निर्दलीयों के हाथ में 'आईना, बल्ले के साथ मैदान में जनता सेना

nagar palika news कांग्रेस और भाजपा ने साधा मोर्चा, आवंटित चुनावी चिन्ह के साथ प्रत्याशियों की घर-घर दस्तक तेज

उदयपुर/ कानोड़. nagar palika news नामांकन वापसी के साथ ही कानोड़ नगर पालिका के चुनाव में किस्मत आजमा रहे प्रत्याशियों ने मतदाता को रिझाने के लिए घर-घर दस्तके के साथ 'संगीतधुनÓ बजानी शुरू कर दी है। इससे पहले निर्वाचन विभाग ने तय कार्ययोजना के तहत उम्मीदवारों को चुनाव चिन्न आवंटित किए। पिछली बार के चुनाव में 'भाग्यÓ बनकर आया चुनावी चिन्ह बल्ला एक बार फिर से जनता सेना के हिस्से में आया है। पुराने अनुभव के साथ चुनावी मैदान में एक बार फिर जनता सेना हर 'बॉलÓ के साथ चुनावी चौका मारने की तैयारी में जुटी है। वहीं निर्दलीय उम्मीदवार मीरा को भी इस बार भी प्रेस चिन्ह आवंटित हुआ है। निर्दलीयों में शामिल रोशनलाल कर्णावत को चूल्हा तो मनोज को किस्मत की आलमारी का चुनाव चिन्ह नसीब हुआ है। कांग्रेस, भाजपा, जनता सेना के साथ निर्दलीयों को आवंटित निशान के बाद स्थानीय गली-मोहल्लों में समर्थकों के साथ नेताओं की हर घर पर दस्तक तेज हो गई है। कुछ जगहों पर उम्मीदवार पुराने गिले-शिकवों को भुलाते हुए दूर रहे किरदारों को मनाने में जुटे हैं। वहीं कुछ उम्मीदवार इस दौड़ में दूसरे प्रतिद्वंदी उम्मीदवार के घर की चौखट पर जाकर दरवाजा खटखटाने के परंपरागत फंडे को भी भुनाने में लगे हैं। कुल 20 वार्ड से करीब 63 उम्मीदवार इस बार के चुनावी मैदान में भाग्य आजमाने को आतुर हैं। हालांकि, इनमें से कुछ चेहरे तो वार्ड में दूसरे उम्मीदवार को सबक सिखाने में भी लगे हैं। राजनीतिक द्वेष के बीच कुछ उम्मीदवार तो इसलिए चर्चा में हैं कि वह मतदाताओं के बीच खुद को वोट नहीं डालने की बात कहते हुए दूसरे को भी वोट नहीं डालने की नसीहत दे रहे हैं। राजनीतिक प्रतिस्पद्र्धा के बीच मतदाता अच्छे और बुरे प्रत्याशी को लेकर असमंजस की स्थिति में बना हुआ है। दूसरी ओर त्रिकोणीय मुकाबले के बीच राजनीतिक संगठनों के समीकरण लगातार गड़बड़ाते दिख रहे हैं। बता दें कि आगामी 16 नवंबर की सुबह 7 बजे से शाम पांच बजे के बीच निर्वाचन विभाग की ओर से मतदान का समय तय हैं। 19 नवम्बर को मतगणना के बाद चुनावी परिणामों की घोषणा की जाएगी।

वादों से दिलाशा

चुनावी दंगल में कांग्रेस, भाजपा, जनता सेना जैसे राजनीतिक संगठन के प्रतिनिधि और निर्दलीय उम्मीदवार मतदाताओं के बीच जाकर लोगों को वादों का जुमला थमा रहे हैं। जनता सेना की ओर से पान खेती को सरकार के सहयोग से फिर से शुरू करने सहित विकास का वादा किया जा रहा है। भाजपा की ओर से कस्बे के तालाब में कमल खिलाने व विकास की गंगा लाने का ख्वाब भुनाया जा रहा है। कांग्रेस की ओर से लोगों को उनकी समस्याओं का समाधान कराने और सत्ता के साथ रहकर वोट मांगने की राजनीति हो रही है। गली-मोहल्लों में बैनरों के माध्यम से भी लोगों को रिझाने के प्रयास दम भर रहे हैं। हालांकि, वादों का सच कितना है ये तो वक्त बताएगा, लेकिन इतना सही है कि मतदाता इस चुनाव में बोर्ड के माध्यम से क्षेत्र विकास की पहल को लेकर उम्मीदवार के चेहरों को तलाश रहा है।

त्रिकोणीय मुकाबले में हिस्सेदार
भाजपा, कांग्रेस के साथ ही स्थानीय दल जनता सेना की मौजूदगी से चुनावी दंगल में त्रिकोणीय मुकाबले के हालात बन रहे हैं। एक ओर कांग्रे और भाजपा राष्ट्रीय राजनीतिक दल हैं तो जनता सेना की स्थानीय पैठ और पिछली बार में चुनावी अनुभव, बड़े राजनीतिक दलों के लिए चुनौती बने हुए हैं। जनता सेना ने चार पूर्व पार्षदों को मौका देकर राजनीतिक गलियारों में चर्चा का माहौल बना रखा है। पुराने चेहरों के नाम पर कांग्रेस में एक नाम सामने आया है, पूर्व पालिका उपाध्यक्ष सुशीला टेलर भी मैदान में हैं। भाजपा ने सभी नए चेहरों पर भरोसा जताया है। कांग्रेस में वार्ड संख्या दो से नम्रता सोलंकी तो वार्ड 19 में उनके पति दिलीप सिंह पर भरोसा जता रही है। जनता सेना व भाजपा ने आठ-आठ तो कांग्रेस ने सात महिला प्रत्याशियों के भरोसे चुनावी जीत पर दांव खेला है।

कांग्रेस के कर्णधार
वार्ड 1 से नरेन्द्र सिंह बाबेल , वार्ड से 2 नम्रता कुंवर सोलंकी , वार्ड 3 से गोपाल खटीक , 4 से चंदा देवी मीणा , वार्ड 5 से अणसी मीणा, वार्ड 6 से लालूराम मीणा, 7 से रेखा कुवंर चौहान, वार्ड 8 से सुनील चौबीसा, वार्ड 9 से योगेश जोराली, वार्ड 10 से भरत वैष्णव , वार्ड 11 से सुशीला टेलर, वार्ड 12 से राजू बाई मेघवाल, वार्ड 13 से अनिल सुथार , वार्ड 14 से भैरूलाल, वार्ड 15 से बाबूलाल रेगर , वार्ड 16 से सुरेन्द्र मुर्डिया, वार्ड 17 से बृजेश रेगर, वार्ड 18 से सोनिया बागवान, वार्ड 19 से दिलीपसिंह सोलंकी, वार्ड 20 से अनिल कोठारी के भरोसे कांग्रेस चुनावी मैदान में है।

भाजपा का आधार
वार्ड 1 से राजेन्द्र व्यास , वार्ड 2 से माया वैष्णव , वार्ड 3 से दौलत राम, वार्ड 4 से केसर मीणा , वार्ड 5 से दुर्गा मीणा , वार्ड 6 से गुड्डी बाई मीणा, वार्ड 7 से भगवती बाई व्यास, वार्ड 8 से दीपक प्रसाद शर्मा, वार्ड 9 से लोकेश पुरोहित, वार्ड 10 से दौलतराम भोई, वार्ड 11 से शालू जैन, वार्ड 12 से लालीबाई मेघवाल, वार्ड 13 से लक्ष्मीलाल ओड़ , वार्ड 14 से हितेन्द्र सुथार , वार्ड 15 से तेज प्रकाश रेगर, 16 से गिरधारी लाल स्वार्णकार , 17 से प्रभुलाल खटीक , 18 से शिल्पा मोदी , वार्ड 19 ललित तंबोली , वार्ड से 20 अखिलेश त्रिवेदी को भाजपा ने जीत का आधार बनाया है।

जनता सेना के सिपहसलार
वार्ड 1 से मनोहर सिंह चौहान , वार्ड 2 से सरिता , वार्ड 3 से केलाश चन्द्र , वार्ड 4 से प्रतापी बाई , वार्ड 5 से बसंती बाई मीणा , वार्ड 6 से हीरा कुमारी मीणा , वार्ड 7 से प्रेम देवी , वार्ड 8 से मनोज शर्मा , वार्ड 9 से ललित कुमार , वार्ड 10 से बजरंग दास वैष्णव , 11 से राज कुमारी कामरिया, वार्ड 12 से सीमा मेघवाल, 13 से लोकेश कुमार सुथार, 14 से कैलाश चन्द्र , वार्ड से 15 पन्नानान रेगर , वार्ड 16 से प्रकाश लक्षकार , वार्ड 17 से कोमल चौधरी, वार्ड 18 से भारती चौधरी, वार्ड 19 से भवानी सिंह चौहान, वार्ड 20 से पारस नागौरी को सिपाही बताते हुए जनता सेना ने जीत का दम भरा है।

आवंटित किए चुनाव चिन्ह
निर्वाचन विभाग की ओर से सभी संगठनों के प्रतिनिधियों के अलावा निर्दलीयों को उनके चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिए गए हैं। nagar palika news

शैलेश सुराणा, रिटर्निंग अधिकारी, कानोड़

Show More
Sushil Kumar Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned