चोर समझकर पीटने से हुई थी घायल रोगी की मौत, हनुमाननगर पुलिस ने किया पर्दाफाश

चोर समझकर पीटने से हुई थी घायल रोगी की मौत, हनुमाननगर पुलिस ने किया पर्दाफाश

Pawan Kumar Sharma | Updated: 20 Jul 2019, 02:54:10 PM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

Murder case संदिग्ध हालत में मिले घायल रोगी की लोगों ने चोर समझकर पिटाई कर दी थी, इसी वजह से उसकी मौत हुई।

 

देवली. शहर के कुंचलवाड़ा रोड पर गत दिनों संदिग्ध हालत में मिले घायल रोगी का मामला आखिरकार हत्या का निकला। पुलिस ने मामले का 24 घंटे में पर्दाफाश करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने घायल रोगी को चोर समझकर उसकी पिटाई कर दी थी, इसी वजह से उसकी मौत हुई।

 


हनुमाननगर थाना प्रभारी राजकुमार नायक ने बताया कि उक्त मामला मालेड़ा निवासी जयलाल गुर्जर की मौत से जुड़ा है, जिसकी हत्या के मामले में पुलिस ने कुंचलवाड़ा कला निवासी नीरज व भीमराज गुर्जर को गिरफ्तार किया है। शाहपुरा की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनुकृति ने बताया कि मामले में जयलाल के भाई केसरलाल ने हनुमाननगर थाने में हत्या का मामला दर्ज कराया था।

8 महीनों से भाभी का देह शोषण कर रहा था देवर, फिर एक दिन...

 

मामले में तीन अन्य आरोपी की पुलिस तलाश कर रही है। उल्लेखनीय है कि मालेड़ा निवासी जयलाल गुर्जर लीवर की बीमारी से ग्रसित था, जिसे परिजनों ने देवली अस्पताल में भर्ती कराया। लेकिन इस दौरान 15 जुलाई को जयलाल अपने साथ आई मां को बिना बताएं कुंचलवाड़ा मार्ग की तरफ निकल गया।

 

बाद में अगले दिन जयलाल कुंचलवाड़ा मार्ग पर संदिग्ध अवस्था में घायल मिला। पुलिस ने उसे तत्काल देवली अस्पताल भर्ती कराया। जहां से उसे जयपुर रैफर कर दिया। जहां जयपुर में जयलाल ने दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि कुंचलवाड़ा कलां निवासी नीरज गुर्जर ने ही एम्बूलेंस 108 को फोन कर घायल की सूचना दी।

 

नशे में चूर था गोविंद देवजी के भक्त को कार से उड़ाने वाला! सामने आए कई चौंकाने वाले खुलासे

 

 

इस पर पुलिस ने नीरज से पूछताछ की। पुलिस पड़ताल में नीरज के बयानों में विरोधाभास सामने आया है। इस पर पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो, उसने जयलाल के साथ मारपीट करना कबूल कर लिया।

 

थाना प्रभारी ने बताया कि पड़ताल में सामने आया कि जयलाल कुंचलवाड़ा रोड पर संदिग्ध घूम रहा था, जिसे चोर समझ नीरज, गौरीशंकर, लक्ष्मण दरोगा, ऋषिराज व भीमराज ने मारपीट कर दी। जिससे जयलाल के सिर पर चोट आई थी। वहीं मौके पर भी जयलाल का काफी रक्त बहा हुआ था। मामले में लक्ष्मण दरोगा, ऋषिराज गुर्जर व गौरीशंकर मीणा की गिरफ्तार बाकी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned