बसपा सुप्रीमाें की प्रेस वार्ता के बाद अचानक बिगड़ी चंद्रशेखर की तबियत ! जानिए क्या बाेले डॉक्टर

बसपा सुप्रीमाें की प्रेस वार्ता के बाद अचानक बिगड़ी चंद्रशेखर की तबियत ! जानिए क्या बाेले डॉक्टर

shivmani tyagi | Publish: Sep, 16 2018 04:36:42 PM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

राष्ट्रीय अध्यक्ष विनय रतन ने की तबियत बिगड़ने की पुष्टि, चक्कर आने पर पंखे के नीचे लेटाए गए, डॉक्टर ने कहा सफाेकेशन से हुई थी परेशानी

सहारनपुर।

लखनऊ में बसपा सुप्रीमाें मायावती की प्रेस कांफ्रेस के कुछ ही देर बाद यहां सहारनपुर में भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर की तबियत अचानक खराब हाे गई। अचानक चक्कर आने पर समर्थकाें ने उन्हे भीड़ से अलग ले जाकर पंखे में लेटाया आैर डॉक्टर काे बुलाया गया। भीम आर्मी सेना के अध्यक्ष विनय रतन ने भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर काे अचानक चक्कर आने से उनकी तबियत बिगड़ने की पुष्टि की है। हालांकि डॉक्टर ने भारी भीड़ में सफाेकेशन की वजह से एेसा हाेने की आशंका जताई है कि लेकिन बसपा सुप्रीमाें की प्रेस वार्ता के कुछ ही देर बाद अचानक चंद्रशेखर की तबियत बिगड़ने की घटना काे लेकर राजनीतिक गलियाराें में तरह-तरह की चर्चाएं हैं आैर चंद्रशेखर की अचानक तबियत बिगड़ने की घटना काे बसपा सुप्रीमाें मायावती की प्रेस कांफ्रेस से भी जाेड़कर चर्चाएं हाे रही हैँ।

 

जानिए प्रेस वार्ता में क्या बाेली मायावती

दरअसल, जेल से छूटने के बाद भीम आर्मी संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण ने मायावती काे बुआजी बताया था। भीम आर्मी संस्थापक ने कहा था कि बसपा सुप्रीमाें मायावती ने हमेशा दलिताें की लड़ाई लड़ी है। भाजपा काे हराने के लिए गठबंधन का समर्थन करने की बात भी इसी दाैरान चंद्रशेखर ने कही थी। चंद्रशेखर के इस बयान के बाद अब लखनऊ में अपने नए आवास पर बसपा सुप्रीमाें में प्रेस वार्ता करते हुए कहा कि हिंसा के आराेपियाें से उनका काेई रिश्ता नहीं है। चंद्रशेखर उन्हे बुआजी बता रहे हैं ताे यह उनका राजनीतिक स्वार्थ है। कुछ युवा अपनी राजनीतिक महत्वकांक्षा के लिए इस तरह के रिश्ते बना रहे हैं। बसपा सुप्रीमाें ने यह भी कहा है कि यदि चंद्रशेखर दलिताें के हितैषी है आैर बसपा का समर्थन करना चाहते हैं ताे इसके लिए अलग से संगठन बनाने की क्या आवश्यकता है बसपा के बैनर तले आकर ही काम करें।

 

 

जानिए क्या बाेले डॉक्टर

चंद्रशेखर की तबियत बिगड़ने पर उपचार के लिए पहुंचे स्थानीय डॉक्टर ने दूरसंचार पर हुई वार्ता में बताया कि चंद्रशेखर काे काफी समय से समर्थक घेरे हुए थे। लंबे समय तक कुछ ना खाने लगातार बाेलने आैर समर्थकाें के बीच रहने से सफाेकेशन की वजह से तबियत बिगड़ी थी। डॉक्टर ने यह भी बताया कि अब वह ठीक हैं, उनके लिए डाईट प्लान बनाया जा रहा है।

 

एेसे हुई पुष्टि

दरअसल, बसपा सुप्रीमाें के इस बयान पर चंद्रशेखर का क्या कहना है ? यह जानने के लिए पत्रिका रिपाेर्टर ने भीम आर्मी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनय रतन से टेलीफाेनिक वार्ता की थी। इसी दाैरान कॉल रिसीव हाेने पर बताया कि भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर की तबियत अभी ठीक नहीं है। वह स्वस्थ नहीं हैं आैर बात करने की स्थिति में नहीं है। पूछने पर बताया गया कि चंद्रशेखर काे अचानक चक्कर आ गए हैं। अब रेस्ट के लिए उन्हे पंखे के नीचे लेटाया गया है।

Ad Block is Banned