scriptCM's order was blown in the air by officers, do not transfer teachers | सीएम का आदेश भी हवा में उड़ाया, ठेके पर आदमी रखकर पढ़ा रहे शिक्षकों का अब तक नहीं किया ट्रांसफर | Patrika News

सीएम का आदेश भी हवा में उड़ाया, ठेके पर आदमी रखकर पढ़ा रहे शिक्षकों का अब तक नहीं किया ट्रांसफर

CM Order: भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान ग्रामीणों ने शिक्षकों की सीएम से की थी शिकायत, बताया था कि यहां के शिक्षकों ने बच्चों को पढ़ाने के लिए ठेके पर लोग रखे हुए हैं, वे खुद स्कूल नहीं आते हैं, सीएम ने मौके पर ही ऐसे शिक्षकों का तबादला करने अधिकारियों को दिए थे निर्देश

सुरजपुर

Published: June 21, 2022 09:14:53 pm

सूरजपुर. CM Order: मुख्यमंत्री के निर्देश के करीब 2 माह बाद भी बिहारपुर के एक भी शिक्षक का तबादला नही हुआ है। अलबत्ता तबादले के नाम पर शिक्षा विभाग (Education Department) में खेला होबे की तर्ज पर खेल जरूर हो रहा है। बाकायदा दुकानदारी चल रही है। बीते 7 मई को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) भेंट मुलाकात अभियान के दौरान भटगांव विधानसभा क्षेत्र के बिहारपुर पहुंचे थे, जहां के लोगों ने कई समस्याएं गिनाईं। इनमें शिक्षा व्यवस्था को लेकर भी शिकायत (Complaint) थी। ग्रामीणों ने बताया था कि यहां के स्कूलों में शिक्षक नही आते। कई स्कूल तो ऐसे है जहां शिक्षकों ने बच्चों को पढ़ाने के लिए ठेके पर आदमी रखे हंै। जो स्कूल आकर बच्चों को केवल अक्षर ज्ञान करा दे रहे है।
Teachers transfer
CM Bhupesh Baghel

ग्रामीणों की शिकायतों को सीएम ने काफी गम्भीरता से लिया और मौके पर ही मौजूद अधिकारियों को इस पर ध्यान देने को कहा था। लेकिन दूसरे दिन इस दौरे के बाद मुख्यमंत्री (CM) ने जब अधिकारियों की बैठक ली तो इस मामले में उन्होंने बेहद तल्ख अंदाज में शिक्षा विभाग की खिंचाई करते हुए कहा था कि यह कितना दुर्भाग्यपूर्ण है कि बिहारपुर क्षेत्र में एवजीदार पढा रहे है।
मुख्यमंत्री ने दो टूक शब्दों में शिक्षा विभाग से कह दिया था कि ऐसे शिक्षकों को तत्काल बदल दे। सीएम के इस निर्देश को लगभग दो माह होने को हंै पर शिक्षा विभाग पर कोई असर नहीं पड़ा। यही वजह है कि अब तक बिहारपुर के एक भी शिक्षक को न तो बदला गया है और न किसी पर कार्रवाई हुई है।
ऐसे में बिहारपुर के लोग यह कहने से नही चूक रहे हंै कि यहां पदस्थ शिक्षक बेहद पावरफुल हंै। जब सीएम से शिकायत के बाद भी उनका बाल बांका नही हो सकता तो फिर किससे उम्मीद करें।
यह भी पढ़ें
पनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटी


ग्रामीणों में मन में उठ रहे ये सवाल
ग्रामीणों के मन मे यह सवाल तब और उठ रहा है, जब सीएम के भेंट मुलाकात कार्यक्रम में अब तक सबसे ज्यादा कार्रवाई सूरजपुर जिले में ही हुई है। जहां जिला पंचायत सीईओ से लेकर डीएफओ, रेंजर, डॉक्टर सहित कई अन्य पर गाज गिरी है। पर शिक्षा विभाग पर सीएम के निर्देश का कोई असर नहीं है।
बिहारपुर क्षेत्र में वर्षों से शिक्षा का बुरा हाल है। यहां वर्षों से कई ऐसे शिक्षक जमे हंै जो स्कूल कभी नही जाते बल्कि वे खुद अम्बिकापुर व सूरजपुर आदि में रह कर नौकरी कर रहे हैं। यहां तक कई स्कूल तो ऐसे है जो खास मौकों पर ही खुलते हैं जैसे 15 अगस्त, 26 जनवरी।
यह भी पढ़ें
सड़क दुर्घटना में भाजयुमो नेता की मौत, नर्स की बद्सलूकी पर अस्पताल में हंगामा, एनएच पर चक्काजाम


विभाग में इस तरह का खेल
मुख्यमंत्री के आदेश (CM order) के बाद तबादले के नाम पर जमकर खेला हो रहा है। जहां एक भी शिक्षक नहीं वहां कोई पदस्थापना नही, जबकि जहां अतिशेष शिक्षक हैं, वहां फिर भेजे जा रहे हंै। यानी ऐसे स्कूल सड़क से लगे हुए हंै, यहां जाने के रेट तय हंै। कहीं-कहीं तो हालत यह है कि औसत बच्चे कम हैं, शिक्षक ज्यादा।
सूत्र बताते हैं कि इन स्कूलों में तबादले (Teachers transfer) के नाम पर बिचौलिए सक्रिय है। जो सड़क से लगे स्कूल में हैं, उन्हें गांव व दूरस्थ अंचल में भेज देने का खौफ है तो जो दूरस्थ में है, उन्हें इन सड़क से लगे स्कूलों में आना है। ओडग़ी ब्लॉक के लुल्ह, भुंडा, बैजनपाठ व खोहिर में एक शिक्षक है, जबकि भुंडा के एक पारा में तो एक भी शिक्षक नही है। ऐसा हाल जिले के कई अन्य गांव के स्कूलों का भी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

अरविंद केजरीवाल ने जारी किया मिस्ड कॉल नंबर, भारत को नंबर वन देश देखने वालों से की घंटी बजाने की अपीलCBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: मनीष सिसोदिया के घर CBI रेड के विरोध में प्रदर्शन कर रहे AAP कार्यकर्ताओं पुलिस ने हिरासत में लियाबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'बिलकिस बानो केसः 6000 से अधिक सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की रिहाई को रद्द करने की मांग कीMumbai: दही हांडी उत्सव के बीच मुंबई में बड़ा हादसा, बोरीवली इलाके में चार मंजिला इमारत ढही, कई लोगों के दबे होने की आशंकाक्यों मनीष सिसोदिया के घर पर CBI कर रही छापेमारी? जानिए क्या है पूरा मामलाअमित शाह का भोपाल दौरा, चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बनाएंगे खास रणनीतिJanmashtami 2022: मुंबई और ठाणे में इन जगहों पर लगी है सबसे उंची दही हांडी, 10 थर लगाने पर 21 लाख का इनाम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.