BJP की अल्पसंख्यक इकाई का अध्यक्ष निकला बांग्लादेशी, गुस्साई कांग्रेस ने कही बड़ी बात

  • बांग्लादेशी निकला BJP की अल्पसंख्यक इकाई का अध्यक्ष
  • कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने वीडियो जारी कर किया खुलासा
  • बीजेपी पर बोला हमला- पूछा बीजेपी के नागरिकता संशोधन कानून में कोई अलग प्रावधान किया

By: धीरज शर्मा

Published: 20 Feb 2021, 09:31 AM IST

नई दिल्ली। महाराष्ट्र ( Maharashtra ) से भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) के अल्पसंख्यक इकाई के अध्यक्ष को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल कांग्रेस कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने एक वीडियो ट्वीट किया है। इस वीडियो में वो एक बांग्लादेशी नागरिक के गिरफ्तार होने की बात कर रहे हैं।

इस वीडियो में सचिन सावंत ने खुलासा किया कि यह बांग्लादेशी नागरिक, उत्तरी मुंबई में भाजपा के माइनॉरिटी सेल के अध्यक्ष के तौर पर काम कर रहा था।

हो जाएं सावधान! मौसम विभाग ने देश के इन राज्यों में बारिश और बर्फबारी को लेकर जारी किया येलो अलर्ट, बढ़ सकती है मुश्किल

यह नागरिक भारत में अवैध दस्तावेजों के साथ रह रहा था और जांच के दौरान यह बात सामने आई कि यह शख्स उत्तरी मुंबई में बीजेपी के माइनॉरिटी सेल के अध्यक्ष के तौर पर काम कर रहा था। आरोपी की पहचान रुबेल जोनु शेख के तौर पर हुई है और इसकी उम्र 24 साल है।

सावंत ने इसे बीजेपी का संघ जिहाद बताया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि कुछ बीजेपी नेता गोमाता की तस्करी करते हुए पाए गए तो कुछ की पहचान आईएसआई एजेंट के तौर पर हुई है। अब उनके अल्पसंख्यक इकाई के अध्यक्ष भी बांग्लादेशी निकले हैं।

सावंत ने पूछा ये सवाल
अब रुबेल जोनु शेख का खुलासा हुआ है, जो एक बांग्लादेशी हैं लेकिन बीजेपी के माइनॉरिटी सेल के अध्यक्ष के तौर पर काम कर रहा था। उन्होंने आगे कहा कि क्या बीजेपी के नागरिकता संशोधन कानून में कोई अलग प्रावधान किया गया है।

आपको बता दें कि मुंबई पुलिस ने रुबेल शेख को पिछले हफ्ते गिरफ्तार किया था। वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर भालेराव शेखर ने जानकारी देते हुए कहा कि एक शख्स नकली कागजात के साथ पकड़ा गया है, फिलहाल उसे न्यायिक हिरासत में रखा गया है।

नीतीश कुमार के मंत्री का विवादित बयान, बोले- जनता को पड़ जाती है महंगाई की आदत, किसी को नहीं कोई परेशानी

पुलिस की माने तो रुबेल शेख बांग्लादेश के जसूर जिले के बोवलिया गांव का रहने वाला है।

वहीं इस पूरे मामले पर अब तक बीजेपी की ओर से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है। जबकि पुलिस ने माना है कि शेख 2011 में बिना कागजात भारत में दाखिल हुआ और वो बीजेपी के लिए काम कर रहा था।

Congress CAA
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned