भारत के ग्रीको रोमन पहलवान नहीं हासिल कर पाए ओलंपिक कोटा, करना पड़ा हार का सामना

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) ने विश्व ओलंपिक क्वालीफायर्स में ग्रीको रोमन इवेंट के लिए छह सदस्यीय टीम चुनी थी।

By: Mahendra Yadav

Published: 09 May 2021, 11:03 AM IST

भारत के ग्रीको रोमन पहलवान गुरप्रीत सिंह और सुनील कुमार को यहां चल रहे विश्व ओलंपिक क्वालीफायर्स में हार का सामना करना पड़ा इसके साथ ही वे ओलंपिक कोटा हासिल करने में असफल रहे। भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) ने विश्व ओलंपिक क्वालीफायर्स में ग्रीको रोमन इवेंट के लिए छह सदस्यीय टीम चुनी थी। हर भार वर्ग में फाइनल में पहुंचने वाले दो पहलवानों को टोक्यो ओलंपिक का टिकट हासिल होगा।

प्री क्वार्टर फाइनल में हारे
मुख्य कोच हरगोविंद सिंह को गुरप्रीत के पुरुष 77 किग्रा के फाइनल में पहुंचने की उम्मीद थी। उन्होंने शुरूआती मैच में ताजिकिस्तान के दालेर रेजा जादे को हराया था लेकिन प्री क्वार्टर फाइनल के मुकाबले में उन्हें अजरबैजान के राफिग हुसेनोव से 0-8 से हार का सामना करना पड़ा। गुरप्रीत पिछले महीने अलमाती में हुए एशियन ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट में भी पुरुष 77 किग्रा वर्ग में ओलंपिक कोटा हासिल करने से चूक गए थे। एशिया चैंपियन सुनील से ओलंपिक कोटा हासिल करने की उम्मीद थी लेकिन वह भी प्री क्वार्टर फाइनल मुकाबले में हार गए। उन्हें रूस के डेवित चाकवेताद्जे ने 2-3 से हराया।

यह भी पढ़ें— कुश्ती: एशियाई चैम्पियनशिप में विनेश फोगाट और अंशु मलिक ने पहली बार जीता गोल्ड मेडल

इनको भी करना पड़ा हार का सामना
60 किग्रा वर्ग में सचिन राणा को भी शुरूआती बाउट में बेलारूस के माकसिम काझारस्की से हार का सामना करना पड़ा जबकि आशु को 67 किग्रा वर्ग के प्री क्वार्टर फाइनल मुकाबले में हार झेलनी पड़ी। 97 किग्रा इवेंट में दीपांशु को पहले राउंड के मैच में हार का सामना करना ड़ा जबकि 130 किग्रा में भारत के नवीन कुमार कोरोना पॉजिटिव होने के कारण भाग नहीं ले सके। भारत ने फ्रीस्टाइल वर्ग में आठ ओलंपिक कोटा जीते जिसमें से चार महिला वर्ग में जीते हैं।

यह भी पढ़ें— कुश्ती : सीमा ओलंपिक कोटा हासिल करने से महज एक कदम दूर

कोच को थी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद
बता दें कि पंजाब के 26 वर्षीय पहलवान गुरप्रीत, अलमाटी में पिछले महीने आयोजित एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर के दौरान टोक्यो ओलंपिक खेलों का टिकट भी नहीं जीत सके थे। वहीं मुख्य कोच हरगोबिंद सिंह ने एशियाई ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट से पहले कहा था कि गुरप्रीत सोफिया इसमें अच्छा परिणाम हासिल करेंगे। बता दें कि एशियाई ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट में, गुरप्रीत ने प्रारंभिक दौर में कोरिया के 2016 ओलंपिक पदक विजेता कियोनोवो किम को 12-1 के बड़े अंतर से हराया था।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned