रामगढ़ व फतेहपुर में झमाझम

रामगढ़ व फतेहपुर में झमाझम

Vishwanath Saini | Publish: Jul, 13 2018 10:03:54 PM (IST) Sikar, Rajasthan, India

सीकर. आषाढ़ के बादल जिले में लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को भी मेहरबान रहे। कई जगह झमाझम बरसात हुई। इससे खेत लबालब हो गए। सर्वाधिक बरसात रामगढ़, फतेहपुर व लक्ष्मणगढ़ में दर्ज की गई। लगातार बरसात होने से किसानों के चेहरे खिले हुए हैं। सीकर शहर व आस-पास के क्षेत्र में बादल छाए रहे, लेकिन बरसे नहीं।

 


सीकर. आषाढ़ के बादल जिले में लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को भी मेहरबान रहे। कई जगह झमाझम बरसात हुई। इससे खेत लबालब हो गए। सर्वाधिक बरसात रामगढ़, फतेहपुर व लक्ष्मणगढ़ में दर्ज की गई। लगातार बरसात होने से किसानों के चेहरे खिले हुए हैं। सीकर शहर व आस-पास के क्षेत्र में बादल छाए रहे, लेकिन बरसे नहीं। बरसात से बुवाई में तेजी आ रही है। फसलों में बढ़वार हो रही है। जिन किसानों ने बुवाई नहीं की थी वे अब बुवाई में जुट गए हैं। वहीं फतेहपुर, लक्ष्मणगढ़ व रामगढ़ क्षेत्र के निचले इलाकों में पानी भर गया। लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

-------------------------
शहर बरसात एममएम में

रामगढ़ 80
फतेहपुर 60

लक्ष्मणगढ 60
----------------------

तारीख तापमान
13 जुलाई 26.6

12 जुलाई 37.8
11 जुलाई 40.5

10 जुलाई 42.8
----------------------

एक दिन में 11.2 डिग्री गिरा पारा
बरसात के कारण गर्मी से राहत मिली है। पारा एक ही दिन में 11.2 डिग्री कम हो गया है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 37.8 डिग्री दर्ज किया गया था, जो शनिवार को 26.6 डिग्री पर रह गया। -----------------------------------शहर से लेकर गांव तक लबालब, 60 एमएम बारिश दर्ज

-घरों, स्कूलों व दुकानों में घुसा पानी, जनजीवन प्रभावित
-रोलसाहबसर में मकान का आधा हिस्सा और एक दीवार ढहीफतेहपुर/ रोलसाहबसर . क्षेत्र में मानसून की पहली बरसात ने प्रशासन के दावों की पोल खोल कर रख दी। 60 एमएम बारिश में पूरा शहर जलमग्न हो गया। भारी बारिश के बाद शहर में जगह जगह पानी भर गया। जलभराव से जिस तरह हालात शहर में बिगड़े उसी तरह क्षेत्र के आधा दर्जन से ज्यादा गांवों में भी हालात खराब हो गए। क्षेत्र के मरडाटू बड़ी, नारी, रोलसाहबसर, बिराणियां सहित कई गांवों में जोरदार बारिश हुई। इससे लोगों के घरों में पानी भर गया। नारी गांव में स्थित माध्यमिक स्कूल में कक्षाओं में दो-दो फीट पानी जमा हो गया। कस्बे में छतरिया बस स्टैंड पर चार फीट से ज्यादा पानी भर गया। इसी तरह नवलगढ़ पुलिया व मंडावा पुलिया के नीचे चार-चार फीट पानी जमा हो गया। ऐसे में नवलगढ़ व मंडावा जाने वाले वाहनों को आवागमन का रास्ता बदलना पड़ा। बावड़ी गेट, सीकर रोड, पुराना सिनेमा हाल, छतरिया बस स्टैण्ड, साईं बाजार सहित कई इलाकों में दुकानों व घरों में पानी भर गया।

रोलसाहबसर गांव में मदन नाई के मकान का आधा हिस्सा ढह गया। इससे एक महिला चम्पा देवी को मामूली चोट आई। गांव के ही युनूस खां पुत्र नथू खां के मकान की दीवार ढह गई। हालांकि इससे कोई जनहानि नहीं हुई।

नाव को बनाया सहारा
बारिश के बाद पुराने सिनेमा हॉल क्षेत्र में जलभराव हो गया। लोगों को आवाजाही में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। आवागमन के लिए मोहल्लेवासियों ने लकड़ी पर बैठकर पानी पार किया। इलाकों में दुकानों व घरों में पानी भर गया।भोजदेसर गांव में घरों में घुसा पानी

जलभराव की सर्वाधिक समस्या भोजदेसर गांव में देखी गई जहां कई घरों में पानी घुस गया। खेतों में पानी भर गया वही गांव में स्थित जोहड़ भी पानी से लबालब भर गए।

----------------------------------
रामगढ़ शेखावाटी. कस्बा में शुक्रवार सुबह हुई बारिश के बाद निचले इलाकों में पानी भर गया। तहसील कार्यालय के अनुसार कस्बे में शुक्रवार सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक 80 मिमी बारिश दर्ज की गई। कस्बे का नया बस स्टैंड, वार्ड 10 की तीन गलिया, रेलवे स्टेशन मार्ग, भैरामल कुआं मार्ग, मंडावा मार्ग, वार्ड 8 का निचला क्षेत्र सहित कल्याण मार्केट की गलियां दरिया बन गई।

---------------------------------------
लक्ष्मणगढ़. शुक्रवार सुबह कस्बे में दो घंटे हुई झमाझम बारिश से कस्बे में पानी ही पानी हो गया। तहसील कार्यालय के अनुसार 60 एमएम बारिश दर्ज की गई। स्कूल समय पर शुरू हुई बारिश के कारण स्कूलों में जहां अघोषित अवकाश रहा, वहीं भारी बारिश के कारण सभी मुख्य रास्ते अवरुद्ध हो गए। प्रशासन की नाकामी के कारण निचले इलाकों में अवस्थित मकानों में पानी भर गया। खराब गुणवत्ता से हुए सीवरेज कार्य के कारण विभिन्न मार्गो पर लगभग एक दर्जन से अधिक गाडिय़ां सीवरेज के गड्डो में फंस गई। क्रेन से वाहनों को निकाला गया। मुकुन्दगढ़ रोड पर एक ट्रक के पलट गया। बारिश के कारण लगभग एक माह पूर्व बनी पालिका की सड़के भी जगह जगह से क्षतिग्रस्त हो गई। मावलियों की ढ़ाणी रोड स्थित अंबेडकर राजकीय छात्रावास, सिविल कोर्ट व उपखंड कार्यालय में पानी भरने से भी बच्चों, वकीलों व अन्य लोग परेशान हुए।

-----------------------------------------

खंडेला. कस्बे के बरसिंहपुरा मार्ग पर बरसात के दिनों में रास्तों व घरों में पानी भरने की समस्या से निजात दिलवाने के लिए शुक्रवार को उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर पानी की निकासी की मांग की गई है। ज्ञापन में बताया गया है कि बाईपास बरसिंहपुरा रोड गुलाब बाग से गैस एजेन्सी तक पिछले वर्ष गौरव पथ बनाया गया था। गौरव पथ की ऊंचाई लोगों के घरों व रास्तों से ज्यादा है तथा नालियों का निमार्ण भी नहीं करवाया गया है जिससे बरसात का पानी लोगों के घरों में घुस गया। बारिश के गंदे पानी की निकासी नहीं होने से लोगों और विद्यार्थियों को गंदे पानी में से ही गुजरना पड़ता है।
--------------------------------------

नेछवा. क्षेत्र में गुरुवार शाम को शुरू हुई बारिश शुक्रवार दोपहर को थमी। करीब 18 घंटे तक लगातार बरसात होती रही। तेज बरसात के कारण कई स्थानों पर नुकसान के भी समाचार है। गनेड़ी गांव में कई घरों के चारों तरफ दो से तीन फीट तक पानी भर गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned