Anupama 22nd June 2021 Written Updates: नौकरी की वजह से वनराज-काव्या के बीच हुआ झगड़ा, गीता बाई लाएगी नया ट्विस्ट

By: Shweta Dhobhal
| Published: 22 Jun 2021, 09:21 AM IST
Anupama 22nd June 2021 Written Updates: नौकरी की वजह से वनराज-काव्या के बीच हुआ झगड़ा, गीता बाई लाएगी नया ट्विस्ट
Anupama 22nd June 2021 Written Updates Vanraj Kavya Fight

शो 'अनुपमा' में वनराज को नौकरी मिल गई है। जिससे काव्या बिल्कुल भी खुश नहीं है। वहीं गीता बाई के तेवर पूरे शाह परिवार को काफी परेशान कर रहे हैं। जानिए क्या होगा आज 'अनुपमा' शो के लेटेस्ट एपिसोड में।

 

 

नई दिल्ली। लंबे इंतजार के बाद वनराज को नौकरी मिल गई है। जिससे पूरा परिवार खुश है। वहीं दूसरी ओर कैफ की जॉब करने से काव्या भड़क जाती है और वनराज संग झगड़ने लगती है। वहीं दूसरी ओर काव्या की गीता बाई अपनी बदतमीजियों से बाज नहीं आ रही है। जानिए आज के लेटेस्ट एपिसोड में क्या होगा।

काव्या ने की बॉ से बदतमीजी

काव्या बॉ से बहस करती है। बॉ काव्या को समझाती है कि जिस तरह से तुम अपने पति को मसाले वाला खाना खाते हुए नहीं देख सकती। उसी तरह वो भी अपने बेटे को भूखा नहीं देख सकती। काव्या बॉ को ताना देती है कि वो उन्हें वनराज के साथ देख ही नहीं सकती है। एक काम वाली रख ली वो तक उन्हें बर्दाश्त तक नहीं है। बॉ और काव्या में काफी बहस होती है और काव्या को बॉ को लीची खाकर जुबान मिट्ठी करने की बात कहती है।

वनराज ने शेयर की काव्या संग जॉब की खबर

गुस्से में काव्या कमरे में जाती है। वनराज कमरे में काफी खुश बैठा होता है। वनराज काव्या से कहता है कि उसे कुछ बताना है। वनराज काव्या को बताता है कि उसे नई नौकरी मिल गई है। काव्या कहती है उसी छोटी कंपनी में। वनराज काव्या को बताता है कि उसे दोस्त एक कैफ खोल रहा है। उसे उसने मार्किटिंग हेड की पॉजिशियन ऑफर की है। ये बात सुनकर काव्या भड़क जाती है और कहती है कि इतनी बड़ी कंपनी में काम करने के बाद अब वो छोटी सी कंपनी में काम करेगा।

 

बाबू जी को सता रही है वनराज की चिंता

अनुपमा बाबू जी को दवाई खिलाती है। इसी दौरान वो अनुपमा कहते हैं कि लड़ाई होगी। काव्या और वनराज के बीच लड़ाई होगी। अनुपमा बाबू जी से कहती है कि पति और पत्नी के बीच नहीं बोल सकते। वहीं दूसरी ओर काव्या और वनराज के बीच झगड़ा शुरू हो जाता है। काव्या वनराज को ताना देती है कि छोटी कंपनी में काम करने से मेहनत भी ज्यादा लगती है और कंपनी में मुनाफा होगा भी या नहीं ये भी पक्का नहीं है। साथ ही सैलरी का भी कोई भरोसा नहीं है। वनराज बताता है कि ये बात सुनकर उनका पूरा परिवार खुश हुआ।

अनुपमा पर उतरा काव्या का गुस्सा

वनराज बताता है कि ये सुनकर अनुपमा भी काफी खुश हुई थी। ये सुनकर काव्या भड़क जाती है और कहती है कि अनुपमा अनपढ़ है और अब तुम उसकी बात मानोओगे। वनराज कहता है कि वो अनपढ़ नहीं है। काव्या ये सुनकर कहती है कि अगर वो इतनी ठीक थी तो फिर वो उनके पास क्यों आए।

 

यह भी पढ़ें- Anupama 21th June 2021 Written Updates: काव्या की नई नौकरानी की घर में हुई एंट्री, गीता बाई के तेवर से हिला पूरा शाह परिवार

वनराज पहुंचा परिवार के पास

वनराज चाय पीने अपने परिवार के पास चला जाता है। तभी काव्या भी जाती है। वो वनराज के लिए ग्रीन टी और सैंडविच बनवाती है। तभी तोषो सभी के लिए समोसे, कचौड़ी और जलेबी ले आता है। ये देख पूरा परिवार भी खुश हो जाता है। वनराज के मुंह में पानी आने लगता है। तभी वनराज अनुपमा के हाथ से समोसे और कचौड़ी की प्लेट को छीन लेता है। जिसे देख काव्या गुस्सा हो जाती है।

यह भी पढ़ें- Anupama 18th June 2021 Written Updates: काव्या के तेवर देख परेशान हुआ वनराज, नौकरानी को लेकर घर में हुआ जमकर हंगामा

गीता बाई ने भड़काया काव्या को

गीता बाई कपड़े संभालते हुए काव्या के कमरे में आती है और कहती है अनुपमा की तारीफ करते हुए कहती है कि वो कैसे इतना काम कर लेती है। काव्या सुन लेती है और कहती है कि वो पैसा काम करने के लिए देती है। अनुपमा की तारीफ के लिए नहीं। ये देख गीता समझ जाती है कि काव्या गुस्सा हो गई है। गीता फिर अपने सुर बदलते हुए काव्या को वनराज के परिवार के खिलाफ भड़काने लगती है। गीता काव्या से कहती है कि ये पूरा परिवार और उनकी एक्स पत्नी पूरा दिन वनराज साहब के पास घूमते रहते हैं। ऐसे में कैसे वो उनके पास आएंगे। गीता काव्या को वनराज को प्यार से काबू में करने की बात बताती है।

गीता बाई की बड़ी बदतमीजी

बॉ सुबह-सुबह पूजा कर रही होती हैं और गीता बाई के खर्राटे उन्हें परेशान कर रहे होते हैं। बॉ परेशान होकर गीता को घंटी बजाकर उठाने आती है। जिसे सुनकर गीता परेशान हो जाती है। अनुपमा ये देखती है और बॉ से रोकने के लिए कहती है। अनुपमा गीता को कहती है कि उसे सोना है आंगने में चली जाए। तभी गीता उठकर बॉ पर गुस्सा उतराने लगती है और खरी खोटी सुनाने लगती है। गीता कहती है कि इस औरत ने उनका जीना मुश्किल कर दिया है। ये सुनकर अनुपमा गीता को चुप रहने को कहती है।

( Pre- वनराज की नई नौकरी की खबर से काव्या बिल्कुल भी खुश नहीं है। जिसकी वजह से दोनों में खूब लड़ाई होती है। वहीं दूसरी ओर गीता बाई अनुपमा परिवार वालों के खिलाफ काव्या के कान भरते हुए नज़र आएंगी। )