CBSE Board: प्री-बोर्ड नंबरों के आधार पर 11वीं के छात्र चुन सकेंगे ऐच्छिक विषय

CBSE Board: सीबीएसई बोर्ड ने बोर्ड परीक्षार्थियों के इम्तहान बुधवार को रद्द कर दिए है। लेकिन 11वीं कक्षा में ऐच्छिक विषय कैसे मिलेगा? यह सवाल पालकों और परीक्षार्थियों को परेशान कर रहा था

By: Ashish Gupta

Published: 16 Apr 2021, 12:14 PM IST

रायपुर. सीबीएसई बोर्ड ने बोर्ड परीक्षार्थियों के इम्तहान बुधवार को रद्द कर दिए है। बोर्ड परीक्षार्थियों ने इम्तहान रद्द होने पर खुशी जताई थी, लेकिन 11वीं कक्षा में ऐच्छिक विषय कैसे मिलेगा? यह सवाल पालकों और परीक्षार्थियों को परेशान कर रहा था। पत्रिका ने पालकों और परीक्षार्थियों की समस्या को समाप्त कर दिया है। CBSE Board के जिम्मेदारों की मानें तो Board Exam पास करके 11वीं में जाने वाले छात्रों को ऐच्छिक विषय प्री-बोर्ड नंबर के आधार पर मिलेंगे। प्री-बोर्ड नंबरों के आधार पर स्कूल प्रबंधन छात्र को ऐच्छिक विषय आवंटित करेगा और उसके बाद उसको ऑनलाइन क्लास दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: IGNOU Admission: 15 अप्रैल तक IGNOU में प्रवेश लेने के लिए करें आवेदन

1 मई से शुरू होगी क्लास
10वीं में प्रमोशन पाने वाले छात्रों को 11वीं में प्रवेश देने की प्रक्रिया दो से तीन दिन में शुरू होगी। प्रदेश में निजी स्कूलों को प्रतिनिधित्व करने वाली संस्था छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के पदाधिकारियों की मानें तो 1 मई से नए सेशन की क्लास भी शुरू कर दी जाएगी। शासन का निर्देशानुसार क्लास पहले ऑनलाइन शुरू की जाएगी। संक्रमण की स्थिति जब काबू में आ जाएगी, तो छात्रों को ऑफलाइन क्लास में पढ़ाया जाएगा।

सीटों की रहेगी मारा-मारी
अच्छे स्कूलों में प्रवेश लेने के इच्छुक छात्रों को सीटों को लेकर इस वर्ष परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इस स्थिति से निपटने के लिए निजी स्कूलों ने एक और रास्ता निकाला है। नंबरों के प्रतिशत के आधार पर छात्रों को प्रवेश दिया जाएगा, लेकिन प्री-बोर्ड के नंबरों को भी प्रवेश के दौरान एक बार देखा जाएगा। जिन छात्रों के बोर्ड प्रतिशत एक सामान है और प्री-बोर्ड के नंबरों में फर्क है, तो जिसके प्री-बोर्ड में नंबर ज्यादा है, उसे सीट देने में प्राथमिकता दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: CG Board 10वीं की परीक्षा स्थगित होने के बाद जानिए कब से शुरू होंगे एग्जाम

छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव गुप्ता ने कहा, प्री-बोर्ड परीक्षा के नंबरों के आधार पर 11वीं के छात्र ऐच्छिक विषय चुन सकते है। 1 मई से नए सेशन की ऑनलाइन क्लास शुरू कर दी जाएगी। बोर्ड की परीक्षा रद्द होने से विषय चुनने को लेकर फर्क नहीं पड़ेगा, लेकिन प्रतिशत पर इस निर्णय का फर्क पड़ सकता है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned