यहां जमीन उगल रही है सोने के सिक्के! पुलिस की मनाइदी के बाद भी नदी में खुदाई नहीं रोक रहे ग्रामीण

पार्वती नदी के किनारे सोने के सिक्कों की खोज में खुदाई करने में जुटे हैं सैकड़ों ग्रामीण। पुलिस की समझाइश का भी कोई असर नहीं।

By: Faiz

Published: 09 Jan 2021, 10:12 PM IST

राजगढ़/ कुरावर के पास स्थित गणुपुरा गांव में पिछले एक सप्ताह से एक ग्रामीण पार्वती नदी के किनारे सोने के सिक्कों की खोज में खुदाई करने में लगे हुए हैं। सैकड़ों की संख्या में यहां ग्रामीण दिन-रात खुदाई करने में जुटे हैं। मामले को लेकर पत्रिका ने प्रमुखता से इसपर प्रशासन को ध्यानाकर्षण कराया है। इसपर कुरावर थाना प्रभारी शनिवार को अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे, जैसे ही पुलिस को ग्रामीणों ने पास आते देखा, तो वो चिल्लाते हुए वहां से भागने लगे। लेकिन, उन्हें पुलिस ने समझाइश देकर रोका और इस तरह खुदाई करने को लेकर उन्हें समझाइश दी कि इससे कुछ हासिल होने वाला नहीं। लेकिन ग्रामीणों ने इसे नकार दिया और वो अपने काम में दोबारा लग गए।

 

पढ़ें ये खास खबर- MP पुलिस भर्ती 2021 : स्थगित नहीं हुई है कांस्टेबल भर्ती परीक्षा, गृहमंत्री ने दी सफाई

 

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

पिछले दिनों खुदाई में मिले थे सिक्के

पिछले दिनों पार्वती नदी के किनारे किसी व्यक्ति को खुदाई के दौरान सिक्के मिले थे। जब ये बात गांव में पहुंची तो, वहां एक के बाद एक लोगों ने खोदना शुरू कर दिया। यह खुदाई अभी भी बदस्तूर जारी है।


खुदाई में निकल रहे हैं ऐसे सिक्के

बता दें कि, नदी में जिस तरह से ग्रामीण खुदाई कर रहे हैं उसमें कुछ तांबे जैसी धातु के सिक्के निकल रहे हैं और उन सिक्कों में उर्दू या फारसी भाषा लिखी हुई है। हालांकि, वहां जब पत्रिका की टीम पहुंची, तो ग्रामीणों ने उन्हें कुछ भी बताने से इंकार कर दिया। लेकिन, टीम द्वारा मुश्किल से एक व्यक्ति को तैयार किया गया, जिसने बताया कि इस तरह के सिक्के निकल रहे हैं। दिनभर में अगर पांच सिक्के निकल आते हैं, तो उनकी दिनभर की मजदूरी पूरी हो जाती है।

 

पढ़ें ये खास खबर- नायक फिल्म की तरह कलेक्टर ने की ऑनस्पॉट कार्रवाई, माइनिंग इंस्पेक्टर की शिकायत मिली तो दिये जांच के आदेश


पुरातत्व विभाग को लेनी चाहिए जानकारी

पुरातत्व विभाग को इसपर ध्यान देने की जरूरत है कि, आखिर यहां ऐसा क्या था कि इस तरह के सिक्के निकल रहे हैं और ये सिक्के किस काल के हैं और इस जगह से इन सिक्कों का क्या रिश्ता है।


अगरबत्ती लगाकर शुरू करते हैं काम

गणुपुरा के पर पार्वती नदी मे बैराज बना हुआ है, बैराज के पास मलवा जमा हुआ है जो एक टीले के रूप मे तब्दील है। उसी टीले में ग्रामीण पहले आकर अगरबत्ती फू ल अर्पित करते है, फिर खुदाई शुरू कर देते हैं। जिस तरह सिक्का दिखाया गया है, ऐसा लगता है कि जरूर कुछ मिल रहा है। जिसे ग्रामीण जेब मे छुपाकर रख लेते हैं। हालांकि जो भी हो ग्रामीणों की इस हरकत से कुरावर एवं सीहोर जिले से चरनाल की पुलिस एवं प्रशासन परेशान है।


थाना प्रभारी ने कही ये बात

कुरावर थाना प्रभारी रामनरेश राठौर ने बताया कि, 'मैं घंटों खड़े रहकर मौके पर जांच की है, अब तक किसी भी तरह के सिक्के या कोई वस्तु नहीं निकल रही, सब अफवाह है। ग्रामीणों को समझाइश दे रहा हूं। पर मेरे जाने के बाद फिर इकट्ठे होकर खुदाई शुरु कर देते हैं। उधर, चरनाल पुलिस भी लगातार गश्त कर रही है। मैं खुद भी सुबह से शाम तक चार राउंड लगाकर मोआयना करता हूं। राठौर ने बताया कि, डर सिर्फ इस बात का है कि, ग्रामीण कहीं आपस में ही एक दूसरे से न झगड़ पड़ें।

 

सुसाइड की कोशिश का LIVE वीडियो, देखकर रह जाएंगे हैरान

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned