तडक़े सीली शीतला ओ माय

www.patrika.com/sikar-news

By: Vinod Chauhan

Updated: 29 Mar 2019, 06:33 PM IST

श्रीमाधोपुर. कस्बे में चैत्र कृष्ण अष्टमी को लोक पर्व शीतला अष्टमी गुरुवार को मनाई गई। महिलाएं ने सामूहिक रूप से तडक़े सीली शीतला ओ माय, सरवर पूजती घर आए जैसे गीत गाती हुई शीतला माता मंदिर में पहुंची। महिलाओं ने एक दिन पूर्व रांधा-पुआ पर बनाये पुए-पकोड़ी, पूड़ी, पापड़ी, हलुआ, राबड़ी, घाट, गुंजिया, पेठे, सकरपारे आदि शीतल व्यंजनों का भोग लगाया। इसके बाद महिलाओं ने पत्थवारी पूजी। थोई. कस्बे के वार्ड १० में स्थित शीतला माता मंदिर में बास्योड़ा के दिन सुबह से ही महिलाएं मंगल गीत गाते हुए पहुंची। माता को ठंडे पकवानों का भोग लगाकर तथा कंडवारे चढ़ाकर कहानी भी सुनी। रींगस. कस्बे व आस पास के गांवों में महिलाओं ने शीतला माता के मंदिर में ठण्डे पकवानों का भोग लगाया। कुम्हारों के घर पर दिन भर गणगौर लेने के लिए आने वाली नव विवाहिताओं की भी भीड़ देखने को मिली। चला. ग्राम बागोली में शीतला माता का वार्षिक मेला में हजारों भक्तों ने माता के मत्था टेककर परिवार की सुख-समृद्धि की कामना की। महिलाओं और बच्चों ने मेले का लुत्फ उठाया। शीतलाष्टमी पर महिलाओं ने माता मंदिर में ठंडे पकवानों का भोग लगाया। इस अवसर पर बीएल ग्रुप के तत्वावधान में वॉलीबॉल प्रतियोगिता हुई। प्रथम व द्वितीय मुकाबले में बाघोली ने सुनारी को हराया। दूसरा मैच नंगली निर्वाण ने कारी को हराया। तीसरा मैच अभयपुरा ने भूदौली को हराया। इस अवसर पर आयोजित कुश्ती में ५१०० रूपये की अंतिम कुश्ती का मुकाबला राकेश पापड़ा व कालू जमालपुरिया हरियाणा के मध्य खेला गया जिसमें मुकाबला बराबरी का रहा। रात्रि को जागरण हुआ। मेले में चंग -धमाल प्रतियोगिता हुई। खाटूश्यामजी. कस्बे में महिलाएं सुबह पूजा की थाली व ठंडे पकवानों के साथ शीतला मंदिर पहुंची। कस्बे के तिवाडी, जांगिड मोहल्ला आदि जगह पर स्थित शीतला मंदिर में महिलाओं ने माता को पुए, पापडी, पुडी, राबडी आदि ठंडे पकवानों का भोग लगाया। इसके बाद घर पहुंचकर परिवार के सदस्यों के तिलक लगाया। घर के सभी सदस्यों ने इस दिन ठंडे व्यंजनों का ही भोजन किया।

Vinod Chauhan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned