scriptअब शिप्रा समेत मध्य प्रदेश की ये नदियां सवारी जाएंगी, विशेष अभियान शुरु कर रहे हैं सीएम मोहन | Shipra River Conservation Madhya Pradesh these rivers including Shipra will also used for Conservation promotion and restoration CM Mohan yadav start special campaign today | Patrika News
उज्जैन

अब शिप्रा समेत मध्य प्रदेश की ये नदियां सवारी जाएंगी, विशेष अभियान शुरु कर रहे हैं सीएम मोहन

Shipra River Conservation : गंगा दशहरा पर्व पर 15 और 16 जून को होंगे विभिन्न सांस्कृतिक आयोजन, जल संरचनाओं के संरक्षण की शपथ लेंगे सभी जनप्रतिनिधि। शिप्रा के पावन तट पर उठेंगी संस्कृति की लहर, मुख्यमंत्री ओढ़ाएंगे चुनर।

उज्जैनJun 13, 2024 / 09:46 am

Faiz

Shipra River Conservation
Shipra River Conservation : मध्य प्रदेश की धर्म नगरी उज्जैन से गुजरने वाली मां शिप्रा के पावन तट पर प्रदेश की सभी नदी और जल संरचनाओं के संरक्षण, संवर्धन और पुनरुद्धार के लिए जनजागरण की अलख जगेगी। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव शिप्रा का पूजन कर चुनर ओढ़ाएंगे, वहीं सभी जनप्रतिनिधि जलाभिषेक अभियान की शपथ भी लेंगे। शिप्रा घाट पर दो दिन सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजन की लहरें उठेंगी और जलराशियों के संरक्षण का संदेश देंगी।
गंगा दशहरा पर्व पर 15 और 16 जून को मां शिप्रा तीर्थ परिक्रमा का आयोजन होगा। दोनों दिन रामघाट पर विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। ये कार्यक्रम शिप्रा तीर्थ परिक्रमा समिति उज्जैन, मध्य प्रदेश विज्ञान और प्रौद्योगिकी परिषद भोपाल, मप्र जनजातीय लोक कला एवं बोली विकास एकेडमी भोपाल, शिप्रा गंगा दशहरा महोत्सव समिति उज्जैन, श्री विशाल सांस्कृतिक एवं लोकहित समिति पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, नगरीय आवास एवं विकास विभाग, संस्कृति विभाग, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग, जनसंपर्क विभाग, विक्रम विश्वविद्यालय, जिला प्रशासन, उज्जैन विकास प्राधिकरण, नगर निगम और महाराजा विक्रमादित्य शोध पीठ के सहयोग से मध्य प्रदेश शासन द्वारा आयोजित किए जाएंगे। इसके अलावा संत श्री ढ़ोली बुआ के द्वारा 22 जून तक नारदीय कीर्तन औक श्री हरि कथा का वाचन रोज शाम 8 बजे से शिप्रा गंगा माता मंदिर रामघाट पर किया जा रहा है।
यह भी पढ़ें- Bhojshala ASI Survey : खुदाई में निकला 3 फीट के स्तंभ का हिस्सा, हिंदू पक्ष ने किया बड़ा दावा

कब क्या कार्यक्रम होंगे

15 जून

शनिवार को शाम 6 बजे रामघाट पर भजन संध्या होगी। युवा भजन गायक ध्रुव शर्मा- स्वर्ण श्री (मथुरा) और तृप्ति शाक्या (प्रयागराज) भजनों की प्रस्तुति देंगे।

16 जून

रविवार को दत्त अखाड़ा रामघाट पर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव शिप्रा तीर्थ परिक्रमा के श्रद्धालुओं के साथ मां शिप्रा को चुनरी अर्पण और पंचामृत अभिषेक करेंगे। मुख्यमंत्री द्वारा मध्यप्रदेश की नदियों और जल संरचनाओं के संरक्षण, संवर्धन पुनरुद्धार को समर्पित जलाभिषेक अभियान का जनप्रतिनिधियों और प्रदेशवासियों के साथ संकल्प लिया जाएगा। प्रदेश में पहली बार सैटेलाइट मैपिंग के साथ उज्जैन की नदियों की समग्र जानकारी पर आधारित ग्रंथ शिप्रा अमरता का आह्वान, शिप्रा अमृत संभवा, सदानीरा (जल का उत्सव) शिप्रा तीर्थ परिक्रमा पुस्तकों व सदानीरा अंबुनी ऑडियो वीडियो सीडी का लोकार्पण किया होगा। संत श्री ढ़ोली बुआ व कलाकारों का सम्मान होगा। मथुरा रमन रति आश्रम के श्री स्वामी शरणानंद महाराज का प्रबोधन होगा। जल संबंधी जनपदीय गीतों का गायन होगा जो निमाड़ी, बुंदेली, बघेली और अन्य बोलियों पर केंद्रित रहेगा। मुंबई की पार्श्व गायिका रिचा शर्मा की भक्ति संध्या का आयोजित होगी।
यह भी पढ़ें- यह भी पढ़ें- दूषित पानी पीने से एक साथ 76 लोग बीमार, 1 युवक की मौत पर मचा हड़कंप, अलर्ट मोड पर रखीं 3 जिलों की एम्बुलेंस

कलेक्टर व एसपी ने किया निरीक्षण

Shipra River Conservation
कलेक्टर नीरज कुमार सिंह व एसपी प्रदीप शर्मा ने बुधवार सुबह शिप्रा तीर्थ परिक्रमा मार्ग का भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने 16 जून को प्रस्तावित शिप्रा तीर्थ मार्ग के रूट का भ्रमण किया। उन्होंने दत्तअखाडा से रणजीत हनुमान, कालभैरव, भैरवगढ़ सिद्धनाथ, अंगारेश्वर, कमेड, मंगलनाथ, सान्दीपनी आश्रम, राम मंदिर, गढक़ालिका, भृतहरीगुफा, ऋणमुक्तेश्वर, वाल्मीकि धाम पहुंच मां शिप्रा परिक्रमा समिति के सदस्यों से व्यवस्थाओं के संबंध में चर्चा की। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि घाटों की साज सज्जा और लाइटिंग का कार्य तेजी से पूर्ण कराएं।

Hindi News/ Ujjain / अब शिप्रा समेत मध्य प्रदेश की ये नदियां सवारी जाएंगी, विशेष अभियान शुरु कर रहे हैं सीएम मोहन

ट्रेंडिंग वीडियो