हरियाणा के मंत्री के निशाने पर सिद्धू, भारत छोड़ पाकिस्तान जाकर बसने की दी सलाह

हरियाणा के मंत्री के निशाने पर सिद्धू, भारत छोड़ पाकिस्तान जाकर बसने की दी सलाह

Mohit sharma | Publish: Oct, 14 2018 09:00:26 AM (IST) राजनीति

पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के पाक समर्थित बयान पर हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कड़ी टिप्पणी की है।

नई दिल्ली। पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के पाक समर्थित बयान पर हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कड़ी टिप्पणी की है। हरियाणा के मंत्री ने सिद्धू को भारत छोड़कर पाकिस्तान में जाकर बसने की सलाह दी है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने शनिवार को ट्वीट कर पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के उस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान का गुणगाण किया था। अनिल ने ट्विटर पर नवजोत सिंह सिद्धू को संबोधित करते हुए लिखा कि अगर आपको आतंकिस्तान के नाम से जाने जाने वाले पाकिस्तान और उनकी गोली की भाषा इतनी ही अच्छी लगती है, तो आपको बजाए भारत में रहकर पाक एजेंट की तरह व्यवहार करने के वहीं जाकर बसना जाना चाहिए।

पंजाब: एक रात में महिला से दो बार सामूहिक दुष्कर्म, पुलिस ने चार आरोपियों को किया गिरफ्तार

आपको बता दें कि हाल ही में एक कार्यक्रम के दौरान सिद्धू ने पाकिस्तान के समर्थन में बड़ा बयान दिया था। अपने बयान में सिद्धू ने पाकिस्तान को दक्षिण भारत से बेहतर बताया था। उन्होंने कहा था कि दक्षिण भारत में जाने से अच्छा है कि पाकिस्तान जाया जाए, क्योंकि वहां न तो बोली बदलती है और न लोग। जबकि दक्षिण भारत में खानपान से लेकर बोली तक सबकुछ बदल जाता है।

नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान को बताया दक्षिण भारत से बेहतर, इसलिए पाक सेना प्रमुख को लगाया था गले

उन्होंने कहा था कि आपको पाकिस्तान में रहने के लिए अंग्रेजी या तेलुगू सीखने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस दौरान सिद्धू ने पाक पीएम इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में वहां के सेना प्रमुख को गले लगाने की बात पर भी स्पष्टीकरण दिया था। पूर्व क्रिकेटर ने कहा था कि यह सब अचानक हुआ था। इस दौरान सिद्धू ने कहा था कि पाक सेना अध्यक्ष के साथ उनकी यह झप्पी रफाल डील की तरह नियोजित नहीं थी। बल्कि अचानक हुई इस भेंट में दौरान पाक सेना प्रमुख ने सिखों के तीर्थस्थल करतारपुर साहिब कॉरिडोर को खोलने का आश्वास भी दिया था। यही कारण है कि वह उनको गले लगाए बिना नहीं रह सके। उन्होंने कहा कि यह कॉरिडोर सिखों का एक सपना है, जो पूरा होना चाहिए।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned