अरुण जेटली पर हमलावर हुई कांग्रेस, पूछा- बताइए देश का वित्त मंत्री कौन

अरुण जेटली पर हमलावर हुई कांग्रेस, पूछा- बताइए देश का वित्त मंत्री कौन

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Jul, 13 2018 07:13:13 PM (IST) राजनीति

कांग्रेस ने कहा कि असलियत यह है कि देश का वित्त मंत्री कौन है यह स्पष्ट नहीं है। इसका खामियाजा हमारी अर्थव्यवस्था को भुगतना पड़ रहा है।

नई दिल्ली। कांग्रेस ने आज एकबार फिर वित्त मंत्री अरुण जेटली पर हमलावर हुई है। कांग्रेस ने जेटली द्वारा पार्टी पर देश में गरीबी हटाने के लिए ‘सिर्फ नारा देने’ के आरोप पर कड़ी टिप्पणी की। कांग्रेस ने कहा कि आज कहा कि जेटली को पहले यह रहस्य सबके सामने खोलना चाहिए कि वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी किसके पास है। जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट में आरोप लगाया था कि कांग्रेस ने गरीबी हटाने के लिए सिर्फ नारा दिया था जबकि मोदी सरकार ने गरीबी मिटाने के लिए संसाधन जुटाए हैं।

यह भी पढ़ें: शिरडी: 'दीवार पर प्रकट हुआ साईं का चेहरा', जानिए आखिर क्या है सच

अर्थव्यवस्था चौपट हो रही, जिम्मेदार कौन: सुरेजवाला

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने जेटली के आरोपों पर पत्रकारों सवालों के जवाब में कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को लेकर विश्व बैंक की रिपोर्ट पर खुशी जताई, लेकिन कहा कि असलियत यह है कि देश का वित्त मंत्री कौन है यह स्पष्ट नहीं है। इसका खामियाजा हमारी अर्थव्यवस्था को भुगतना पड़ रहा है। देश का निर्यात घट रहा है, जीएसटी की जटिलता के कारण निवेश घट रहा है, पेट्रोल तथा डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं और अर्थव्यवस्था का दर्पण माना जाने वाला रुपया गिरावट के नित नया रिकॉर्ड बना रहा है।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस में शामिल होकर बोले किरण कुमार रेड्डी- राहुल गांधी से तेलुगू लोगों को बहुत उम्मीद

'बेमेल गठबंध से बढ़ा आतंकवाद'

कश्मीर नीति को लेकर भी सुरजेवाला ने बीजेपी सरकार की आलोचना की और कहा कि राज्य में सरकार बनाने के लिए पीडीपी के साथ बेमेल गठबंधन कर उसने कश्मीर की शांति को भंग किया है। वहां आतंकवाद बढ़ा है और देश को आतंकवादी घटनाओं में तीन सौ से ज्यादा सैनिकों की शहादत का दंश झेलना पड़ा है।

'सिर्फ अपना फायद देखते हैं मोदी-महबूबा'

सुरजेवाला ने बीजेपी-पीडीपी गठबंधन टूटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने आरोप लगाया कि राजनीतिक समीकरणों के अनुसार, अपनी सहुलियत के हिसाब से ये दोनों दल गठबंधन बनाते हैं और फिर उसे तोड़ देते हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned