राजगढ़ थप्पड़ कांड : कलेक्टर पर अभद्र टिप्पणी कर अब बेकफुट पर आए पूर्व मंत्री, विरोध में उतरा प्रशासन

राजगढ़ थप्पड़ कांड : महिला कलेक्टर पर टिप्पणी कर फंसे पूर्वमंत्री, बाद में मांगी माफी, कर्मचारियों-अधिकारियों ने की हड़ताल

By: Faiz

Updated: 23 Jan 2020, 03:23 PM IST

राजगढ़/ बुधवार को ब्यावरा में पूर्व मंत्री और भाजपा नेता बद्रीलाल यादव द्वारा कलेक्टर निधि निवेदिता खिलाफ की गई अभद्र भाषा वाले बयान पर मध्य प्रदेश आईएएस एसोसिएशन ने कड़ा विरोध जताते हुए कलमबंध हड़ताल कर दी है। इधर, पूर्व मंत्री यादव भी अपने द्वारा की गई अभद्र टिप्पणी को लेकर बेकफुट पर आए हैं। एक न्यूज चेनल को दिये साक्षात्कार में बद्रीलाल यादव ने अपने बयान को लेकर सफाई दी। उन्होंने कहा कि, मैंने पहले ही कहा था कि मेरे बात को अन्यथा न लिया जाए। फिर भी अगर किसी को ठेस पहुंची है तो मैं अपने बयान पर खेद व्यक्त करता हूं। मेरे कहने का आशय गलत नहीं था।

 

पढ़ें ये खास खबर- घर में घुसकर युवक को जिंदा जलाया, दिल्ली में इलाज के दौरान मौत, सीएम ने किया ट्वीट


विरोध में हड़ताल पर गए दर्जनभर विभाग

हालांकि, भाजपा नेता की इस माफी से पहले ही जिले में उनके विवादित बयान के विरोध में बुधवार को ही लोग सड़कों पर उतर आए हैं। वहीं, महिला कलेक्टर पर की गई अभद्र टिप्पणी से नाराज जिले के एक दर्जन से ज्यादा संगठनों के कर्मचारी और अधिकारी गुरुवार को कलम बंद हड़ताल पर चले गए हैं। इन विभागों की हड़ताल का असर कलेक्टरेट और तहसील कार्यालय पर भी पड़ा है। यहां आज कामकाज पूरी तरह ठप हो गया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- राजगढ़ थप्पड़ कांड पर गर्माई सियासत, सरकार का आरोप- 'बीजेपी की रैली में शामिल थे अपराधी'


इन विभागों ने शुरु की हड़ताल

गुरुवार सुबह जिले के लगभग सभी सरकारी कार्यालय हड़ताल पर हैं। इनमें पटवारी संघ, आरआई संघ, नगरपालिका कर्मचारी संघ, जिला सीएमओ, डिप्टी कलेक्टर, तहसीलदार नायब, तहसीलदार जनपद सीईओ, पंचायत इंस्पेक्टर, रोजगार सहायक, पंचायत मंत्री आदि से जुड़े कर्मचारी शामिल हैं। कर्मचारी संघ ने कलम बंद हड़ताल में काली पट्टी बांधकर भाजपा नेता के बयान का विरोध जताया। यही नहीं तहसीलों और कलेक्टरेट के सभी अधिकारी-कर्मचारी बयान के विरोध में उतर आए हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- केन्द्र सरकार की इस बड़ी कंपनी के आधे से ज्यादा Employees छोड़ने वाले हैं नौकरी, जानिए वजह


आईएएस एसोसिएशन ने जताई आपत्ति

मध्य प्रदेश आईएएस एसोसिएशन के अध्यक्ष आईसीपी केशरी ने विभागीय पत्र जारी करते हुए कहा कि, राजगढ़ में महिला अधिकारी के खिलाफ बयान कामकाजी महिलाओं को हतोत्साहित और उन्हें नीचा दिखाने वाला है। इसके अलावा, स्वाति मीणा ने ट्वीट करते हुए कहा कि, भाजपा नेता द्वारा उपयाेग किए गए शब्द महिलाओं के सम्मान के खिलाफ हैं। क्या यह वही धरती है जहां दुर्गा और लक्ष्मी की पूजा की जाती है। पी. नरहरि ने भी ट्वीट करते हुए कहाकि, वे किसी भी अधिकारी और महिला के लिए उपयोग किए गए ऐसे बयानों का विरोध करते हैं। इसके अलावा, रघुराज राजेंद्रन ने भी ट्वीट के जरिये कहा कि, पब्लिक मीटिंग में इस तरह की भाषा प्रदेश और देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकती।

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned