हॉर्ट अटैक के बाद तमिल एक्टर विवेक की हालत नाजुक, अस्पताल में भर्ती

By: पवन राणा
| Published: 16 Apr 2021, 02:26 PM IST
हॉर्ट अटैक के बाद तमिल एक्टर विवेक की हालत नाजुक, अस्पताल में भर्ती

तमिल एक्टर विवेक को हॉर्ट अटैक के बाद एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। घर पर बेहोश होने के बाद उनकी पत्नी और बेटी ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया। हाल ही में विवेक ने कोविड-19 वैक्सीन लगवाई थी।

मुंबई। तमिल एक्टर विवेक को सीने में हॉर्ट अटैक के चलते अस्पलात में भर्ती कराया गया है। एक प्राइवेट अस्पताल में डॉक्टर्स की टीम उनकी स्थिति को मॉनिटर कर रही है। 59 वर्षीय विवेक को इसीएमओ मशीन पर रखा गया है, जो ब्लड का संचरण कंट्रोल करती है। विवेक को शुक्रवार को ही अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।


बेटी और पत्नी ने पहुंचाया अस्पताल
रिपोर्ट्स के अनुसार, कॉर्डियक अरेस्ट के चलते विवेक घर में बेहोश हो गए थे और उनकी पत्नी और बेटी ने एक्टर को अस्पताल पहुंचाया। उन्हें इसी गुरुवार को कोविड—19 वैक्सीन की डोज भी लगवाई थी। हालांकि चिकित्सकों का कहना है कि कॉर्डिक अरेस्ट और वैक्सीन का आपस में कोई लिंक स्थापित नहीं किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : सिने जगत को एक ओर झटका, मशहूर अभिनेता का निधन

कमल हासन की 'इडियन 2' का रहे हिस्सा
चिकित्सकों के अनुसार विवेक का कार्डियक अरेस्ट के चलते अस्पताल में इलाज चल रहा है। बता दें कि विवेक को पिछली बार 'धाराला प्रभु' में देखा गया था। हरीश कल्याण स्टारर इस मूवी के रिलीज के सप्ताह के दौरान ही देशव्यापी लॉकडाउन लगा दिया गया था। इसलिए यह फिल्म थिएटर्स में अच्छा बिजनेस नहीं कर पाई थी। ये 2012 में आई बॉलीवुड फिल्म 'विकी डोनर' का तमिल रिमेक है। विवेक कमल हासन की फिल्म 'इंडियन 2' में भी नजर आए थे।

यह भी पढ़ें : मलयालम एक्टर Sabari Nath का निधन, बैडमिंटन खेलते हुए पड़ा दिल का दौरा

बोले थे- वैक्सीन ही बचाव का उपाय
वैक्सीन लगवाने के बाद एक्टर ने मीडिया को बताया था कि जो भी वैक्सीन के लिए योग्य हों, जरूर लगवाएं। उन्होंने कहा था कि लोगों को खुद को सुरक्षित रहने के लिए सुरक्षा उपाय करने चाहिएं। मास्क लगाएं, अपने हाथों को धोएं और एक-दूसरे से पर्याप्त दूरी बनाए रखें। वायरस से बचे रहने के लिए वैक्सीन ही मेडिकल उपाय है। आप भले ही आयुर्वेदिक, सिद्धा मेडिसन, विटामिन सी, जिंक टेबलेट या अन्य कुछ ले रहे हों। ये तो ठीक है, लेकिन ये सहायक उपाय हैं। वैक्सीन ही हमारे जीवन को बचा सकती है। अगर आप मुझसे पूछें कि वैक्सीन लगवाने वाले लोगों को कोविड संक्रमण नहीं होगा, तो ऐसा नहीं है। अगर आपको कोविड हो भी गया, तो मौत नहीं होगी। विवेक ने वैक्सीन लगवाने के बाद सोशल मीडिया पर चेन्नई के एक अस्पताल के स्टाफ और डॉक्टर्स को धन्यवाद भी दिया था।