चुनाव से पहले राजनीतिक पार्टियों को झटका, प्रशांत किशोर ने अचानक किया बड़ा ऐलान

चुनाव से पहले राजनीतिक पार्टियों को झटका, प्रशांत किशोर ने अचानक किया बड़ा ऐलान

Kaushlendra Pathak | Publish: Sep, 10 2018 04:46:30 PM (IST) राजनीति

प्रशांत किशोर ने लोकसभा चुनाव से पहले बड़ा ऐलान कर दिया है।

नई दिल्ली। 2019 लोकसभा चुनाव की बिसात बिछ चुकी है। सभी राजनीतिक पार्टियों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। लेकिन, उससे पहले सभी बड़ी पार्टियों के लिए बुरी खबर आई है। दरअसल, राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले प्रशांत किशोर ने बड़ा ऐलान किया है। प्रशांत किशोर ने कहा कि इस बार वह चुनाव में किसी भी पार्टी के लिए कैंपेन नहीं करेंगे। उनके इस ऐलान से सियासी गलियारे में हलचल मच गई है।

किसी भी पार्टी के लिए नहीं करेंगे कैंपेन- पीके

अभी तक सब के मन में यह सवाल था कि इस बार प्रशांत किशोर किसी पार्टी के लिए कैंपेन करेंगे। लेकिन, सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए पीके ने अपना रूख साफ कर दिया। चर्चा यहां तक था कि क्या प्रशांत किशोर राजनीति में उतरेंगे? हालांकि, प्रशांत किशोर ने राजनीति में आने की अटकलों को भी खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि फिलहाल उनका राजनीति में आने का कोई इरादा नहीं है।


राजनीति में आने की कोई योजना नहीं- पीके

हैदराबाद के इंडियन स्कूल ऑफ बिजनस (आईएसबी) के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीके ने कहा कि वह पिछले दो साल से कैंपेनिंग नहीं करने को लेकर सोच रहा थे। उन्होंने कहा कि यूपी चुनाव के नतीजों के बाद से मैं लगातार इससे अलग होने को लेकर विचार कर रहा था। आखिरकार मैंने फैसला कर लिया है कि 2019 में प्रशांत किशोर किसी भी पार्टी या फिर नेता के लिए चुनाव प्रचार नहीं करेंगे। साथ ही उन्होंने चुनाव लड़ने की अटकलों को भी विराम लगाते हुए कहा कि उनका फिलहाल राजनीति में उतरने का कोई इरादा नहीं है। प्रशांत किशोर ने आगे की योजना के बारे कहा कि मैं कुछ ऐसा करना चाहता हूं, जो मुझे जमीन से जोड़ने में मदद करें। उन्होंने कहा कि मैं शायद बिहार जाऊं या फिर गुजरात भी जा सकता हूं। उन्होंने कहा कि मैंने कभी कल्पना नहीं की थी कि इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (आई-पैक) बनाऊंगा। हालांकि, उन्होंने बताया कि उनका ग्रुप बिना उनके भी काम करता रहेगा।


गौरतलब है कि प्रशांत किशोर ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के लिए कैंपेन किया था। इसके बाद 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में पीके ने जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के महागठबंधन के लिए कैंपेन किया। 2017 में यूपी विधानसभा के दौरान उन्होंने कांग्रेस के लिये काम किया। हालांकि, दो बार प्रशांत किशोर को बड़ी सफलता मिली, लेकिन यूपी में उनका जादू नहीं चल पाया।

Ad Block is Banned