2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का क्या होगा ये कांग्रेसियों को भी नहीं पता: अरुण जेटली

2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का क्या होगा ये कांग्रेसियों को भी नहीं पता: अरुण जेटली

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Jul, 24 2018 10:02:28 PM (IST) राजनीति

अरुण जेटली का कहना है कि आगामी चुनावों में धीरे धीरे कांग्रेस हाशिए पर चली जाएगी और क्षेत्रीय दलों का गठबंधन मुख्य विपक्ष की भूमिका में आ जाएगा।

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस को लेकर एक बड़ी भविष्यवाणी की है। जेटली का कहना है कि आगामी चुनावों में धीरे धीरे कांग्रेस हाशिए पर चली जाएगी और क्षेत्रीय दलों का गठबंधन मुख्य विपक्ष की भूमिका में आ जाएगा। इसके साथ ही जेटली ने कांग्रेस पर हिंदुओं को भड़काने का आरोप भी लगाया है। कांग्रेस की अल्पसंख्यक वोट हासिल करने और धर्मनिरपेक्षवाद को पुनर्परिभाषित करने की रणनीति से हिन्दू बहुसंख्यक भड़केंगे और उससे दूर हो जाएंगे। जेटली ने कांग्रेस द्वारा उठाए गए राफेल डील विवाद को भी फर्जी बताया है।

खत्म हो जाएगी कांग्रेस

अरुण जेटली ने फेसबुक पर पोस्ट अपने एक लेख में यह दावा भी किया कि कांग्रेस में बहुत से लोगों को इस बात का अहसास हो गया है कि 2019 उनका चुनाव नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसी परिस्थिति में चुनाव के बाद कांग्रेस हाशिए पर चली जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अंकगणित को मजबूत करने की कांग्रेस पार्टी की रणनीति खुद उसके लिए एक दोधारी तलवार है। इससे विपक्ष में जो स्थान कांग्रेस का है वो जगह क्षेत्रीय पार्टियां ले सकती हैं।

यह भी पढ़ें: मॉब लिंचिंग: संघ नेता के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, भारत को पाकिस्तान बनाना चाहते हैं

वोट के लिए विपक्षी मोर्चे से लड़ रही कांग्रेस

कांग्रेस पर धर्म की राजनीति का आरोप लगाते हुए जेटली ने कहा कि कुछ मुद्दों पर वह बीजेपी पर हमला करने के साथ ही अल्पसंख्यक वोटों को फिर से हासिल करने के लिए विपक्षी मोर्चे से भी जूझ रही है। हिन्दुओं की तालिबान के साथ तुलना करने और हिन्दू पाकिस्तान जैसे शब्दावली गढ़ने का मकसद विपक्षी मोर्चे के खिलाफ अल्पसंख्यक वोट बटोरना है। जेटली ने कहा कि कांग्रेस की यह रणनीति उलटा असर डालेगी। भारतीय लोकतंत्र में अल्पसंख्यकों को बहुसंख्यकों के समान भागीदार के तौर पर ही वोट देने का संवैधानिक अधिकार है।

फर्जी है राफेल का कांग्रेस विवाद

राफेल विमान सौदे के मुद्दे को उछालने के लिए कांग्रेस की आलोचना करते हुए जेटली ने कहा कि उसने यह मुद्दा केवल आगामी आम चुनावों के लिए ‘गढ़ा’ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी भ्रष्टाचार के कारण दागदार रही है और प्रधानमंत्री मोदी ने एक घोटाला मुक्त सरकार दी है। कांग्रेस की रणनीति एक अपवाद पैदा करने की है। अगर आपके पास कोई मुद्दा नहीं है, तो एक मुद्दा गढ़ लीजिए। इस प्रकार से राफेल का फर्जी विवाद गढ़ा गया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned