपा के गढ़ में दी भाजपा ने करारी शिकस्त

 

हड़ताल की चेतावनी

इसके बाद नाराज होकर वकील शनिवार को एकत्र हुए और तहसील बीसलपुर परिसर में जमकर नारेबाजी की। पुलिस के खिलाफ विरोध जताया। इसके बाद सभी वकीलों ने एसडीएम बीसलपुर वंदना त्रिवेदी को ज्ञापन सौंपा। तत्काल मुकदमा दर्ज करने की मांग की। एसडीएम के आश्वासन पर वकीलों ने अपना प्रदर्शन खत्म तो कर दिया लेकिन उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर मुकदमा दर्ज नहीं हुआ तो वो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।

यह भी पढ़ें

डिप्टी सीएम थे शहर में उधऱ प्रधानाध्यपक ले रहा थी रिश्वत, देखें वीडियो

 

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned