Navjot Singh Sidhu को लेकर अब भी असंतोष! कांग्रेस सांसद ने अलग पार्टी बनाने की दी सलाह

  • पंजाब कांग्रेस में एक बार फिर Navjot Singh Sidhu को लेकर शुरू हुआ विरोध
  • लुधियाना से सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने सिद्धू को दी अलग पार्टी बनाने की सलाह
  • बोले- सिद्धू किसी के साथ या अधीन रहकर नहीं कर सकते काम

By: धीरज शर्मा

Published: 12 Oct 2020, 09:29 AM IST

नई दिल्ली। कांग्रेस के फायरब्रांड नेता और पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ( Navjot Singh Sidhu ) को लेकर प्रदेश में अब घमासान जारी है। कांग्रेस नेता अब भी सिद्धू के काम के तरीके से खुश नहीं है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब में किए गए ट्रैक्टर प्रोटेस्ट मार्च के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू के व्यवहार को लेकर उनके खिलाफ पंजाब कांग्रेस के नेता अब आवाज उठाने लगे हैं।

अब कांग्रेस के ही सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने सिद्धू को लेकर बड़ा बयान दे डाला है। बिट्टू का कहना है कि सिद्धू किसी के साथ काम नहीं कर सकते हैं। यही नहीं उन्होंने सिद्धू को अलग पार्टी बनाने की सलाह तक दे डाली है।

मानसून को लेकर मौसम विभाग ने जारी किया बड़ा अलर्ट, देश के इन राज्यों में तूफानी हवाओं के साथ होगी भारी बारिश

पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू कई दिनों बाद एक बार फिर कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस के प्रदर्शन में सक्रिय नजर आए। लेकिन उन्हें क्या पता था कि उनकी ये सक्रियता उन्हीं की पार्टी नेताओं के निशाने पर आ जाएगी।

पंजाब के लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने अपने फेसबुक पेज पर एक वीडियो जारी कर सिद्धू पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि सिद्धू ने राहुल गांधी के कार्यक्रम के दौरान जिस तरह से अपना रवैया दिखाया उसकी वजह से अखबारों और टीवी चैनलों में राहुल की कम चर्चा हुई, बल्कि नवजोत सिंह सिद्धू की नाराजगी को लेकर ज्यादा बातें हुईं।

यही नहीं कांग्रेस सांसद बिट्टू ने कहा कि सिद्धू का ये रवैया पार्टी को काफी नुकसान पहुंचा रहा है और उन्हें लगता है कि सिद्धू का राशिफल ऐसा नहीं है कि वो किसी एक नेता या पार्टी के अधीन काम कर सकते हैं। यही वजह है कि उन्हें अपनी अलग पार्टी बना लेनी चाहिए।

जिस पार्टी में रहे उसे नुकसान पहुंचाया
कांग्रेस सांसद ने सिद्धू पर लगातार कई प्रहार किए। उन्होंने कहा कि सिद्धू जिस भी पार्टी में रहे उसे नुकसान पहुंचाने का काम ही किया है।

बिट्टू ने सिद्धू पर क्रिकेट की भाषा में भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि सिद्धू राजनीति को टी-20 और वनडे की तरह देखते हैं जबकि इसमें टेस्ट की तरह सभी को साथ लेकर पांच दिन ( पांच साल) की पारी खेलनी होती है।

लीबिया में बंधक बनाए गए चार राज्यों के सात भारतीय हुए रिहा, जानें कैसे आतंकियों ने कर लिया था किडनैप

बहरहाल बिट्टू के इस तंज के बाद अब तक सिद्धू की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। लेकिन राजनीतिक जानकारों की मानें तो सिद्धू को लेकर पंजाब कांग्रेस लगातार सख्त रवैया अपनाए हुए हैं।कांग्रेस आलाकमान ने समय रहते इस मसले को नहीं सुलझाया तो ये बड़ा नुकसान कर सकता है।

Congress
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned