Mehbooba Mufti की हिरासत बढ़ाए जाने पर Rahul gandhi का ट्वीट- ऐसा करना लोकतंत्र पर बड़ा आघात

  • Rahul Gandhi ने Jammu-Kashmir में PDP leader Mehbooba Mufti की रिहाई को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा
  • Indian government द्वारा गैरकानूनी ढंग से सियासी दलों के नेताओं को हिरासत में लेना लोकतंत्र पर एक बड़ा आघात

By: Mohit sharma

Updated: 02 Aug 2020, 11:25 PM IST

ई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ( Congress Leader Rahul Gandhi ) ने जम्मू-कश्मीर में पीडीपी नेता व पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ति ( PDP Leader Mehbooba Mufti ) की रिहाई को लेकर मोदी सरकार ( Modi government ) पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) ने रविवार को एक ट्वीट में कहा कि भारत सरकार ( Indian government ) द्वारा गैरकानूनी ढंग से सियासी दलों के नेताओं को हिरासत में लेना लोकतंत्र पर एक बड़ा आघात है। उन्होंने PDP चीफ को छोड़े जाने की मांग करते हुए कहा कि यह बिल्कुल सही समय है, जब महबूबा मुफ्ती ( Mehbooba Mufti ) को छोड़ा दिया जाना चाहिए। आपको बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी का यह ट्वीट महबूबा मुफ्ती की हिरासत अवधि तीन महीने बढ़ाए जाने के बाद आया है।

Tamil Nadu Governor Banwarilal Purohit कोरोना से संक्रमित, Swatantra Dev Singh भी पॉजिटिव

Twitter-twitter खेलने वालों को Surjewala की सलाह- social media पर बयानबाजी से दूर रहे नेता

पिछले साल 15 अगस्त में जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती हिरासत में हैं। इस दौरान उनके परिजनों और पार्टी कार्यकर्ताओं ने द्वारा महबूबा को छोड़े जाने की मांग लगातार उठती रही हैं। इस बीच राहुल गांधी के महबूबा को छोड़े जाने की मांग वाले ट्वीट ने इस बहस को फिर से खड़ा कर दिया है। आपको बता दें कि राहुल गांधी ट्विटर के माध्यम से मोदी सरकार पर लगातार निशाना साध रहे हैंं। यह पहली बार नहीं है, जब राहुल ने केंद्र सरकार को घेरा है। इससे पहले भारत-चीन के बीच तनाव, कोरोना संकट और अर्थव्यवस्था को लेकर केंद्र सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाए थे।

India-China Dispute: लद्दाख में तनाव पर बोले S Jaishankar, China से मुकाबले के लिए भारत को तैयार रहना होगा

वहीं, महबूबा मुफ्ती की हिरासत अवधि बढ़ाने जाने के बाद पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने भी सरकार पर निशाना साधा है। चिदंबरम ने अपने ट्वीट में कहा कि महबूबा को पीएसए के तहत हिरासत में रखना बिल्कुल गलत है।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned