दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर औद्योगिक हब का एक कदम और, MPRDC-NHI के बीच करार

पत्रिका खास-खबर...8 लेन दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर औद्योगिक हब का एक कदम और बढ़ा, एमपीआरडीसी और एनएचआई में अनुबंध साइन हुआ।

By: Faiz

Published: 14 Oct 2021, 05:57 PM IST

रतलाम. मालवा समेत मध्य प्रदेश में तरक्की की नई राह दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर औद्योगिक निवेश क्षेत्र विकसित करने के प्रस्ताव का करार हो गया है। मध्य प्रदेश सड़क विकास प्राधिकरण (MPRDC) और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHI) के बीच हुए अनुबंध के साथ ही नए औद्योगिक निवेश क्षेत्र का रास्ता भी साफ हो गया है। अब रतलाम इस अत्याधुनिक सड़क प्रोजेक्ट पर मध्य प्रदेश का सबसे महत्वपूर्ण पाइंट बन जाएगा। यहां प्रस्तावित करीब 1000 हेक्टेयर के निवेश क्षेत्र में सीधे केंद्रीय स्तर से व्यवस्थाएं होगी और नए निर्माण किए जाएंगे। इसका बड़ा लाभ मालवांचल के प्रमुख शहरों रतलाम के साथ ही उज्जैन, मंदसौर, नीमच, झाबुआ, आलीराजपुर और जावरा-नागदा जैसे मझले शहरों को भी मिलेगा।


सड़क प्राधिकरण से राजमार्ग प्राधिकरण तक का सफर

News

दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे पर रतलाम के पास करीब एक हजार 800 हेक्टेयर क्षेत्र निवेश समेत अन्य निर्माण के लिए सुरक्षित किया गया है। इसमें से करीब एक हजार हेक्टेयर क्षेत्र अब एमपीआरडीसी ने एनएचआई को दे दिया है। यहां एनएचआई नया निवेश क्षेत्र तैयार करेगा। ये नया निवेश क्षेत्र इस एक्सप्रेस-वे पर प्रदेश में सबसे बड़ा व प्रमुख रहेगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- देश का सबसे बड़ा एक्सप्रेस-वे, सिर्फ 12 घंटे में पहुंचेंगे दिल्ली से मुंबई, जानिये खूबियां


औद्योगिक कलस्टर और लॉजिस्टिक जोन

News

नए निवेश क्षेत्र में एक लॉजिस्टिक जोन एवं औद्योगिक कलस्टर प्रस्तावित है, इससे रतलाम समेत आसपास के जिलों में रोजगर के अवसर बढ़ेगे, तो नई संभावनाएं विकसित होगी। एक्सप्रेस-वे का सीधा लिंक देश के प्रमुख औद्योगिक शहरों से है, तो कई प्रदेशों के हवाई अड्डे और समुद्री बंदरगाह भी इससे लिंक कनेक्ट रहेंगे। इसका बड़ा लाभ मध्य प्रदेश के रतलाम को मिलेगा, क्योंकि नया निवेश क्षेत्र एक्सप्रेस-वे के दायरे में होने से बड़े निवेशक भी आकर्षित होंगे।


अब दिल्ली से विकास क्षेत्र का खाका बनेगा

News

नए निवेश क्षेत्र की भूमि के उपयोग संबंधी के बाद अब केंद्र स्तर से औद्योगिक निवेश क्षेत्र विकास का प्रस्ताव स्वीकृत की कतार में है। माना जा रहा है कि, इसपर शुरूआती मंथन हो चुका है, जल्दी ही एनएचआई से बनने वाले प्रस्ताव पर केन्द्र स्तर से भी स्वीकृति दी जा सकत है। इस प्रक्रिया के बाद राज्य सरकार के अधिन इस एक्सप्रेस-वे पर मध्यप्रदेश के रतलाम में पहला नया निवेश क्षेत्र तैयार होगा तो मंदसौर जिले में गरोठ के पास भी लॉजिस्टिक हब सहित एग्री फूड जोन के प्रस्ताव पर नई संभावनाएं निर्मित होगी।


अनुबंध के साथ आगे बढ़ी बात

News

इस संबंध में रतलाम शहर के विधायक चेतन काश्यप ने बताया कि, एमपीआरडीसी और एनएचआई के बीच रतलाम के पास एक्सप्रेस-वे पर नए निवेश क्षेत्र को लेकर भूमि संबंधी अनुबंध हो गया है। इसपर निवेश क्षेत्र का प्रस्ताव आगे बढ़ेगा। ये रतलाम जिले के साथ ही प्रदेश के लिए भी अहम है, क्योंकि नए निवेश क्षेत्र की स्थापना के बाद रोजगार के साथ ही औद्योगिक विकास की संभावनाएं काफी तेजी से बढ़ेगी। 16 सितंबर को केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी के साथ चर्चा के दौरान इस विषय पर बात की गई थी, उनके निर्देश पर ही समूची प्रक्रिया चल रही है।

 

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned