अमित शाह को ममता के भतीजे की चुनौती, बंगाल में 22 बूथ जीत कर दिखाएं भाजपा अध्यक्ष

अमित शाह को ममता के भतीजे की चुनौती, बंगाल में 22 बूथ जीत कर दिखाएं भाजपा अध्यक्ष

Mohit sharma | Publish: Aug, 28 2018 02:29:20 PM (IST) राजनीति

सीएम ममता बनर्जी ने सीपीएम पर भी हमला बोलते हुए कहा कि गुंडे और बदमाश पहले उसके लिए काम करते थे और इन दिनों वो भाजपा की शरण में हैं।

नई दिल्ली। 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर अभी से सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है। इस लड़ाई में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच टकराव होता नजर आ रहा है। दरअसल, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पश्चिम बंगाल में 22 से अधिक सीटें जीतने की दावा कर चुके हैं। वहीं राज्य की मुख्यमंत्री और टीएमसी की अध्यक्ष ममता बनर्जी के भतीजे ने अमित शाह को खुली चुनौती दी। ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने कहा ह है कि भाजपा अध्यक्ष 22 लोकसभा सीटें तो क्या 22 बूथ ही जीत कर दिखा दें। आपको बता दें कि अभिषेक की ओर से यह बयान यहां एक रैली को संबोधित करने के दौरान आया।

दिल्ली में आज भाजपा की 'महाबैठक', मुख्यमंत्रियों के साथ 2019 की रणनीति पर मंथन करेंगे पीएम मोदी और शाह

दरअसल, इससे पहले रैली को संबोधित करते हुए सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि नोटबंदी देशवासियों के लिए एक पहले बनकर रह गई है। अभी तक उसके परिणामों की किसी को कोई जानकारी नहीं है। हालत यह है कि रुपया अभी तक के सबसे निचले स्तर पर आ चुका है। सीएम ने भाजपा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि ये लोग जंगलमहल में कुछ सीटें क्या जीत गए इन्होंने हिंसा की राजनीति शुरू कर दी। उन्होंने सीपीएम पर भी हमला बोलते हुए कहा कि गुंडे और बदमाश पहले उसके लिए काम करते थे और इन दिनों वो भाजपा की शरण में हैं।

दिग्विजय सिंह की पीएम मोदी को नसीहत, मर्द बनो और सप्रंग की कामयाबी स्वीकार करो

ममता बनर्जी ने कहा कि भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में एनकाउंटर के नाम पर बेकसूर लोगों का खून बहाया जा रहा है। आलम यह है कि आज लोगों के पास अपना धर्म तक चुनने का अधिकार शेष नहीं बचा है। एतिहासिक स्थलों के नाम बदले जा रहे हैं। मुगलसराय का नाम बदल दिया गया, मैदानों के नाम बदलने की खबर भी आई थी। एनआरसी के मुद्दे पर असम अशांत है।

Ad Block is Banned