कर्नाटक: कांग्रेस नेता रोशन बेग बोले, 'मैं पार्टी का अनुशासित सिपाही हूं'

कर्नाटक: कांग्रेस नेता रोशन बेग बोले, 'मैं पार्टी का अनुशासित सिपाही हूं'

Dhirendra Kumar Mishra | Updated: 04 Jun 2019, 03:23:26 PM (IST) राजनीति

  • रोशन बेग ने हार के लिए केसी वेणुगोपाल और सिद्धारमैया को ठहराया जिम्मेदार
  • प्रदेश कांग्रेस की गतिविधियों को लेकर मूकदर्शक बने रहना मुश्किल
  • कांग्रेस नेता रोशन बेग ने कहा कि जरूरत पड़ने पर कांग्रेस छोड़ सकता हूं

नई दिल्‍ली। कर्नाटक कांग्रेस के नेता रोशन बेग ने कहा है कि मैं कांग्रेस का अनुशासित सिपाही हूं। चुनाव परिणामों को लेकर मैंने, पार्टी प्रदेश नेतृत्व के खिलाफ बयान दिया है, न कि केंद्रीय नेतृत्व के खिलाफ। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस हाईकमान के खिलाफ एक शब्‍द नहीं बोला है। कर्नाटक कांग्रेस में जो कुछ भी हो रहा है उसको लेकर मैं मूकदर्शन बना नहीं रह सकता।

 

21 मई को उन्‍होंने कहा था कि प्रदेश नेतृत्‍व ने रामलिंगा रेड्डी और मुझ जैसे वरिष्ठ नेताओं को एक योजना के तहत उपेक्षा की है। यही वजह है कि प्रदेश नेतृत्‍व के खिलाफ बोलना पड़ा है।

BJP-JDU में गतिरोध से RJD को मिल गया चुनावी सदमे से उबरने का मौका?

केसी वेणुगोपाल को बताया था मसखरा

लोकसभा चुनाव के सभी चरणों का मतदान संपन्‍न होने के बाद एग्जिट पोल के अनुमान सामने आने के बाद कर्नाटक के कांग्रेस विधायक रोशन बेग ने पार्टी छोड़ने के संकेत दिए थे। कर्नाटक में बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाने के लिए उन्‍होंने कर्नाटक कांग्रेस प्रभारी केसी वेणुगोपाल और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को जिम्मेदार ठहराया था। उन्‍होंने वेणुगोपाल को मसखरा और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को दंभी बताया था।

CBI की विशेष अदालत ने रॉबर्ट वाड्रा को विदेश जाने की इजाजत दी

मुस्लिम भाई भाजपा से मिला लें हाथ

मतगणना से पहले 21 मई को उन्‍होंने मुस्लिमों नेताओं से अपील की थी कि अगर केंद्र में एनडीए की सरकार बनती है तो समझौता कर लें। बेग ने कहा था कि मैं मुस्लिम भाइयों से अनुरोध करता हूं कि जरूरत पड़ने परमुसलमानों को भाजपा से हाथ मिला लेना चाहिए। हमें किसी एक पार्टी का वफादार नहीं बने रहना चाहिए। कर्नाटक में मुसलमानों के साथ क्या हुआ? कांग्रेस ने सिर्फ एक टिकट दिया। अगर जरूरत पड़ी तो कांग्रेस जरूर छोड़ूंगा।

 

कुमारस्‍वामी को नहीं करने दिया जा रहा है काम

कांग्रेस नेता रोशन बेग ने कर्नाटक में पार्टी के कमजोर प्रदर्शन के लिए प्रदेश प्रभारी वेणुगोपाल,पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया और पार्टी के वरिष्‍ठ नेता गुंडु राव को जिम्मेदार ठहराया था। उनका मानना है कि पार्टी के ये नेता मुख्यमंत्री कुमारस्वामी को हार के लिए जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते। जेडीएस नेता और प्रदेश के सीएम कुमारस्‍वामी को तो काम ही नहीं करने दिया जा रहा। उन्‍होंने कहा कि सिद्धारमैया कांग्रेस-जेडीएस की सरकार बनने के बाद से ही कहते आए हैं कि वो प्रदेश का मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं।

आंध्र प्रदेशः विजय साईं की चेतावनी, चोरों को नहीं बख्‍शेंगे जगन मोहन रेड्डी

बेग की निजी राय

कांग्रेस विरोधी बेग के इस रुख पर कर्नाटक के उप मुख्‍यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता जी परमेश्‍वर ने कहा था कि बेग की राय व्यक्तिगत है। पार्टी का इससे कोई लेना-देना नहीं है। 23 को लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद प्रदेश प्रभारी केसी वेणुगोपाल सियासी रणनीति पर चर्चा करेंगे।

दोस्‍त की ई-मेल से हैकर ने पूर्व CJI को लगाया चूना

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned